Home » उत्तर प्रदेश की स्थानीय खबरें » सहारनपुर में हुए पत्रकार हत्याकांड मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता

सहारनपुर में हुए पत्रकार हत्याकांड मामले में पुलिस को मिली बड़ी सफलता

Saharanpur journalist murder case

लखनऊ-  सहारनपुर में पत्रकार आशीष कुमार धीमान (24) और उनके भाई आशुतोष कुमार धीमान (20) की हत्या के मामले में पुलिस को बड़ी सफलता  हाथ लगी है। मामले में एक नया मोड़ आया है जहा पुलिस ने इस मामले के तीन आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

  • जानकारी के अनुसार आरोपितों की गिरफ्तारी मुजफ्फरनगर में तितावी थाना क्षेत्र से हुई है।
  • पकड़े गए आरोपितों में मुख्य आरोपित महिपाल सैनी (45) और उसके दो बेटे सूरज (21) व सन्नी (19) शामिल हैं, जबकि एक नाबालिग पुत्र अभी पुलिस की पकड़ से फरार है।
  • आरोपितों के कब्जे से एक लाइसेंसी बंदूक, एक राइफल और इनकी निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त दो तमंचे भी बरामद हुए हैं।

हत्या के बाद 25-25 हजार रुपए का इनाम था घोसित 

  • घटना के बाद पुलिस ने इस मामले में फरार चारों आरोपितों पर 25-25 हजार रुपए का इनाम घोषित किया  गया था
  • देशभर के पत्रकारों ने एक मामले को लेकर संबंधित अधिकारियों को आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए ज्ञापन भी दिया है।
  • वही पुलिस की कई टीमें संभावित स्थानों पर दबिश देकर आरोपितों की तलाश में जुटी हुई थीं।
  • पुलिस ने अभी  महिपाल की पत्नी विमलेश व बेटी को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है।
  • विमलेश को जेल, जबकि बेटी को सोमवार को बाल संप्रेक्षण गृह, नोएडा भेज दिया गया था।
  • हत्यारोपित के हवाले से एसएसपी ने दावा किया कि उधार के 20 हजार रुपए न चुका पाने के कारण हत्याकांड को अंजाम दिया गया।

 सहारनपुर में हुए पत्रकार हत्या मामले में एसपी ने क्या कहा

  • एसएसपी दिनेश कुमार पी के मुताबिक, पूछताछ में पता चला है कि महिपाल वर्ष 2011 में पुराना सहारनपुर के माधोनगर में आकर बसा था।
  • इसके बाद आशीष के पिता परिवार के साथ इस मोहल्ले में आए थे।
  • 2015 में मकान में निर्माण कराने के लिए आशीष ने महिपाल से 50 हजार रुपए उधार लिए थे।
  • इसमें से 30 हजार रुपए वह लौटा चुका था
  • जबकि शेष रकम 500 रुपए प्रति महीना लौटाने की बात कही थी।
  • इसके बाद ही इनके बीच रंजिश शुरू हो गई।
  • 20 हजार रुपए न लौटाने के कारण ढाई-तीन साल से दोनों परिवारों के बीच बोलचाल भी बंद थी।

पुलिस के दावे के अनुसार, गोबर बहाने को लेकर था मामला

  • पुलिस के दावों के अनुसार, रविवार सुबह नाले में गोबर बहाने को लेकर हुए झगड़े के दौरान दोनों पक्षों के बीच पथराव भी हुआ।
  • इसी के चलते महिपाल व उसके बेटों ने गोली मारकर आशीष व आशुतोष की हत्या कर दी।

छोटी सी बात को लेकर पत्रकार के बीच हुई थी लड़ाई

  • गौरतलब है कि मौहल्ला माधव नगर में रहने वाले आशीष व उनके भाई की पड़ोस में रहने वाले महिपाल से लड़ाई हो गई थी।
  • इसके बाद आरोपितों ने घर में घुसकर आशीष व उनके भाई को मौत के घाट उतार दिया गया था
  • आशीष दैनिक जागरण से पहले साथ ही हिन्दुस्तान और जनवाणी अखबार में भी काम कर चुके थे।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

तेज़ रफ़्तार ट्रक ने महिला को रौंदा। महिला की मौके पर मौत। गुस्साये लोगों ने हमीरपुर कानपुर हॉइवे किया जाम। गुस्साये लोगों ने वैन में की तोड़ फोड़। पुलिस ने ट्रक चालक को किया गिरफ्तार। घाटमपुर थाना क्षेत्र के कुरौरा की घटना।

Ashutosh Srivastava

कौशाम्बी-यातायात माह का शुभारम्भ आज

kumar Rahul

बलरामपुर: पुलिस कस्टडी से हत्यारोपी कैदी फरार

UP ORG Desk