Home » क्राइम » डॉ. असगर हत्याकांड का 24 घंटे के भीतर खुलासा, कातिल किरायेदार गिरफ्तार

डॉ. असगर हत्याकांड का 24 घंटे के भीतर खुलासा, कातिल किरायेदार गिरफ्तार

madiyaon dr asgar murder case: Doctor found dead after sore throat in Lucknow

राजधानी के मड़ियांव थाना क्षेत्र का में एक बीयूएमएस के डॉक्टर की बेरहमी से गला रेतकर निर्मम हत्या किसी और ने नहीं बल्कि किरायेदार ने की थी। इस सनसनखेज हत्याकांड का पुलिस ने 24 घंटे के भीतर खुलासा कर आरोपी किरायेदार को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस का दावा है कि किरायेदार ने डॉक्टर की प्रताड़ना से तंग आकर उसे मौत के घाट उतारा था। पुलिस ने घटना में प्रयुक्त आला क़त्ल भी बरामद कर लिया है। आरोपी के खिलाफ आगे की विधिक कार्रवाई की जा रही है।

ये है डॉक्टर की हत्या का घटनाक्रम

वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक दीपक कुमार ने बताया कि मूलरूप से गोंडा जिला के रहने वाले डॉ. असगर अली (45) ठाकुरगंज थाना क्षेत्र के कैम्पवेल रोड पर अपने परिवार के साथ रहते हैं। वह ठाकुरगंज में स्थित बालागंज हॉस्पिटल में बीयूएमएस (BUMS) डॉक्टर थे। सोमवार की देर रात करीब 10:30 बजे पुलिस को मड़ियांव थाना क्षेत्र में एक शव पड़ा होने की सूचना प्राप्त हुई थी। सूचना मिलते ही एएसपी ट्रांसगोमती हरेंद्र कुमार मौके पर पुलिस बल के साथ पहुंचे। उन्होंने शव कब्जे में लेकर पंचनामा भरवाकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। पुलिस को मौके से डॉक्टर की बाइक भी बरामद हुई थी।

किरायेदार रामू हत्या के आरोप में गिरफ्तार

एसएसपी ने बताया कि मड़ियांव एसएसआई अमरनाथ वर्मा के नेतृत्व में पुलिस और क्राइम ब्रांच की टीम को घटना के खुलासे के लिए लगाया गया था। पुलिस ने सर्विलांस की मदद से कॉल डिटेल निकलवाईं और पड़ताल की तो किरायेदार पर पुलिस का शक गहराया। पुलिस ने किरायेदार को हिरासत में लेकर पूछताछ की तो पहले वाज पुलिस को गुमराह करता रहा लेकिन कड़ाई से पूछताछ पर वह टूट गया और अपना जुर्म कबूल लिया। पुलिस की पूछताछ में आरोपी किरायेदार रामू शर्मा निवासी हरदोई ने बताया कि डॉक्टर असगर उसे आये दिन किराये के लिए परेशान करता था। वह गरीबी के चलते पैसे समय से नहीं दे पता था तो डॉक्टर उसके साथ मारपीट और फैजुल्लागंज स्थित घर से भागने की धमकी देता था। घटना वाले दिन उसने किराये के संबंध में डॉक्टर को बुलाया और गला रेतकर हत्या कर दी। फिलहाल पुलिस आरोपी के खिलाफ आगे की कार्रवाई कर रही है।

लूट और आशनाई में हुई थी डॉक्टर की हत्या, क्राइमब्रांच ने किया खुलासा

बता दें कि डॉक्टर असगर अली की हत्या लूट और आशनाई में हुई थी। इस हत्याकांड के खुलासे के लिए एएसपी क्राइम के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच की तेज तर्रार टीम को लगाया गया था। उप निरीक्षक उदय प्रताप सिंह, कॉन्स्टेबल सरताज अहमद, आनंद सिरोही, विशाल और सुजीत कटियार ने कड़ी से कड़ी जोड़ते हुए इस हत्याकांड का खुलासा किया। बताया जा रहा है कि डॉक्टर असगर के आरोपित रामू शर्मा की पत्नी के साथ अवैध संबंध थे। घटना के वक्त डॉक्टर के पास 40 हजार रुपये थे वह किराया लेने पहुंचे थे। क्राइमब्रांच ने आरोपी के पास से आला कत्ल और 28 हजार रुपये भी बरामद किये हैं। लेकिन बिना काम किए वाहवाही लूटने में माहिर मड़ियांव पुलिस की सोशल मीडिया पर भद्द पिटी हुई है।

ये भी पढ़ें- नेहरू एन्क्लेव में सेक्स रैकेट: मुंबई की युवतियों से कराई जा रही थी वेश्यावृत्ति

ये भी पढ़ें- निर्दोषों को फंसाने की तैयारी कर रही थी रायबरेली की भ्रष्ट पुलिस: अखिलेश

ये भी पढ़ें- महिला की हत्या करके शव जंगल में फेंका, गैंगरेप की आशंका

ये भी पढ़ें- उन्नाव में फिर एक दलित युवती को जिंदा जलाया, बलात्कार की आशंका

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : madiyaon dr asgar murder case: accused kirayedar ramu arrested

Related posts

प्रतापगढ़ में सिपाही की दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या

Sudhir Kumar

अब हरदोई में सिपाही ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

Sudhir Kumar

पुलिस लाइंस में सिपाही की गर्भवती बहू से चेन लूटी

Sudhir Kumar