Home » क्राइम » बेटी को देह व्यापार में धकेल पिता और चाचा ने खूब कमाये पैसे

बेटी को देह व्यापार में धकेल पिता और चाचा ने खूब कमाये पैसे

यूपी के शाहजहांपुर में एक कलयुगी पिता ने बेटी और बाप के रिश्ते को शर्मसार कर डाला। इस कलयुगी ने अपने भाई (युवती का चाचा) के साथ मिलकर अपनी ही बेटी को सेक्स रैकेट में धकेल दिया। हैवानों ने उसे कई लोगों के हाथ बेंचकर खूब नोट कमाये। किसी तरह जब युवती ने घर से भागकर शादी कर ली तो अब दबंग उसे जान से मारने की धमकी दे रहे हैं। पीड़िता किसी तरह अपनी जान की सुरक्षा के लिए पुलिस अधीक्षक के कार्यालय पहुंची और पूरी घटना बताई। एसपी ने मामले की जांच कर कार्रवाई के निर्देश दिये है। 

कहीं चालीस तो कहीं 50 हजार रुपए में बेचीं गई युवती

  • जानकारी के मुताबिक, तिलहर थाना क्षेत्र के पिथनापुर गांव में रहने वाली आरती का आरोप है कि उसके पिता रामऔतार और चाचा रामवीर ने पैसे कमाने के लिए उसे देह व्यापार में धकेल दिया।
  • इतना ही नहीं उसे कई लोगों के हाथ बेच भी दिया।
  • बेचने की एवज में कहीं 50 हजार रुपए हासिल किये तो कहीं 40 हजार रुपये लिए गए।
  • कई बार बिकी युवती की जब इज्जत तार-तार होती रही तो उसने इस घिनौने काम से मुक्ति पाने का प्लान बनाया।
  • आरोप है कि पीड़िता ने जब ग्राहकों के साथ जाने से मना किया तो उसे दोनों कलयुगी धमकाने लगे।
  • पीड़िता ने किसी तरह दरिंदों के चंगुल से छूटकर शादी कर ली तो चाचा और पिता जान से मारने की धमकी दे रहे हैं।
  • पीड़िता ने अपर पुलिस अधीक्षक अपनी जान की सुरक्षा की गुहार लगाई है।
  • इस मामले में एसपी ने कहा कि पूरे प्रकरण की जांच कराई जा रही है।
  • पीड़िता को न्याय दिलाकर दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जायेगी।
  • इस घटना के बाद लोगों का कहना है कि आमतौर पर घर की बेटियां घर की लाज ही नहीं होती हैं बल्कि उसके परिजन अपनी आन-बान-शान बनाये रखने के लिये अपनी जान भी दे देते हैं।
  • लेकिन शाहजहांपुर में इस सबको दरकिनार कर परिजनों ने न केवल अपनी ही युवती को देहव्यापार कर धकेल दिया बल्कि उसे बेचकर समाज के सामने घिनौना रूप प्रस्तुत किया है।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

लखनऊ: मड़ियांव में डॉक्टर की गला रेतकर हत्या, पुलिस दबाये रही घटना

Sudhir Kumar

कानपुर: बाजार जा रही विवाहिता का कार सवार बदमाशों ने किया अपहरण

Sudhir Kumar

आठवीं, नौवीं, दसवीं मोहर्रम के जुलूस पर रहेगी ड्रोन की नजर

Sudhir Kumar