BJP जिलाध्यक्ष की सुपारी, पुलिस को दी धमकी कहा- ‘मैं कह कर मारता हूॅं’

BJP District president threat to SHO Audio goes viral

झांसी में एक पुलिसकर्मी पर भाजपा जिलाध्यक्ष द्वारा एक व्यक्ति की गिरफ्तारी को लेकर दबाव बनाया जा रहा है। जिसका आॅडियो वायरल हो गया है। इस वायरल आॅडियो में भाजपा के जिलाध्यक्ष द्वारा एक व्यक्ति के स्टे लेने से पहले ही गिरफ्तारी का दबाव बना रहे हैं। ऐसा नहीं करने पर कहते हुए सुनाई पड़ रहे हैं कि अगर आज गिरफ्तारी नहीं हुई तो आज मैं एसपी आॅफिस जाकर आपके खिलाफ धरने पर बैठ जाऊंगा। बता दें कि हम इस आॅडियो की पुष्टि नहीं करते हैं।

झांसी की सुपारी पुलिस का एक और ऑडियो वायरल हो गया है। इस वायरल आॅडियो में भाजपा के जिलाध्यक्ष और एसएचओ के बीच बातचीत हुई है। जिसमें जिलाध्यक्ष संजय दुबे ने एसएचओ को धमकाते हुए सुनाई पड़ रहे हैं। फोन उठाते ही एसएसओ ने जिलाअध्यक्ष को गुड माॅर्निंग विश किया। जिसके बाद जिलाध्यक्ष द्वारा पूर्व ब्लाक प्रमुख लेखराज की गिरफ्तारी के विषय में पूछताछ कर रहे हैं। जिसके बाद एसएचओ कहते हुए सुनाई पड़ रहे हैं कि आज आपका काम हो जाएगा। जिसपर झल्लाते हुए कह रहे है कि क्या वह इतना ताकतवर है कि उसकी अरेस्टिंग नहीं हो पा रही है।

नहीं हुई गिरफ्तारी तो बैठूंगा धरने पर

भाजपा के जिलाध्यक्ष कहते हैं कि मैं कुछ नहीं जानता पुनीत जी आज की डेट में मुझे उसकी गिरफ्तारी चाहिए। यदि आज के डेट में गिरफ्तारी नहीं हुई तो कसम ईश्वर की खा रहा हूॅं मैं कप्तान के यहां आपके के खिलाफ धरने पर बैठ जाऊंगा। आज नाटक हो जाएगा बहुत तगड़ा फिर मुझसे ना कहना कि आपने क्या किया। आपको मैं पहले ही आगाह कर रहा हूॅं।

मैं दुश्मन को कहके मारता हूं

भाजपा के जिलाध्यक्ष संजय दूबे कहते हुए सुनाई पड़ रहें है कि मैं आपको पहले ही आगाह कर रहा हूॅं यदि आज उसकी गिरफ्तारी नहीं हुई तो शाम को 7 बजे आज मैं धरने पर बैठा मिलूंगा आपके खिलाफ। ये मैं आपको चेतावनी दे रहा हूॅं क्योंकि मेरी एक आदत है कि मैं दुश्मन को भी कहके मारता हूॅं। जिसके बाद फोन डिस्कनेक्ट हो जाता है।

पहले भी हुआ है ऑडियो वायरल

बता दें कि इससे पहले भी एक ऑडियो वायरल हुआ था जिसमे कथित रूप से एक इंस्पेक्टर वांटेड क्रिमिनल से एनकाउंटर करने के लिए जानकारी दे रहा है। कथित ऑडियो में पुलिसकर्मी बता रहा है कि पुलिस उसका एनकाउंटर करनाचाह रही है। इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि पुलिस सच में एनकाउंटर कर रही है या सरकार के दबाव में अपराधियों को ठिकाने लगा रही है। ये कथित ऑडियो झांसी पुलिस का बताया जा रहा है लेकिन बातचीत कब की है इसकी जानकारी अभी नहीं हो पाई है। वायरल हो रहे इस कथित ऑडियो की uttarpradesh.org पुष्टि नहीं करता।

