Home » उत्तर प्रदेश की स्थानीय खबरें » बाराबंकी: रिश्वत मांगने पर ग्रामीणों ने की लेखपाल की जमकर पिटाई

बाराबंकी: रिश्वत मांगने पर ग्रामीणों ने की लेखपाल की जमकर पिटाई

Barabanki: On the demand of bribe, villagers beat the writer fiercely

उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जनपद के एक ग्रामीण की भूमि दूसरे का नाम दर्ज होने के मामले में हल्का लेखपाल द्वारा रिश्वत मांगने के मामले में ग्रामीणों ने लेखपाल को घेरा। मौके पर पहुंचे पुलिस व राजस्व प्रशासन की टीम ने लेखपाल को वहां से छुड़ाया ग्रामीणों ने रुपए लेने का वीडियो बनाकर किया वायरल। आक्रोशित ग्रामीण तहसील पहुंचकर तहसीलदार को शिकायती पत्र देकर लेखपाल के विरुद्ध कार्यवाही की मांग किया है।

क्या है पूरा प्रकरण-:

मामला तहसील अंतर्गत ग्राम किंतूर से जुड़ा हुआ है जहां आज हल्का लेखपाल हरिप्रसाद गांव गए हुए थे। और लोगों का काम निपटा रहे थे ग्रामीण राजेश कुमार ने अपनी गाटा संख्या 585 को बेच दिया था जिसको लेखपाल ने कनीज फातिमा के नाम दाखिल खारिज करके उसके अन्य गाटा संख्या उसी के नाम कर दिया लेखपाल ने कनीज फातिमा के नाम उसके गाटा संख्या 670, 696 ,705 को खतौनी पर दर्ज करा दिए इसके संबंध में गांव के लेखपाल से राजेश कुमार ने अपनी बात बताई।
तो लेखपाल ने उसे सही करने के लिए ₹5000 मांगे इसके एवज में राजेश कुमार ने ₹1000 देकर काम निपटाने की बात कही किंतु लेखपाल नहीं माने ,इसी बीच किसी ग्रामीण में पूरे प्रकरण की वीडियो बना ली।

ग्रामीणों ने बनाया लेखपाल को बधंक-

वहां एकत्रित ग्रामीणों ने लेखपाल को घेर लिया। तब लेखपाल ने वही से तहसील प्रशासन और पुलिस को इसकी सूचना दी । उप निरीक्षक राज किशोर दुबे व राजस्व निरीक्षक हुकुम सिंह उपजिलाधिकारी की गाड़ी से वहां पहुंचे ग्रामीणों को समझाने के बाद किसी तरह ग्रामीणों ने उन्हें छोड़ा इसके बाद गुस्साए ग्रामीणों ने तहसील पहुंचकर तहसीलदार धर्मेंद्र कुमार सिंह को एक लिखित शिकायती पत्र सौंपा। तहसीलदार ने ग्रामीणों को आश्वस्त किया कि मामले की जांच कराकर कार्रवाई की जाएगी ।इस संबंध में तहसीलदार धर्मेंद्र कुमार सिंह ने बताया की संबंधित लेखपाल को नोटिस जारी कर दी गई है एक हफ्ते के अंदर उनसे जवाब मांगा गया है। तथा शिकायतकर्ता से भी अपने साक्ष्यों को उपलब्ध कराने के लिए कहा गया है यदि मामला सही पाया गया तो कार्रवाई की जाएगी।

बोलें जिम्मेदार-

जब इस मामले में सिरौलीगौसपुर एसडीएम संतोष कुमार ने बताया कि मामला हमारे संज्ञान में नहीं ,अगर लेखपाल द्वारा पैसा लिया गया है, तो उसके खिलाफ कार्यवाही की जायेगी।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : दिलीप तिवारी

Related posts

थाना बनियाठेर इलाके के जंगल मे 1 दर्जन गौ वंशीय पशुओं के शव मिले, मृत पशुओं में 6 गायों के शव, हिन्दू संगठनो के कार्यकर्ता मौके पर पहुंचे, पुलिस मौके पर, गौ तस्करों पर रासुका लगाने के बाबजूद नही रुक रही गौ तस्करी।

Ashutosh Srivastava

नमकीन बनाने की फैक्ट्री पर छापा, मालिक मौके से हुआ फरार

kumar Rahul

सराय अकिल थाना क्षेत्र के फ़कीरबाद गाँव मे पति पत्नी के विवाद में दोनो ने लगाई आग, दोनो गंभीर जिला अस्पताल में भर्ती,  हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने एसआरएन इलाहाबाद रेफर कर दिया।

Ashutosh Srivastava