Home » उत्तर प्रदेश » लोकसभा चुनावों के बीच क्षत्रिय और राजपूत लोधी समाज आमने सामने

लोकसभा चुनावों के बीच क्षत्रिय और राजपूत लोधी समाज आमने सामने

Dhruv Pratap Singh Arrested for Lodging Comment on Another in Elections

लोकसभा चुनाव 2019 में एक दूसरे पर अमर्यादित टिप्पणी और बयानबाजी करने में नेता महारथ हासिल कर चुके हैं। कहीं चुनावी जनसभाओं में तीखी बयानबाजी तो कहीं सोशल मीडिया साइट्स पर कूद को ऊँचा और दूसरों को नीचा दिखाने के लिए धड़ल्ले से बयानबाजी हो रही हैं। ताजा मामला ललितपुर जिला का है। यहां क्षत्रिय समाज और राजपूत लोधी समाज के लोग एक दूसरे के आमने सामने आ गए हैं। यहाँ आचारसंहिता होने के वाबजूद पुतला दहन करने और धारा 144, के उल्लंघन में करणी सेना के युवा जिला अध्यक्ष धुव्र प्रताप सहित 7 नामजद और 20 अज्ञात लोगों के विरुद्ध महरोनी पुलिस ने किया धारा 188 में मामला पंजीकृत किया है। जबकि ध्रुव प्रताप सिंह को देर रात्रि पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। वहीं, उमाभारती के फोटो फेसबुक पर अपलोड कर अभद्र टिप्पणी करने के आरोप में लोधी समाज की शिकायत पर कुंवर रुद्रप्रताप सिंह बुन्देला पर धारा 505ग (2), 153A, 188 और 84B आईटीएक्ट में मामला सदर कोतवाली में पंजीकृत किया गया है।

बताते चले कि एक समाज पर दो दो मुकद्दमा लिखने और उमाभारती की अमर्यादित टिप्पणी ने भाजपा के परम्परागत माने जाने वाले दो समाजो को आमने सामने ला दिया है। जहाँ क्षत्रिय समाज ने खुलकर भाजपा का बिरोध करने का ऐलान कर दिया है और साथ ही इहां तक कह दिया है कि उमाभारती भोपाल या अन्य कही से भी चुनाव लडेगी तो क्षत्रिय समाज और करणी सेना उनका खुला बिरोध करेगी। लगातार हो रहे डेमेज कन्ट्रोल को रोकने के और क्षत्रिय समाज को मनाने के लिये बुन्देलखण्ड विकास बोर्ड के अध्यक्ष मानवेन्द्र सिंह कल महरोनी पहुंचे और डेमेज कन्ट्रोल का प्रयास किया पर क्षत्रिय समाज पर लिखे गये दो दो मुकद्दमो ने उनकी मुश्किलें बडा दी हैं इन मुकद्दमो ने आग में घी का काम किया क्षत्रिय समाज में बिरोध और आक्रोश बडी तेजी से जोर पकड रहा है।

तो वही राजपूत समाज भी भाजपा से नाराज दिख रहा हैऔर इसने भी 19अप्रेल को बानपुर में एक बडी बैठक का आयोजन किया है बैठक आयोजित करने वाले रहीस राजपूत के अनुसार सैकडो की तादात में लोधी समाज के सक्रिय कार्यकर्ता सपा बसपा गठबंधन में शामिल होगे। देखना है उमा भारती की एक अमर्यादित टिप्पणी की एक चिंगारी कितनी दूर तलक जाती है और किसको कितना लाभ या नुकसान पहुचाती है।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sudhir Kumar

Related posts

प्लास्टिक बैन: 2000 से ज्यादा हैं पॉलिथीन फैक्ट्रियां और 100 करोड़ की इंडस्‍ट्री

Shashank

सपा के शासनकाल में तहसील तक बिकती थी, बोले सीएम योगी

Kamal Tiwari

केजीएमयू में आयोजित हुआ योग प्रदर्शन एवं प्रशिक्षण शिविर

Shivani Awasthi

Leave a Comment