Home » क्राइम » लखनऊ : मलिहाबाद में युवक की गोली मारकर हत्या

लखनऊ : मलिहाबाद में युवक की गोली मारकर हत्या

Malihabad Police Station

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ के मलिहाबाद थाना क्षेत्र में एक दिल को दहला देने वाली वारदात सामने आई है। यहां दबंगों ने आपसी रंजिश में एक युवक की गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या की वारदात से कस्बे में सनसनी फैल गई। घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और युवक का शव कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। थाना प्रभारी मलिहाबाद ने बताया कि मृतक के परिजनों की तहरीर के आधार पर आरोपियों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। पुलिस का कहना है कि हमलावरों की तलाश के साथ ही तमाम बिंदुओं पर जांच की जा रही है।

जानकारी के मुताबिक, घटना मलिहाबाद थाना क्षेत्र की है। यहां के खड़सरा गांव में रहने वाले पवन सिंह यादव (19) को आपसी रंजिश के चलते गुरुवार की देर रात करीब 2:00 बजे गोली मारकर हत्या कर दी गई। घटना से गांव में दहशत फैल गई। घटना की सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंची और शव कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया। पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में चुनावी रंजिश को लेकर विवाद की बात सामने आयी है। जांच में पता चला कि खंडसरा में प्रधान के समर्थक रहे कैलाश यादव ने साथी रामबरन यादव के साथ मिलकर पवन सिंह यादव की रात में सोते समय गोली मारकर हत्या कर दी।

प्रभारी निरीक्षक मलिहाबाद रितेन्द्र प्रताप सिंह ने बताया कि गांव के ही दो पक्ष ग्राम प्रधान के घर बैठते उठते थे। बीती रात भी दोनों पक्ष बैठे थे। तभी किसी बात को लेकर विवाद हुआ तो दूसरे पक्ष ने पवन को गोली मार दी। जब तक उसे अस्पताल ले जाया गया तब तक उसकी मौत हो गई। घटना से मृतक के घर में कोहराम मचा हुआ है। बताया जा रहा है कि पवन सेना भर्ती की तैयारी कर रहा था। पुलिस ने कुछ लोगों को हिरासत में लिया है जिनसे पूछताछ कर आगे की कार्रवाई की जा रही है। इस घटना से गांव में दहशत का माहौल बना हुआ है।

मृतक का पिता है होमगार्ड का जवान

ग्रामीणों के मुताबिक, देर रात हाते में सो रहे 19 वर्षीय पवन सिंह यादव की गोली मारकर हत्या कर दी गई। मृतक के परिजनों ने पड़ोसी भाइयों शैलेश व राम भवन यादव पर हत्या का आरोप लगाया है। मृतक और अभियुक्त पहले दोस्त थे। दोनों पक्ष ग्राम प्रधान के करीबी थे। लेकिन अभियुक्तों की प्रधान से पिछले दिनों से अनबन हो गई थी। मृतक का फिर भी प्रधान के घर आना जाना था। मृतक का पिता उमाकांत होमगार्ड है जो मलिहाबाद थाने में है तैनात हैं। सूत्रों की माने तो अवैध संबंधों को लेकर भी दोनों पक्षों में कुछ विवाद चल रहा था।

इनपुट- ज्ञानेंद्र

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

लखनऊ: सीबीआई कोर्ट से अबू सलेम के दो गुर्गे गिरफ्तार

Sudhir Kumar

चोरी की बाइक से चल रहा था उन्नाव पुलिस का मुंशी, वीडियो में देखें करतूत

Sudhir Kumar

लखनऊ में मुठभेड़ के दौरान 15 हजार का इनामी बदमाश गिरफ्तार

Sudhir Kumar

Leave a Comment