Home » उत्तर प्रदेश की स्थानीय खबरें » महात्मा गाँधी की 150वी जयंती पर अखिलेश यादव का संबोधन

महात्मा गाँधी की 150वी जयंती पर अखिलेश यादव का संबोधन

150th birth anniversary of Mahatma Gandhi

गांधी जी की 150वी जयंती पर तमाम आयोजन हो रहे है।

राष्ट्रपिता महात्मा गाँधी जी को पूरा देश दुनिया याद करती हैं।

आम लोग, किसान,गरीब सब जातिभेद भुलाकर बापू को आज याद कर रहे है।

इस गांधी आश्रम से गांधी जी का भावनात्मक जुड़ाव तो था ही उन्होंने देश के गरीब लोगों को जोड़ने का काम किया।

बापू ने खादी को जन – जन से लेकर ऊँचाई तक पहुँचाया।

देश की आजादी के लिए अपना पूरा जीवन निछावर कर दिया।

साउथ अफ्रीका से न्याय के खिलाफ संघर्ष शुरू कर भारत मे आकर आजादी दिलाई।

पूरी दुनिया मे चाहे पोलिटिकल लोग हो , समाजसुधारक हो, बापू का उदाहरण देते है।

बापू के जीवन को बताते है।

नई पीढ़ी को बापू के जीवन से सीखने की जरूरत है और सत्य, अहिंसा का रास्ता व सरकार के खिलाफ जो लड़ने का तरीका था जो उन्होंने अपनाया।

उनके सिद्धान्तों को हम उतार लें तो हमारा समाज और देश खुशहाली के रास्ते पर चलेगा। – अखिलेश यादव

योगी सरकार के 36 घण्टे के सत्र पर अखिलेश यादव का बयान।

जो मीटिंग हुई उसमे सभी दलों को बुलाया गया था । जिसमे तय हुआ था कि 48 घण्टे सत्र चलेगा लेकिन हमारी सरकार से नाराजगी है क्यो 48 से 36 घण्टे सत्र कर दिया गया।

हम उनके बीच क्यो जाए जो राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के रास्ते पर ना चलते हो।

बीजेपी का सत्य का रास्ता नही है अहिंसा का रास्ता नही, हम बापू जी व उनके सहयोगियों के इसी सिद्धान्त को याद करते है बीजेपी को बताना चाहिए वो कहा पर खड़ी है।

बीजेपी हर एक को अपना रही है सदन में हमने सुना डॉ लोहिया को अपना लिया बीजेपी ने, हर एक को अपनाने का काम चल रहा है लेकिन बीजेपी इनके सिद्धान्तों पर नही चलती। अपने जीवन मे इन्हें नही उतारा।

गाय बीजेपी की माँ है लेकिन इस बाढ़ में कितनी गाय मर गई।

खादी की जगह बैठा हूँ बीजेपी के लोग कपड़े अच्छे पहनते है लेकिन खादी को अपने जीवन मे कितना उतारा है। –

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

बोर्ड परीक्षाओं के लिए जिले में बनाये गए 174 परीक्षा केंद्रों में 56 संवेदनशील, 8 अति संवेदनशील, 8 अति संवेदनशील केंद्रों पर लगाये जायेंगे स्टेटिक मजिस्ट्रेट, परीक्षा केंद्रों पर कक्ष निरीक्षकों की लगाई जाएगी नाम से ड्यूटी, फर्जी कक्ष निरीक्षक व अनुपस्थिति पर कार्यवाही में मिलेगी बड़ी सफलता, पहले लगाइए जाते थे गिनती से कक्ष निरीक्षक।

Ashutosh Srivastava

लखनऊ : समाजवादी पार्टी ने विधानसभा उप चुनाव 2019 के लिए प्रत्याशियों की घोषणा की

Nisha Tiwari

मेरठ : कचहरी परिसर को बम से उड़ाने की दी धमकी

Bhupendra Singh Chauhan