बेटे सहित मौके से भाग गया अपराधी

जानकारी के मुताबिक, झांसी के मऊरानीपुर में दबंग पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज सिंह पर भाजपा पार्षद से रंगदारी मांगने और मारपीट का आरोप है। बताया जा रहा है कि मऊरानीपुर थाना क्षेत्र के रानीपुर में आरोपी पूर्व ब्लॉक प्रमुख और उसके बेटे को गिरफ्तार करने पहुंची थी। इस दौरान पुलिस टीम पर आरोपी पक्ष के लोगों ने फायरिंग कर दी। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की लेकिन मौके का फायदा उठाकर पूर्व ब्लॉक प्रमुख बेटे सहित मौके से भाग निकला। आधे घंटे हुई फायरिंग के बाद भी आरोपी भाग निकला। फरार हुए ब्लॉक प्रमुख और उसके बेटे की पुलिस तलाश कर रही है।

भाजपा पार्षद ने दर्ज कराया था मुकदमा

पुलिस के मुताबिक, मऊरानीपुर थाना समेत अन्य थानों में पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज के खिलाफ दर्जनों गंभीर मामले दर्ज है। पिछले दिनों पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज और उसके बेटे रानीपुर नगर पंचायत के अध्यक्ष भगत सिंह यादव के खिलाफ भाजपा पार्षद प्रदीप गुप्ता से 5 लाख रूपये रंगदारी मांगने व मारपीट करने का मुकदमा दर्ज किया गया था। मुकदमा दर्ज होने के बाद आरोपी पक्ष ने पार्षद के घर में घुसकर धमकी दी और मामला वापस लेने को कहा। केस दर्ज होने के बाद पुलिस पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज और उसके बेटों की तलाश में दबिश दे रही थी। मध्य प्रदेश बार्डर पर पूर्व ब्लॉक प्रमुख के मौजूद होने की सूचना पर पुलिस ने शुक्रवार को छापा मारा।

पहले से ही तैयार थी स्क्रिप्ट

इस मुठभेड़ के बाद पुलिस ने बयान दिया कि मऊरानीपुर थाना प्रभारी सुनीत सिंह को जानकारी हुई कि यूपी और एमपी की सीमा पर स्थित हरकनपुरा के पास पूर्व ब्लॉक प्रमुख लेखराज और उसके बेटे अपने साथियों के साथ मौजूद हैं। सूचना पर अपनी टीम के साथ बताये गये स्थान पर दबिश दी गई। पुलिस को देख लेखराज ने अपने बेटे व साथियों के साथ मिलकर पुलिस पर फायरिंग कर दी। इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। लगभग आधा घंटे कई राउंड फायरिंग हुई। इस दौरान मौके का फायदा उठाकर लेखराज अपने बेटे व साथियों के साथ मौके से भाग निकला। फायरिंग के दौरान आरोपियों की ओर से की गई गोलीबारी में पुलिस की प्राईवेट गाड़ी का कांच क्षतिग्रस्त हो गया। घटना में थाना प्रभारी व एक सिपाही घायल हुए हैं, जिन्हें इलाज के लिए अस्पताल भेजा गया। लेकिन वायरल हो रहे इस कथित ऑडियो से साफ है कि पुलिस ने अपराधी को पकड़ने के लिए केवलफर्जी मुठभेड़ की। मुठभेड़ की स्क्रिप्ट पहले से ही तैयार थी। इस मामले में जिम्मेदार अधिकारी कुछ भी बोलने को तैयार नहीं हैं।

ये भी पढ़ें: यशवंत सिंह को परिषद भेज भाजपा ने राजा भैया को दिया ‘रिटर्न गिफ्ट’

ये भी पढ़ें: मुख्यमंत्री आज झाँसी में करेंगे कई परियोजनाओं का शिलान्यास व लोकार्पण

Related posts

अलीगढ़: माँ ने प्रेमी के साथ मिलकर की बेटी की हत्या

Sudhir Kumar

निजीकरण से जनता पर पड़ेगा सीधा असर, उपभोक्ताओं को ही उठाना पड़ेगा घाटा

Sudhir Kumar

कानपुर: संदिग्ध परिस्थितियों में महिला सिपाही का हॉस्टल में मिला शव

Sudhir Kumar

Leave a Comment