Home » क्राइम » महिला अस्पताल में बनी पानी की टंकी पर चढ़ा पीड़ित परिवार

महिला अस्पताल में बनी पानी की टंकी पर चढ़ा पीड़ित परिवार

Woman Climbed On Water Tank With Family in Woman Hospital Hardoi

उत्तर प्रदेश के हरदोई जिला में प्रशासनिक अधिकारियों/कर्मचारियों से परेशान होकर एक पीड़ित परिवार (एक महिला चार पुरुष) गुरुवार सुबह महिला अस्पताल में बनी पानी की टंकी पर चढ़ गया। पानी की टंकी पर चढ़कर पीड़ितों ने जमकर हंगामा काटा। टंकी पर पूरा परिवार चढ़ने से वहां हड़कंप मच गया और प्रशासनिक अधिकारियों के हाथ-पांव फूल गए। पीड़ित परिवार टंकी से कूदकर जान देने की कोशिश कर रहा था। आनन-फानन में सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और सभी को घंटों मनाने का प्रयास किया, लेकिन वह नीचे उतरने को एकदम तैयार नहीं थे। पुलिस काफी मशक्कत करके सभी को नीचे उतारने का प्रयास कर रही थी। जब घंटों बाद सभी नीचे उतरे तो पुलिस और अधिकारियों ने राहत की सांस ली। परिवार के टंकी पर चढ़ने से आसपास भारी संख्या में लोगों की भीड़ इकट्ठी हो गई। पीड़ित परिवार के सभी सदस्य टंकी से कूदकर आत्महत्या करने की बात कह रहा था। फिलहाल पुलिस और प्रशासनिक अधिकारी पूरे मामले की तफ्तीश में जुटे हुए थे।

दबंगों ने घर में घुसकर पीटा, महिला से छेड़छाड़ कर कपड़े फाड़े

पीड़ित रामेश्वर पुत्र परशुराम निवासी छोली वरिया थाना सुरसा ने बताया कि उसके गांव के रहने वाले राजेश, विपिन कुमार, विष्णु सक्सेना, नीरज, लेखपाल, भूरा और महेश ने उसके परिवार वालों को जबरन मारा पीटा था। इस संबंध में मुकदमा भी कोर्ट में चल रहा है। अभी न करने एवं जबरदस्ती मनमाने ढंग से सुला का दबाव विपक्षीगण पीड़ित पर लगातार डाल रहे हैं। विपक्षीगण की ये बात पीड़ितों ने नहीं मानी तो इसलिए रंजिशन 12 मार्च 2019 की रात करीब 9:00 बजे विपक्षीगणों ने एक राय होकर अपने हाथों में लाठी डंडे लेकर पीड़ित के घर में घुस आए और सभी को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा। पीड़ित की पत्नी पार्वती को भी पीटा और उसके कपड़े फाड़ दिए और छेड़छाड़ करने लगे। किसी तरह शोर मचाकर पीड़ितों ने इज्जत बचाई और 100 नंबर डायल किया। लेकिन कोई कार्यवाही नहीं हुई। सभी जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीड़ितों का कहना है कि अपराधी खुलेआम घूम रहे हैं और धमकी दे रहे हैं। लेकिन स्थानीय थाने की पुलिस अपराधियों से मिली हुई है। इसके चलते उन पर कोई कार्यवाही नहीं कर रहा है। फिलहाल न्याय न मिलने के कारण महिला अस्पताल में बनी टंकी पर चढ़े और यहां से कूदकर खुदकुशी करने की धमकी देने लगे। इस पर जिला प्रशासन और पुलिस के अधिकारी मौके पर पहुंचे। बहुत ही समझा बुझाकर सभी को नीचे उतारा। इसके बाद पूरा मामला शांत हुआ। पुलिस अधिकारियों ने पीड़ित को कार्यवाही का आश्वासन दिया है।

इनपुट- मनोज तिवारी

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sudhir Kumar

Related posts

आजमगढ़: हत्या के लिये आया शार्प शूटर राजन पासी साथियों सहित गिरफ्तार

Sudhir Kumar

वीडियो: किशोरी ने खोली बाराबंकी पुलिस के दारोगा की पोल

Sudhir Kumar

भाजपा विधायक पर केस, प्रमुख सचिव और डीजीपी ने की संयुक्त प्रेसवार्ता

Sudhir Kumar

Leave a Comment