Home » उत्तर प्रदेश की स्थानीय खबरें » क्षत्रिय महासभा ने सारनाथ एक्सप्रेस को रोककर किया पद्मावती का विरोध

क्षत्रिय महासभा ने सारनाथ एक्सप्रेस को रोककर किया पद्मावती का विरोध

  • इलाहाबाद
  • फिल्म पद्मावती के रिलीज का विरोध जारी,
  • अखिल भारतीय क्षत्रिय महासभा ने सारनाथ एक्सप्रेस को रोककर किया प्रदर्शन,
  • फिल्म का रिलीज रोके जाने की कर रहे मांग.
  • इतिहास को तोड़ मरोड़ कर पेश करने का आरोप.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

कलेक्ट्रेट परिसर में किसानों ने एकत्र हो किया बैठक का आयोजन, जिस को संबोधित करते हुए विमल दुबे ने कहा कि गन्ना किसानों की हर समस्या का समाधान किया जाएगा, यदि फिर भी कोई समस्या किसानों के सामने आती है तो उसका तत्काल निराकरण किया जाएगा.

Ashutosh Srivastava

इलाहाबाद-अवैध कच्ची शराब को लेकर आबकारी विभाग का छापा

kumar Rahul

हाईकोर्ट में, गम्भीर बीमारी से पीड़ित अध्यापको के तबादले में 5 वर्ष सेवा की बाध्यता नियम में छूट देने की मांग में दाखिल याचिकाओं की सुनवाई 12 अप्रैल को होगी। राज्य सरकार व् बेशिक शिक्षा परिषद की तरफ से यह कहते हुए सुनवाई टालने की मांग की गयी कि अध्यापको के तबादले के ऑनलाइन आवेदन जमा करने की तिथि समाप्त हो चुकी है और तबादले की प्रक्रिया शुरू हो चुकी है। ऐसे में यदि हस्तक्षेप किया गया तो पूरी तरह से क्यास हो जायेगा। इस पर कोर्ट ने 12 अप्रैल की तिथि नियत की है। यह आदेश न्यायमूर्ति एम सी त्रिपाठी ने अनुरुद्ध कुमार त्रिपाठी व् अन्य कई लोगोंकी याचिकाओं पर दिया है।याचियों का कहना है कि वे गम्भीर बीमारी से ग्रस्त है। सरकार ने विवाहित अध्यापिकाओं को 5 वर्ष तक तबादला न करने के नियम से छूट दी है। एक याची की किडनी खराब है। इलाज कराने के लिए उसका भी तबादला किया जाय। याचिका में नियम 8 (2) डी की वैधता को चुनौती दी गयी है। विभासिंह कुशवाहा केस में कोर्ट ने महिला अध्यापिकाओं को छूट दी है। इसलिए याचियों को भी छूट दी जाय।

Ashutosh Srivastava