भ्रष्टाचारी देश छोड़कर भाग रहे ‘चौकीदार’ एक शब्द नहीं बोलता: राहुल गांधी

Rahul gandhi attacks on BJP against corruption in Amethi

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गाँधी दो दिवसीय दौरे पर अमेठी में है। अपने संसदीय क्षेत्र में दौरे के पहले दिन राहुल गांधी अमेठी के जैंनबगंज ने किसानों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं से रूबरू हुए। इस दौरान किसानों के साथ बैठक करने के बाद राहुल गांधी ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी पर जमकर हमला बोला। मंच से लोगों को किया संबोधित कहा कि सड़कों का काम मैंने कराया लेकिन श्रेय कोई और लेना चाहता है। वहीं नीरव मोदी, ललित मोदी छोटा मोदी और बड़ा मोदी बताया। कहा कि नरेन्द्र मोदी दोनों को जानते है इसीलिए अपने भाषण के दौरान कभी दोनों का जिक्र नहीं किया। इस दौरान राहुल गाँधी डोकलाम मुद्दे पर कहा कि चाइना ने अपनी आर्मी डाला नरेंद्र मोदी के मुंह से एक शब्द नहीं निकला।

भ्रष्टाचारियों को जानते हैं मोदी

नरेंद्र मोदी सरकार ने हिंदुस्तान के 15 सबसे अमीर लोगों का ढाई लाख करोड़ रुपया माफ कर दिया। जब देश के वित्त मंत्री अरुण जेटली से पूछा गया कि आपने सबसे 15 अमीर लोगों का ढाई लाख करोड़ रुपया माफ कर दिया है तो आप थोड़ा सा पैसा हिंदुस्तान के यूपी के अमेठी के किसानों का कर्जा माफ कर दो। तब जेटली का जवाब मिला कि हिंदुस्तान के पार्लियामेंट में किसान का कर्जा माफ करना हमारी पॉलिसी में नहीं है। नीरव मोदी 20 हजार करोड़ पर विजय माल्या, 9 हजार करोड़ एक के बाद एक भ्रष्टाचारी भाग रहे हैं और देश का चौकीदार एक शब्द नहीं कहता। कभी आप ने नरेंद्र मोदी के भाषण में नीरव मोदी, ललित मोदी का जिक्र सुना नरेंद्र मोदी एक दूसरे को जानते हैं छोटा मोदी बड़ा मोदी। जब डोकलाम में चाइना ने अपनी आर्मी डाला नरेंद्र मोदी के मुंह से एक शब्द नहीं निकला।

नहीं आए आज तक 15 लाख रूपये

मोदी ने कहा था अच्छे दिन आने लेकिन 4 साल बीतने के बाद भी किसानों के अच्छे दिन नहीं आए। बीजेपी के आने के बाद किसानों को सिर्फ नुकसान ही उठाना पड़ा है। वहीं मोदी के 15 लाख रूपये खाते में आने के आने को लेकर दिए गए बयान पर तंज कसते हुए कहा कि 15 लाख रूप्ये खाते में आने थे लेकिन आज तक नहीं आए। कहा था कि दो करोड़ लोगों को रोजगार मिलेगा लेकिन आज तक किसी को रोजगार नहीं मिला।

ये भी पढ़ेंः उन्नाव रेप केस: रेप पीड़िता ने कहा मुझे सीबीआई के कार्रवाई पर पूरा भरोसा

ये भी पढ़ेंः आशुतोष टंडन ने दिया प्राविधिक शिक्षा विभाग के एक साल का ब्यौरा

Related posts

सीतापुर में दूल्हे ने पेश की मिसाल: बिना दहेज के थाने में की शादी

Sudhir Kumar

वाराणसी: भारतीय सेना में नये 132 जवानों की टोली शामिल

Sudhir Kumar

सफलतम लोकतंत्र के रूप में भारत की पहचान: मनोज सिन्हा

Kamal Tiwari

Leave a Comment