Home » क्राइम » Hardoi : ग्रामीणों ने पुलिस पर किया पथराव,एसएचओ समेत 5 घायल,युवक की मौत के बाद अंतिम संस्कार के दौरान तनाव की सूचना पर पहुंची थी पुलिस

Hardoi : ग्रामीणों ने पुलिस पर किया पथराव,एसएचओ समेत 5 घायल,युवक की मौत के बाद अंतिम संस्कार के दौरान तनाव की सूचना पर पहुंची थी पुलिस

मृतक के परिजनों ने पुलिस टीम पे किया पथराव।

 

हरदोई। ख़बर यूपी के हरदोई से है जहाँ अतरौली क्षेत्र के ग्राम नरियाखेड़ा में शव का अंतिम संस्कार कराने गई पुलिस टीम पर मृतक के परिजनों ने पथराव कर दिया। घटना की सूचना पर पहुंचे अतरौली के प्रभारी निरीक्षक पर भी पथराव हुआ। घटना में प्रभारी निरीक्षक समेत पांच लोग घायल हो गए।घायलों का उपचार कराया गया इस मामले में 22 नामजद व 100 अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बाग में फांसी पर लटकता मिला था शव।

अतरौली थाना क्षेत्र के ग्राम नरियाखेड़ा निवासी अशोक शनिवार से घर से लापता था। उसका शव पड़ोसी गांव बकवा के एक बाग में फांसी पर लटकता मिला था। शव क्षत-विक्षत हालत में होने के चलते पुलिस ने खुदकुशी किए जाने की आशंका जताते हुए शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया था। पोस्टमार्टम में फांसी लगाने के कारण मौत होने की पुष्टि हुई, जबकि अशोक के परिजन नरियाखेड़ा के ही कुछ लोगों पर हत्या का आरोप लगाने लगे।

गांव में तनाव होने की जानकारी पर पहुची थी पुलिस।

मिली जानकारी के मुताबिक़ मौके पर पोस्टमार्टम के बाद शव गांव पहुंचने पर अंतिम संस्कार की तैयारी के दौरान गांव में तनाव होने की जानकारी पर अतरौली थाने के उपनिरीक्षक महेंद्र कुमार यादव मौके पर पहुंच गए।
उन्हें देखते ही मृतक के परिजनों और ग्रामीणों ने पुलिस पर आरोपियों के साथ मिले होने का आरोप लगाकर पथराव कर दिया। महेंद्र कुमार यादव ने इसकी सूचना प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार तिवारी को दी तो वह भी पुलिस बल के साथ गांव पहुंच गए। पुलिस टीम के गांव पहुंचते ही फिर से पथराव हो गया।इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाते हुए ग्रामीणों को तितर-बितर कर दिया। इसी बीच शव का अंतिम संस्कार भी कर दिया गया। पथराव में अतरौली के प्रभारी निरीक्षक संतोष कुमार तिवारी, उपनिरीक्षक महेंद्र कुमार यादव, सिपाही विनीता, कामिनी और जयप्रकाश वाजपेई भी घायल हो गए।

वही इस सम्बन्ध में एएसपी ज्ञानजंय सिंह ने बताया है कि अतरौली थाना क्षेत्र के एक गांव निवासी अशोक की डेड बॉडी एक बाग में मिली थी जिसका पोस्टमार्टम कराया गया जहां हैंगिंग सामनेे आई वही उनके परिजनोंं का कहना था कि हत्या की  गयी है। इस आशय सेे उन्होंने आक्रोश प्रकट किया वही पुलिस टीम पर पत्थर भी फेंके जिसमे हमारे दो पुलिसवाले घायल हुए हैं। जिन लोगों ने पुलिस टीम पर पत्थर फेंका उनके विरुद्ध मुकदमा कायम कराया गया है वहीं इस मामले में 22 नामजद व 100 अज्ञात के विरुद्ध एफआईआर दर्ज कर 5 लोगों को गिरफ्तार किया गया। वही अज्ञात लोगोंं का पता लगाया जा रहा है उनके खिलाफ विभागीय कार्रवाई कराई जाएगी।

इनपुट- मनोज
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Tanmay Baranwal

Related posts

छात्र ने पिटाई का तो टीचरों ने लगाया छेड़खानी और अश्लील बातें करने का आरोप

Sudhir Kumar

बाराबंकी में मां-बेटे की रॉड मारकर हत्या, तीन घायल

Sudhir Kumar

आक्रोशित लोगों ने दरोगा को दौड़ाकर पीटा, सर्विस रिवाल्‍वर तानकर बचाई जान

Sudhir Kumar