Home » उत्तर प्रदेश की स्थानीय खबरें » वाराणसी : मैं बस इतना ही जानता हूं कि मेरा भाई ईमानदार है-प्रह्लाद मोदी

वाराणसी : मैं बस इतना ही जानता हूं कि मेरा भाई ईमानदार है-प्रह्लाद मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी वाराणसी पहुंचे पराड़कर स्‍मृति भवन में उन्‍होंने प्रेस वार्ता करते हुए उत्तर-प्रदेश सरकार पर भ्रष्‍टाचार के आरोप लगाए।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के भाई प्रह्लाद मोदी वाराणसी पहुंचे पराड़कर स्‍मृति भवन में उन्‍होंने प्रेस वार्ता करते हुए उत्तर-प्रदेश सरकार पर भ्रष्‍टाचार के आरोप लगाए।

  • उन्होंने कहा उत्तर-प्रदेश में केंद्र सरकार के निर्देशो का पालन यूपी सरकार नही कर रही है।
  • फेयर प्राइस एसोसिएशन के अध्यक्ष एवं ऑल इंडिया फेयर प्राइस शॉप डीलर फेडरेशन के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट प्रहलाद मोदी ने कहा कि भारत सरकार द्वारा 2013 में फूड सिक्‍योरिटी एक्‍ट पास किया परन्तु यूपी सरकार उस आदेश के तहत कार्रवाई नहीं कर रही है।
  • उत्तर-प्रदेश सरकर के अधिकारियों पर फूड सेफ्टी एक्ट के तहत प्रति डोर स्टेप डिलवरी के नाम पर यूपी की सरकार कोटेदारों का पैसा खा रही है।
  • पीएम मोदी के भाई ने कहा राफेल डील मामले पर लगातार उन्होंने कहा ”मैं बस इतना ही जानता हूं कि मेरा भाई ईमानदार है।”
  • वही राम मंदिर पर उन्होंने कहा राममंदिर निर्माण होना चाहिए अध्यादेश लाने के बात पर प्रहलाद मोदी ने कहा कि इसके बारे सरकार व मीडिया वाले जाने। इन सब पर मैं नही पड़ता। जो करना है सरकार को करना है। सरकार जाने
  • मैं तो शक्कर बेचने वाला शक्कर बेचता है, गेहूं बेचना है।
  • हाँ पर मैं हिन्दू हूँ और ये मेरी आस्था का विषय है, इसलिए मैं सोच रखता हूँ कि मंदिर बनना चाहिए।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Vivek Kumar

Related posts

हापुड़ -मामूली विवाद में जमकर चले धारदार हथियार

kumar Rahul

बेटे की हत्या की गवाह महिला को मारी गोली, घटना के वक्त पुलिस का गनर भी मौजूद था, महिला की हालत गंभीर, अस्पताल में भर्ती, गवाहों को नहीं बचा पा रही पुलिस, अपराधियों का तांडव, हाहाकार जारी.

Ashutosh Srivastava

10 हजार के इनामी के हमले का मामला, अपने मामा पर किया था जानलेवा हमला, हमले में 6 लोग हुए थे घायल, रजपुरा थाने से इनामी है बदमाश मुकेश, इनामी सहित 6 पर मुकदमा किया दर्ज, बहजोई थाने के गांव कुंवरपुर का मामला।

Ashutosh Srivastava