Home » उत्तर प्रदेश की स्थानीय खबरें » सुप्रीम कोर्ट की इच्छामृत्यु पर गाइडलाइन के बाद लिविंग विल का देश मे पहला मामला कानपुर में, कानपुर के एक अधिवक्ता ने इच्छामृत्यु के लिए वसीयत (लिविंग विल) लिखी। अधिवक्ता ने वसीयत रजिस्ट्रार आफिस में कराइ रजिस्टर्ड. 

सुप्रीम कोर्ट की इच्छामृत्यु पर गाइडलाइन के बाद लिविंग विल का देश मे पहला मामला कानपुर में, कानपुर के एक अधिवक्ता ने इच्छामृत्यु के लिए वसीयत (लिविंग विल) लिखी। अधिवक्ता ने वसीयत रजिस्ट्रार आफिस में कराइ रजिस्टर्ड. 

सुप्रीम कोर्ट की इच्छामृत्यु पर गाइडलाइन के बाद लिविंग विल का देश में पहला मामला जिले में, अधिवक्ता ने वसीयत रजिस्ट्रार आफिस में कराई रजिस्टर्ड.

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

ओवरलोड डीसीएम अनियंत्रित होकर पलटा, चालक और परिचालक को आई चोट, टला बड़ा हादसा, डीसीएम पलटने से हाइवे पर लगा लंबा जाम, आरटीओ और पुलिस विभाग की मिली भगत से ओवरलोडिंग का चलता है पूरा खेल, पैसे लेकर पास हो रही ओवरलोड गड़िया अक्सर बनती है हादसों का सबब, कोतवाली उन्नाव के दही चौकी क्षेत्र की घटना।

Ashutosh Srivastava

बीजेपी के संगठन महामंत्री सुनील बंसल का कार्यक्रम, फूलपुर उपचुनाव को लेकर सुनील बंसल करेंगे बैठक, पार्टी पदाधिकारियों के साथ करेंगे बैठक, दो जनसभाओं को भी करेंगें सम्बोधित।

Ashutosh Srivastava

पीएम ही झूट बोलेंगे तो जनता की कौन सुनेगा: मुलायम सिंह यादव

UP ORG Desk