Home » क्राइम » डिप्टी सीएम आवास के बाहर पेड़ पर चढ़कर फरियादी युवक का हंगामा

डिप्टी सीएम आवास के बाहर पेड़ पर चढ़कर फरियादी युवक का हंगामा

Man Climbed on Tree outside CM Yogi Residence Threatens Suicide

राजधानी लखनऊ के गौतमपल्ली क्षेत्र स्थित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सरकारी आवास पांच कालिदास मार्ग के बाहर उस समय हड़कंप मच गया जब एक फरियादी अपनी समस्या की सुनवाई ना होने पर पेड़ पर चढ़ गया। युवक के पेड़ पर चढ़ते ही पुलिस और प्रशासन के हाथ पांव फूल गए। युवक पेड़ के ऊपर से कूदकर जान देने की धमकी दे रहा था। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। आनन-फानन में सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और युवक को मनाने का प्रयास करती रही, लेकिन वह नीचे उतरने को एकदम तैयार नहीं था। पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों की घंटों की मशक्कत के बाद युवक नीचे उतरा। तब जाकर पुलिस और अधिकारियों ने राहत की सांस ली। पुलिस युवक से पूछताछ कर आगे कार्रवाई कर रही है। इस घटना को देखकर मौके पर सैकड़ों लोगों की भीड़ इकठ्ठा हो गई। वहां अफरा-तफरी का माहौल बना रहा।

डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्या के घर के बाहर चढ़ा था युवक

जानकारी के मुताबिक, घटना गौतमपल्ली थाना क्षेत्र की है। यहां अलीगढ़ का रहने वाला सख्स उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य के सरकारी निवास 8 कालिदास मार्ग के बहार एक पेड़ पर चढ़ गया। दोपहर करीब 13:00 बजे जैसे ही युवक पेड़ पर चढ़ा तो वहां हड़कंप मच गया। मौके पर प्रशासनिक अधिकारियों ने पुलिस की मदद से बड़ी मुश्किल से युवक को नीचे उतारा। युवक के नीचे उतरने के बाद सभी ने राहत की साँस ली। पूछताछ में युवक ने बताया कि उसकी बहन सुमन शर्मा की 32 बीघा जमीन कासिमपुर पॉवर हॉउस गांव में एक कंपनी ने निवासी ने धोखाधड़ी करके अपने नाम करवा ली है।

दबंगों ने कोल्ड्रिंक में बहन को नशीला पदार्थ पिलाकर हड़पी जमीन

पीड़ित सत्यप्रकाश शर्मा का आरोप है कि दबंगों ने कोल्ड्रिंक में बहन को नशीला पदार्थ पिला दिया और हस्ताक्षर बनवा लिए। उन्हें जब होश गया तो वह दंग रह गई। पीड़ित न्याय के लिए दर दर भटक रहा है। उसकी कोई सुनवाई नहीं हो रही है। इसके चलते वह सोमवार को न्याय की आस में लखनऊ पहुंचा और न्याय के लिए पेड़ पर चढ़ गया। पीड़ित ने आरोप लगाया कि बैनामा कृषि कार्य दिखाकर फर्जी तरीके से करवा लिया गया। जबकि बिल्डिंग में कमर्शियल कार्य हो रहे हैं। पीड़ित ने बताया कि अधिकारी कह रहे हैं कि तुमने खुद बैनामा करवाया है तुम्हारी बहन के हस्ताक्षर भी हैं। लेकिन पीड़ित की कोई सुनने को तैयार नहीं है।

जनसुनवाई पोर्टल पर लगाई फर्जी आख्या, समस्या का दिखाया गया निस्तारण

पीड़ित सत्यप्रकाश ने बताया कि पूरा अलीगढ़ प्रशासन दबंगों से मिला हुआ है। उसकी कोई नहीं सुन रहा है। उसने तीन बार जनता दरबार में शिकायत करके न्याय की गुहार लगाई। लेकिन अधिकारी जनसुनवाई पोर्टल पर अधिकारी फर्जी आख्या लगाकर बैनामा कराने की बात कह रहे हैं। पीड़ित का आरोप है कि दबंग भू-माफिया से मिलीभगत होने के कारण अधिकारी इस मामले में निजी रुचि ले रहे हैं। पीड़ित ने मुख्यमंत्री के जनसुनवाई पोर्टल पर भी शिकायत दर्ज करवाई लेकिन यहां से न्याय तो नहीं मिला। परंतु फर्जी आख्या लगाकर मामले का निस्तारण दिखा दिया गया।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sudhir Kumar

Related posts

संस्कृति हत्याकांड के मास्टरमाइंड भूरे को एसटीएफ ने लुधियाना से गिरफ्तार किया

Sudhir Kumar

रेलवे ट्रैक पर मिला महिला और पुरुष का क्षत-विक्षत शव

Bharat Sharma

हरदोई में सनकी पति ने पत्नी को जिंदा जलाया

Sudhir Kumar