ऑनलाइन ठगी: अंतर्राज्यीय गैंग के छह जालसाज चढ़े कृष्णानगर पुलिस के हत्थे

Police Busts Inter State Fraud Racket six arrested in krishnanagar thana

राजधानी के कृष्णानगर पुलिस ने ऑनलाइन ठगी करने वाले अंतर्राज्यीय गैंग का भंडाफोड़ करते हुए गिरोह के छह सदस्यों को गिरफ्तार भारी मात्रा में सामान बरामद किया है। ये गैंग सातवीं पास से लेकर इंटर, बीटेक व ग्रेजुएशन, भविष्य संवारने की दहलीज पर कदम बढ़ा रहे छात्रों ने भोले-भाले गांव वालों को करोड़पति बनने का झांसा देकर ठगी कर रहा था। खुद को लाइफ इंश्योरेंस का अधिकारी बताकर पहले उनका भरोसा जीता फिर कुछ नकदी या फिर उनके खातों से उनकी गाढ़ी कमाई डकार गए। जल्द अमीर बनने की होड़ ने इन सभी को जरायम की दुनियां में धकेल दिया। धनवान बनने के लिए कई तरह की पैंतरेबाजी ने उनके माथे पर ठग लिख दिया।

Police Busts Inter State Fraud Racket six arrested in krishnanagar thana

भारी मात्रा में नगदी और सामान बरामद

एसएसपी दीपक कुमार के निर्देशन इंपेक्टर कृष्णानगर अंजनी कुमार पाडेय ने गहन छानबीन की तो पता चला कि गिरोह की जड़े यूपी ही नहीं मध्य प्रदेश व दिल्ली के अलावा यूपी के गाजियाबाद सहित कई जिलों में इनकी जड़ें फैली नजर आई। इस पर कृष्णानगर पुलिस ने क्राइम ब्रांच टीम की मदद से रविवार सरगना समेत छह जालसाजों को गिरफ्तार कर किया है। अब तक ये लोग हजारों लोगों से करोड़ों रुपयों की जालसाजी कर चुके हैं। पुलिस को इनके पास से 1,12, 000 रुपए की नकदी, 6 लैपटाप, 67 मोाबइल फोन, 23 एटीएम कार्ड, 15 पासबुक, 50 सिम, 5 वोटर कार्ड, 5 आधार कार्ड, 11 नए सिम कार्ड, दो पेन कार्ड के अलावा फर्जी दस्तावेज बरामद हुए हैं।

Police Busts Inter State Fraud Racket six arrested in krishnanagar thana

इनकी हुई गिरफ़्तारी

एसएसपी दीपक कुमार ने बताया कि पकड़े गए जालसाजों ने अपना नाम संजय इन्क्लेव उत्तमनगर नई दिल्ली निवासी अमन कुमार, प्रेमनगर झांसी निवासी गौरव मेहता, आलमबिहार मोहान रोड पारा लखनऊ निवासी आकाश कुमार गुप्ता उर्फ रवि, उत्तमनगर नई दिल्ली निवासी गौरव कुमार सिंह, चकभीटी रायबरेली निवासी अंकित सिंह व वसरैया गांव थाना गोसाईगंज लखनऊ निवासी रवि वर्मा बताया।

ऐसे करते थे करोडों की ठगी

एएसपी अपराध दिनेश कुमार सिंह का कहना है कि इस गिरोह का सरगना अमन कुमार है,जिसके इशारे पर जालसाजी का गिरोह चलता है। उन्होंने बताया कि पूछताछ में अपना जुर्म इकबाल करते हुए बताया कि ये लोग लाइफ इंश्योरेंस के धारकों के मोबाइल फोन कर कहते थे कि वे इंश्योरेंस कंपनी का अफसर बोल रहा हैं, लिहाजा आप लोगों को कंपनी की ओर से बोनस मिलना है। पकड़े गए शातिर दिमाग वाले ठगों की भोली बातों पर धारकों को अपने विश्वास में लेकर उनसे और उनके खाते से ऑनलाइन रुपए ट्रांसफर करा उनकी गाढ़ी कमाई हजम कर लेते थे।

