Home » क्राइम » जालौन जेल के जेलर ने 8 गधों को जेल भेजकर 4 दिन बाद छोड़ा

जालौन जेल के जेलर ने 8 गधों को जेल भेजकर 4 दिन बाद छोड़ा

यूपी के जालौन स्थित उरई जिला कारागार के जेलर का नया अजब-गजब कारनामा सामने आया। इस सरफिरे जेलर ने 8 गधों को ही जेल भेज दिया और जब हो-हल्ला मचा तो 4 दिन बाद गधों को जेल से छोड़ा है। बताया जा रहा है गधों का कसूर सिर्फ इतना था कि उन्होंने जेलर के पौधे खा लिए थे। इसके चलते उन्हें 4 दिन सजा कटनी पड़ी। मालिक 4 दिन तक गधों को छोड़ने की गुहार लगाता रहा, लेकिन जेल अफसरों ने उसकी एक ना सुनी। इसके बाद सोमवार को सुपरिंटेंडेंट ने गधों को जेल से रिहा किया। 

बेगुनाह गधों ने 4 दिन काटी जेल में सजा

  • जानकारी के मुताबिक, जालौन स्थित उरई जिला कारागार के जेलर सीताराम शर्मा के पिछले दिनों कुछ गधे उनके आवास के बाहर लगे पौधे चबाकर खा गए थे।
  • इस घटना से गुस्साए सिरफिरे जेलर ने 8 गधों को ही जेल भेज दिया।
  • जब गधों की जेल की खबरें वायरल होने लगीं तो जेलर ने 4 दिन बाद गधों को जेल से रिहा किया।
  • हालांकि यह मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।
  • जालौन जिला जेल के जेलर का ये अजब-गजब कारनामा जो सुनता है वो हैरान रह जाता है।

5 लाख रुपए कीमत के पौधों को नुकसान पहुंचाने का आरोप

  • कुछ दिन पहले सुपरिंटेंडेंट सीताराम शर्मा ने करीब 5 लाख रुपए कीमत के पौधे मंगाए थे।
  • जिन्हें जेल के अंदर लगाया जाना था। लेकिन बाहर घूमने वाले गधों ने सब नुकसान कर दिया।
  • अफसरों को इसकी जानकारी मिली तो गधों के मालिक से उन्हें हटाने के लिए कहा।
  • लेकिन उसने ऐसा नहीं किया।
  • आखिर में हमें गधों को जेल में बंद करने की सजा देनी पड़ी।
  • जब गधों के मालिक कमलेश को मामले का पता चला तो वह उन्हें छुड़ाने के लिए जेल अफसरों के पास गया।
  • इसके बाद 24 नवंबर को पुलिसवालों ने गधों को जेल में बंद कर दिया।

तानाशाह जेलर बोला जेल मंत्री से बात कर लूंगा

  • इस संबंध में जब हमने जेलर सीताराम से बात करने की कोशिश की तो वह बोला कि इसमें कोई हमने गलत काम नहीं किया है।
  • गधों ने हमारे कीमती पौधों को नुकसान पहुंचाया है ये हमारा पर्सनल मामला है।
  • इस संबंध में हम जेल मंत्री से बात कर लेंगे।  
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

अमरीश की हत्या के आरोप में दो भाईयों सहित पांच गिरफ्तार

Sudhir Kumar

स्टिंग में फंसे तीनों निजी सचिवों को पहली रात जेल में नहीं आई नींद

Sudhir Kumar

मेरठ से गौवंश की तस्करी करने वाले दो तस्कर गिरफ्तार

Sudhir Kumar

Leave a Comment