अमेठी: विकास के नाम पर मिलेगी गांव की सत्ता.

अमेठी: विकास के नाम पर मिलेगी गांव की सत्ता.

अमेठी: त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव की तिथि की घोषणा होने के बाद निर्वाचन प्रक्रिया भी शुरू हो गई है। ऐसे में गांव का चुनावी माहौल भी पूरे चरम पर है। मैदान में उतरे दावेदार मतदाताओं को अपने पक्ष में करने के लिए विकास के बड़े-बड़े दावे करने लगे हैं। इस दफा पंचायत चुनाव में युवा जोश के साथ खड़े हैं। पहली बार वोटिग करने जा रहे युवाओं का कहना है कि इस बार गांव की सत्ता सिर्फ विकास करने वाले के हाथों में सौंपी जाएगी। युवा वर्ग विकास के मुद्दे में शिक्षा व स्वास्थ्य को प्राथमिकता दे रहे हैं।
पंचायत चुनाव में पहली बार मतदान करने का अवसर मिलेगा। गांव में विकास करने वाले उम्मीदवार को ही वोट दूंगा। चुनाव के समय मैदान में उतरे हर दावेदार विकास की बात तो करते हैं, लेकिन जीतने के बाद विकास का रास्ता भूल जाते हैं। ऐसे में सिर्फ विकास कार्य करने वाले उम्मीदवार को ही वोंटिग कर अपने मत का सही इस्तेमाल करेंगे।
ग्राम पंचायतों में शिक्षा, स्वास्थ्य व खेलकूद के क्षेत्र में कार्य करने वाले के हाथ सत्ता सौंपी जाएगी। गांव की सत्ता ऐसे उम्मीदवार के हाथ में देंगे, जो इन बिदुओं पर प्राथमिकता से विकास करने की बात कहेगा। – दीपांजलि सिंह, कस्थुनी पूरब, मुसाफिरखाना.

सत्ता की डोर उसी को सौंपी जाएगी जो सिर्फ विकास की बात करेंगे। विकास के नाम पर लोगों को गुमराह करने वाले को वोट नहीं करेगें- अवधेश प्रताप, नारा अढ़नपुर मुसाफिरखाना.

विकास काम कराने वाले को ही गांव की सत्ता सौंपी जाएगी। पहली बार लोकतंत्र में भागीदारी करने का मौका मिला है। ऐसे में सही उम्मीदवार का चयन कर वोट दिया जाएगा। इस बार के पंचायत चुनाव में हम लोग बढ़-चढ़कर मतदान करेंगे, जिससे गांव का विकास करने वाला उम्मीदवार सत्ता पर काबिज हो सके और गांव का समुचित विकास किया जा सके। – एकता सिंह, कस्थुनी पूरब मुसाफिरखाना.

इस बार पहली बार मतदान करने का अवसर प्राप्त होगा। ये मेरे लिए सौभाग्य की बात है। हम बहुत खुश और उत्साहित है। गाँव का समग्र विकास कराने वाले को वोट करेगें- शुभम सिंह.नारा अढ़नपुर मुसाफिरखाना

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें
Next Post