कानपुर से चलाते थे जालसाजी का गैंग

इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडेय ने बताया कि पूछताछ में सरगना सहित पकड़े गए सभी आरोपितों ने बताया कि इनका एक संगठित गिरोह है और इनका तार यूपी के अलावा अन्य राज्यों तक जुड़ा है। इंस्पेक्टर का कहना है कि ये लोग शहरी क्षेत्र नहीं बल्कि देहात इलाके में जाकर लोगों को पांच हजार रुपए का लालच देकर उनका खाता खुलवाते थे। खाता खुलवाने के बाद शातिर दिमाग वाले ठग उनका एटीएम व पासबुक अपने पास रख लेने की बात स्वीकार की। इंस्पेक्टर ने बताया कि छानबीन के बाद पता चला कि पूर्व में इनके खिलाफ दिल्ली, गाजियाबाद, मध्य प्रदेश के अलावा यूपी के अन्य जनपदों में भी ठगी का मुकदमा दर्ज है, जो वहां से फरार चल रहे थे।

खाता चेक करने थे पहुंच गए सलाखों के पीछे

एएसपी अपराध दिनेश सिंह के मुताबिक पकड़े गए आरोपितों कृष्णानगर स्थित आंध्रा बैंक में खाता खुलवा रखा है। जहां पर ये लोग भोले-भाले लोगों की कमाई हजम कर जमा कर रहे थे। बताया गया कि पकड़े गए जालसाजों ने उक्त में चेक करने गए कि उनके खाते में लोगों ने रकम भेजा है कि नहीं। जैसे ही बैंक की दहलीज पार कर भीतर दाखिल हुए कि बैंक मैनजेर को शक हुआ और इसकी सूचना पुलिस को दे दी। इस सूचना पर इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडेय अपनी टीम के साथ मौके पर पहुंचे और सभी आरोपितों को हिरासत में ले लिया था। हिरासत में लिए गए आरोपितो से पूछताछ की तो पता चला कि ये गैंग कोई हल्का नहीं बल्कि अतंर्राष्ट्रीय गिरोह के रुप में है। कहावत नहीं बल्कि हकीकत है कि लोग जल्द अमीर बनने की लालच में आकर खुद के ही बुने जाल में फंस जाते हैं। कुछ ऐसा ही इस गिरोह के साथ हुआ गए थे बैंक में जमा रकम की जांच करने और पहुंच गए सलाखों के पीछे।

इन पुलिसकर्मियों ने किया गिरोह का पर्दाफाश

टीम की अगुआई करने वाले इंस्पेक्टर अंजनी कुमार पांडेय, निरीक्षक अजय कुमार त्रिपाठी, दरोगा अमरनाथ यादव, दरोगा नरेन्द्र प्रताप राय, भरत पाठक, राहुल गुप्ता, कांस्टेबिल अनीस कुमार, कांस्टेबल जितेन्द्र यादव, चन्द्रदीप शुक्ला, सुनील राय, कांस्टेबिल अबसार आलम, परमवीर सिंह, प्रमोद पांडेय, अवधेश कुमार सिंह, प्रिंस यादव, आराधना व सविता को इस गुडवर्क पर खुश होकर पांच हजार रुपए इनाम देने की घोष्णा करने के साथ उन्हें शाबासी दी।

ये भी पढ़ें- गोमतीनगर के दारोगा पर चढ़ा आशिकी का भूत- महिलाओं ने लगाए गंभीर आरोप

ये भी पढ़ें- अतुल सिंह को जेल के भीतर मिल रहा वीआईपी ट्रीटमेंट

ये भी पढ़ें-  बदल रही हैं यूपी की व्यवस्थाएं, एम्बुलेंस से चारपाई पर आ गए मरीज

ये भी पढ़ें- मथुरा में आईपीएल टी-20 मैच में सट्टा लगाते चार गिरफ्तार

ये भी पढ़ें- अब साक्षी महाराज ने नाइट क्लब का उद्घाटन कर की योगी सरकार की फजीहत

ये भी पढ़ें- सीतापुर में महिला से चार युवकों ने किया गैंगरेप

ये भी पढ़ें- रेप पीड़िता ने पूरे परिवार के साथ मुख्यमंत्री आवास के बाहर किया आत्मदाह का प्रयास

ये भी पढ़ें-  सपा कार्यकर्ताओं की गुंडई: युवक को पार्टी कार्यालय के पास बुरी तरह पीटा

Related posts

इंसानियत शर्मसार: नवजात बच्ची को गंदे नाले में फेंक गए मां-बाप

Sudhir Kumar

पुजारी समेत दो लोगों की निर्मम हत्या, एक गिरफ्तार

Sudhir Kumar

गोरखपुर में पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़, एक बदमाश गिरफ्तार

Sudhir Kumar

Leave a Comment