Home » क्राइम » पुष्कर हत्याकांड में 4 आरोपियों को पुलिस ने उठाया

पुष्कर हत्याकांड में 4 आरोपियों को पुलिस ने उठाया

राजधानी के बक्शी का तालाब (बीकेटी) थाना क्षेत्र में पिछले महीने हुए पुष्कर सिंह हत्याकांड में पुलिस ने चार अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है। बताया जा रहा है कि पुलिस की पूछताछ में इनमें से एक आरोपी ने अपना जुर्म कबूल लिया है जबकि तीन ने गुनाह नहीं कबूला है। पकड़े गए युवकों के घरवालों ने पुलिस पर फर्जी पकड़ने का आरोप लगाया है। युवकों के परिजनों का आरोप है पकड़े गए सभी लोगों को चेयरमैन ने अपने घर बुलाया था और पुलिस से गिरफ्तार करवा दिया। परिजनों ने पुलिस पर टॉर्चर और थर्ड डिग्री का इस्तेमाल कर जुर्म कबूल करवाने का आरोप लगाया है। फ़िलहाल पुलिस इस मामले में अभी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

थर्ड डिग्री टॉर्चर कर गुनाह कबूल कराने का आरोप

  • बता दें कि इस सनसनीख़ेज हत्याकांड की विवेचना इटौंजा थाने को ट्रांसफर हो गई।
  • इटौंजा पुलिस ने पड़ताल के दौरान देवराई कला निवासी दुर्गेश सिंह पुत्र अशोक सिंह, हिमांशु द्विवेदी पुत्र सुनील द्विवेदी, अर्जुन प्रजापति पुत्र तेजी प्रजापति और मनीष सिंह पुत्र मिट्ठू सिंह को हिरासत में लिया है।
  • पुलिस सूत्रों के अनुसार दुर्गेश ने अपना जुर्म कबूल लिया है।
  • जबकि बाकी तीन आरोपियों ने अपना जुर्म नहीं कबूला है।
  • वहीं परिजनों का कहना है कि पकड़े गए सभी आरोपी चेयरमैन अरुण सिंह गप्पू के करीबी थे।
  • सभी को चेयरमैन ने शनिवार को बुलाया था और शाम करीब 5:00 बजे पुलिस को बुलाकर गिरफ्तार करवा दिया।
  • रिजनों का आरोप है कि मुख्य आरोपियों को पुलिस गिरफ्तार नहीं कर रही है वह खुलेआम घूम रहे हैं।
  • आरोप है कि पुलिस ने पैसे खा लिए हैं इसके चलते बेगुनाहों को टॉर्चर करके गुनाह कबूल करवाया जा रहा है।
  • आरोप ये भी है जब परिवार वाले इटौंजा थाने पहुंचे तो पुलिस ने गालियां देकर भगा दिया।
  • आरोप है कि पुलिस पकड़े गए आरोपियों के घरवालों को भी परेशान कर रही है इसके चलते लोग घर छोड़कर भाग गए हैं।
  • पुलिस थाने के भीतर मीडियाकर्मियों को भी नहीं घुसने दे रही है। हालांकि इस संबंध में थाना प्रभारी इटौंजा ने बताया कि कुछ लोगों को पूछताछ के लिए लाया गया है।
  • पूछताछ में कुछ अहम बातें निकलकर सामने आईं हैं। पुलिस खुलासे के लिए काम कर रही है जल्द ही इस हत्याकांड का खुलासा किया जायेगा।

क्या है पूरा घटनाक्रम?

  • गौरतलब है कि बीकेटी थाना क्षेत्र के छोटी देवरई निवासी पुष्कर सिंह (25) पुत्र नारायण सिंह भाजपा के चेयरमैन पद के प्रत्याशी अरुण सिंह उर्फ़ गप्पू का निजी ड्राईवर था।
  • पुष्कर भाजपा प्रत्याशी के साथ दिन रात क्षेत्र में जाकर वोट मांगता था। घरवालों के अनुसार, पुष्कर रोज की तरह 16 नवंबर को सुबह घर से निकला था।
  • लेकिन देर रात तक घर वापस नहीं लौटा।
  • परिजनों ने समझा कि वह नेता जी के साथ होगा।
  • लेकिन जब 17 नवंबर को सुबह उसकी हत्या की खबर मिली तो घर में कोहराम मच गया।
  • पुष्कर का शव महिपतपुर गांव के बाहर 26 नंबर ट्यूबेल के पास पड़ा मिला था।
  • हत्यारे मृतक का दाहिना कान भी हत्यारे काट ले गए थे।
  • घटना स्थल पर बियर की बोतलें भी पड़ी मिलीं थीं।
  • मृतक के गले पर चाकू के घोंपने के निशान मिले थे।
  • साथ ही आंख में और माथे पर चोट के जख्म मिले थे।
  • घटना स्थल पर खून से लथपथ गमछा और घास पर निशान संघर्ष की कहानी बता रहे थे।
  • वहां नहाने गए ग्रामीणों ने जब रक्तरंजित शव पड़ा देखा तो 100 नंबर डॉयल करके पुलिस को सूचना दी थी।
  • सूचना के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और मामले की पड़ताल शुरू की।
  • पुलिस ने कई साक्ष्यों बताया जा रहा है कि मृतक के साथ 3 लोग और थे पुलिस इन लोगों का पता लगाने का प्रयास कर रही है।
  • एसएसपी दीपक कुमार ने बताया था कि पूछताछ में पता चला है कि मृतक रात को पुरनिया स्थित मौना बियर शॉप पर बियर पीने गया था, यहां तीन लोगों ने शराब पी।
  • इसके बाद बियर खरीदकर साथ ले गए।
  • मृतक के ज्यादा नशे की हालत में होने के बाद घटना को अंजाम दिया गया था।
  • पुलिस बियर शॉप के आसपास लगे सीसीटीवी फुटेज से हत्यारों तक पहुंची।
  • एसएसपी ने बताया कि हत्याकांड का जल्द खुलासा कर आरोपियों को सलाखों के पीछे पहुंचाया जायेगा। 
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

जानकीपुरम में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 2 महिला सहित 4 गिरफ्तार

Sudhir Kumar

मथुरा: भाजपा विधायक पूरन प्रकाश के काफिले पर जानलेवा हमला

Sudhir Kumar

विहिप की धर्मसभा में साधु के भेष में घुस सकते हैं ‘आतंकी’, सुरक्षा बढ़ाई गई

Sudhir Kumar

Leave a Comment