Home » उत्तर प्रदेश » लखनऊ: IPS अमिताभ ठाकुर धमकी मामले में प्रोटेस्ट प्रार्थनापत्र दायर

लखनऊ: IPS अमिताभ ठाकुर धमकी मामले में प्रोटेस्ट प्रार्थनापत्र दायर

Ips amitabh thakur case

10 जुलाई 2015 को यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायम सिंह यादव द्वारा आईपीएस अफसर अमिताभ ठाकुर को मोबाइल से दी गयी कथित धमकी के सम्बन्ध में पुलिस द्वारा लगायी गयी अंतिम रिपोर्ट के खिलाफ आज अमिताभ द्वारा सीजेएम लखनऊ कोर्ट में प्रोटेस्ट प्रार्थनापत्र दायर किया गया। इस प्रार्थनापत्र में उन्होंने कहा है कि मात्र मुलायम सिंह यादव के राजनैतिक और सामाजिक रसूख के कारण पुलिस के उनके दवाब में आ कर अमिताभ के साथ घोर अन्याय किया है, जबकि विवेचना से फोन करने की बात सत्यापित हुई है। सीजेएम आनंद प्रकाश सिंह ने प्रोटेस्ट प्रार्थनापत्र पर सुनवाई हेतु दिनांक 03 दिसंबर 2018 की तिथि निर्धारित की है।

पुलिस ने दाखिल की थी रिपोर्ट :

इससे पूर्व विवेचक सीओ बाज़ारखाला अनिल कुमार यादव ने पूर्व विवेचक उपनिरीक्षक कृष्णानंद तिवारी द्वारा इस मामले में 12 अक्टूबर 2015 को प्रेषित किये गए अंतिम रिपोर्ट का समर्थन करते हुए 09 अक्टूबर 2018 को पुलिस रिपोर्ट सीजेएम कोर्ट में प्रेषित किया था। साथ ही उन्होंने फर्जी अभियोग दर्ज कराये जाने के संबंध में अमिताभ के खिलाफ धारा 182 आईपीसी में कार्यवाही की भी संस्तुति की थी।

मुलायम ने किया था इंकार :

अपनी आख्या में अनिल यादव ने कहा था कि सीजेएम कोर्ट के आदेश पर वे मुलायम सिंह के आवास गए थे जहाँ मुलायम सिंह ने अपनी आवाज़ का नमूना देने से इंकार कर दिया। हालाँकि उन्होंने स्वीकार किया कि यह उन्ही की आवाज़ है। विवेचक ने कहा कि मुलायम सिंह ने बताया कि मैंने मात्र बड़े होने के नाते अमिताभ को समझाया था। मेरी मंशा उन्हें धमकी देने की नहीं थी, अमिताभ द्वारा बढ़ा-चढ़ा कर आरोप लगाया गया है।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Shashank Saini

Related posts

सीतापुर के निर्दोष कुत्तों को बचाने के लिए LAWF ने निकाली बाइक रैली

Shiv Vishwakarma

भाजपाई कार्यकर्ता कह रहे ‘मेरा बूथ, हुआ चकनाचूर’: अखिलेश यादव

UP News Desk

एलडीए के रेंट अनुभाग की 150 फाइलें गायब

Bharat Sharma