Home » क्राइम » मेरठ : दिल्ली पुलिस के हवलदार की गोली मारकर हत्या

मेरठ : दिल्ली पुलिस के हवलदार की गोली मारकर हत्या

Delhi Police Cop Sarabjeet Singh shot dead in Meerut

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिला में कानून व्यवस्था को लेकर एक बार फिर सवाल खड़े हो गए हैं। मेरठ के खरखौदा क्षेत्र में कार से पत्नी और बच्चों के साथ घर लौट रहे दिल्ली पुलिस के हवलदार की दिनदहाड़े बीच सड़क पर हत्या कर दी गई। इसके बाद बाइक सवार हमलावर फरार हो गए। घायल सरबजीत को परिजन और रिश्तेदार तत्काल मेरठ के आनंद अस्पताल ले गए, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। घटना की जानकारी मिलते ही ग्रामीणों में आक्रोश फैल गया। उन्होंने हापुड़ रोड पर जाम लगा दिया। पुलिस अफसरों से हमलावरों का एनकाउंटर करने की मांग की।

इससे गुस्साए ग्रामीणों ने मृतक का शव एंबुलेंस से लाकर करीब साढे़ चार बजे गांव कैली के बस अड्डे पर रखकर हापुड़-मेरठ मार्ग जाम कर दिया। इधर घटना की सूचना मिलते ही अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) राजेश कुमार, विधायक सत्यवीर त्यागी, सीओ किठौड़ चक्रपाणी त्रिपाठी, थाना प्रभारी निरीक्षक खरखौदा राजेंद्र त्यागी भाजपा नेता टीटू बढ़ला समेत आसपास के थानों का पुलिस बल भी वहां पहुंच गया। पुलिस अधिकारियों और विधायक सत्यवीर त्यागी ने काफी समझा बुझाकर व बदमाशों को जल्द गिरफ्तार करने का आश्वासन देकर करीब दो घंटे बाद जाम खुलवाया।

जानकारी के मुताबिक, खरखौदा थाना क्षेत्र के गांव कबट्टा में रविवार को गुरुद्वारा स्थापना सत्संग समारोह बड़ी धूमधाम से मनाया गया था। समारोह में सैकड़ों ट्रैक्टर ट्रालियों में सवार होकर हापुड़ और मेरठ जिले से बड़ी संख्या में पंजाबी जट्ट समाज के लोग सत्संग करते हुए वहां पहुंचे थे। मेरठ जिले के परीक्षतगढ़ थाना क्षेत्र के गांव बढ़ला निवासी दिल्ली पुलिस का हवलदार सरबजीत सिंह (34) पुत्र हरजीत सिंह अपनी पत्नी संगीता और तीन बच्चों के साथ कार में सवार होकर अपनी ननिहाल में चल रहे उक्त कार्यक्रम में भाग लेने आये थे। रिटायर्ड फौजी हरजीत सिंह के इकलौते बेटे सरबजीत दिल्ली के सुलतानपुरी थाने में हवलदार के पद पर तैनात थे।

बताया गया है कि सरबजीत कार्यक्रम में शामिल होने के बाद अपने गांव को लौट रहा था। इस दौरान कबट्टा और बवनपुरा गांव के बीच सरकारी नलकूप के पास बेखौफ बाइक सवार तीन बदमाशों ने ओवरटेक कर हथियारों की नोंक पर उसकी कार रुकवा लूटपाट का प्रयास किया। जैसे ही कार रुकी बदमाशों ने गेट खोलने को कहा। नहीं खोलने पर कार के शीशे को तमंचों की बटों से तोड़ने लगे। शीशे नहीं टूटे तो गोली चला दी। एक गोली शीशे को पार करते हुए सरबजीत की गर्दन पर जा लगी। एक बेटी को भी र्छे लगे। गोली लगते ही बदमाश भाग गए। सरबजीत ने विरोध किया तो एक बदमाश ने उसको गोली मार दी जो उसके कंधे में लगकर शरीर में धंस गई। गोली मारते ही बदमाश बाइक पर बैठकर फरार हो गए। फिलहाल पुलिस बदमाशों की तलाश में जुटी है। हवलदार के घर में कोहराम मचा हुआ है।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sadik Khan

Related posts

यूपी पुलिस का साल 2017: 898 मुठभेड़ में 29 अपराधी ढ़ेर 2187 गिरफ्तार

Sudhir Kumar

चिनहट में डकैती: बदमाशों ने तीन लोगों को मारी गोली

Sudhir Kumar

मेरठ में बेटा पैदा न होने पर पति ने किया पत्नी और बेटी का कत्ल

Sudhir Kumar