साइबर ठगों ने जेबीएम मल्टी रिचार्ज एप्प से दुकानदारों को लगाया लाखों का चूना

cyber crime: online fraud with JBM Multi Recharge Money Transfer App

यूपी के हरदोई जिला में साइबर क्राइम करने वालों ने एक बार फिर ऐसा कारनामा कर दिया, जिससे लोगों के लाखों रुपए ही गायब हो गए। मल्टी रिचार्ज करने की कंपनी के एप्प के जरिए पहले रिचार्ज मनी ट्रांसफर की गई। जब दुकानदारों का भरोसा जम गया तो अचानक एप्प बंद हो गया। उसमें ट्रांसफर किया गया सारा का सारा बैलेंस शून्य हो गया। इससे मोबाइल बाजार में हड़कंप मच गया।

अपना तो एप्प काम कर रहा है और आप के बाजार में उतरे जेबीएम कर्मचारी खोजे मिल रहे हैं। मोबाइल दुकानदारों ने बताया कि 6 मार्च 2018 को कथित युवक राहुल आया था। उसने अपने जेबीएम एप्प के बारे में मोबाइल शॉप वालों को बताया और मनी ट्रांसफर करके दिखाया एप्प बेहतर काम कर रहा था। ऐप में ट्रांसफर से लेकर सभी कंपनियों के मोबाइल सबकुछ जा रहा था। एक ही एप्प से बैलेंस के जरिए सभी मोबाइल कंपनियों के टीवी और डिश रिचार्ज हो रही थी।

एक एप्प से सारी सुविधाएं मिलती देख सभी एप्प को लोड कर लिया। उसमें ट्रांसफर हुए रुपए से रिचार्ज शुरू कर दिया। बताया कि कथित जेवीएम मनी ट्रांसफर एप्प वालों ने 12 अप्रैल तक पूरे जिले में लाखों रुपए ट्रांसफर किए। लेकिन 12 अप्रैल की शाम अचानक हड़कंप मच गया। जब एप्प ने काम करना बंद कर दिया। उसमें ट्रांसफर सारा बैलेंस शून्य हो गया। जहां भी रिचार्ज किया गया वहां सब बंद हो गया। कई दिनों तक इंतजार के बाद कोई रास्ता नहीं निकला। सभी मोबाइल कारोबारी एकजुट हुए साइबर क्राइम करने वाले की खोजबीन शुरू कर दी।

बताया गया कि देव टेलीकॉम, बालाजी इंटरप्राइजेज, ए टू जेड, भानु मोबाइल रिचार्ज का काम करने वाले के लाखों रुपए डूब गए। अब मामला पुलिस तक जा पहुंचा है। लेकिन पुलिस के लिए यह सब अनोखी कहानी की तरह है। कथित राहुल आखिर कहां गायब हो गया। जेबीएम एप्प के बाजार में लाने वाला कथित राहुल ने किसी को हरदोई का तो किसी को मेरठ, नोएडा और गाजियाबाद पता बताया। राहुल 730877534 मोबाइल नंबर से बात करता था पर एप्प पर रिचार्ज मनी ट्रांसफर करता था तो ग्राहक को मोबाइल पर 9068252265 मोबाइल नंबर लिखकर आता था।

लेकिन अब राहुल के दोनों ही मोबाइल बंद हो गए हैं। हलाकि दुकानदारों के यहां लगे सीसीटीवी कैमरे में कथित राहुल की तस्वीर कैद है। बताया जा रहा है कि राहुल 8% कमीशन देता था। जेबीएम एप्प से जारी करने वाले ने बड़ी ही शातिर अंदाज में काम किया। बाजार में उसने जो मनी ट्रांसफर की उस पर पहले उसे 4% से नगद पर छूट की स्कीम दे दी। जिस पर उसने 8% कमीशन दे दिया। जबकि मोबाइल शॉप के लोग बताते हैं कि अन्य कंपनियों में महेश 2 से 3% ही रिचार्ज बैलेंस पर कमीशन देती है। मोटे कमीशन के झांसे में और एक शानदार काम की वजह से सब झांसे में आ गए और ठगी का शिकार हो गए।

ये भी पढ़ें- गोमतीनगर के दारोगा पर चढ़ा आशिकी का भूत- महिलाओं ने लगाए गंभीर आरोप

ये भी पढ़ें- अतुल सिंह को जेल के भीतर मिल रहा वीआईपी ट्रीटमेंट

ये भी पढ़ें-  बदल रही हैं यूपी की व्यवस्थाएं, एम्बुलेंस से चारपाई पर आ गए मरीज

ये भी पढ़ें- मथुरा में आईपीएल टी-20 मैच में सट्टा लगाते चार गिरफ्तार

ये भी पढ़ें- अब साक्षी महाराज ने नाइट क्लब का उद्घाटन कर की योगी सरकार की फजीहत

ये भी पढ़ें- सीतापुर में महिला से चार युवकों ने किया गैंगरेप

ये भी पढ़ें- रेप पीड़िता ने पूरे परिवार के साथ मुख्यमंत्री आवास के बाहर किया आत्मदाह का प्रयास

ये भी पढ़ें-  सपा कार्यकर्ताओं की गुंडई: युवक को पार्टी कार्यालय के पास बुरी तरह पीटा

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : cyber crime: online fraud with JBM Multi Recharge Money Transfer App

Related posts

कुत्ता काटने की शिकायत पर बाबा ने बंदूक तानी, मंदिर में मादक पदार्थ बेचने का आरोप

Sudhir Kumar

वैष्णो देवी से लौट रही इनोवा कार पलटी, बर्थडे ब्वॉय सहित 3 लोगों की मौत 5 घायल

Sudhir Kumar

दरोगा पर महिला आयोग की सदस्य से अभद्रता करने का आरोप

Sudhir Kumar