Home » क्राइम » शादी समारोह की आतिशबाजी से झोपड़ी में लगी आग, जिंदा जला मासूम

शादी समारोह की आतिशबाजी से झोपड़ी में लगी आग, जिंदा जला मासूम

child burnt alive fire breaks out

राजधानी लखनऊ के ठाकुरगंज थाना क्षेत्र में एक शादी समारोह में हो रही आतिशबाजी झोपड़पट्टी में रहने वाले गरीब परिवार के लिए काल बन गई। यहां आतिशबाजी की चिंगारी से झोपड़ी में आग लग गई। आग लगने से इलाके में हड़कंप मच गया। झोपड़ी में सो रहा एक किशोर आग की लपटों में घिरकर चीखता चिल्लाता रहा, लेकिन असहाय लोगों ने उसे बचा नहीं पाया। आखिरकार उसकी जिंदा जलकर मौत हो गई।

लोगों ने आग लगने की सूचना पुलिस को दी। सूचना पाकर मौके पर काफी लेट पहुंची दमकल की गाड़ियों ने जब तक आग बुझाई तब तक बच्चे की मौत हो चुकी थी। वहीं आग लगने से घर का सारा सामान जलकर राख हो गया। इस घटना से इलाके में हड़कंप मच गया। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया।

वहीं स्थानीय लोगों ने पुलिस पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए जमकर हंगामा किया। लोगों को कहना है कि सूचना देने के बाद भी दमकल की गाड़ी काफी देर से मौके पर पहुंची। स्थानीय लोगों ने दुःखी परिवार को उचित मुआवजा देने की प्रशासन से मांग की है। फिलहाल पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है। ये घटना श्यामनगर कॉलोनी की है।

जानकारी के मुताबिक, ठाकुरगंज के श्यामनगर कॉलोनी में लालबाग पैलेस लॉन है। यहां रविवार को एक शादी समारोह का आयोजन था। बताया जा रहा है कि शादी समारोह में आतिशबाजी की चिंगारी लॉन से करीब 100 मीटर दूर स्थित एक झोपड़ी में जा गिरी।

इससे झोपड़ी में सो रहे एक किशोर की जिंदा जलकर मौत हो गई। थाना प्रभारी ठाकुरगंज ने बताया कि आग लगने की सूचना रात करीब 1230 बजे पुलिस को मिली थी। वह पुलिस बल के साथ मौके पर गए तब तक दमकल भी आ गई। दमकल कर्मियों ने आग बुझाई तो झोपड़ी में बच्चा मृत पाया गया।

थाना प्रभारी ने बताया कि सरदारी खेड़ा उन्नाव जिला में रहने वाले रामसागर पासी यहां एक खाली प्लाट को किराये पर लेकर झोपड़ी बनाकर रहते हैं। वह यहां कबाड़ का कारोबार कर रहे थे। उनके साथ उनका बेटा सुजीत पासी (15), चचेरा भाई और 4 लेबर काम करते थे। रामसागर ने पुलिस को बताया कि रविवार को 10 बजे सब्जी रोटी खाने के बाद सभी सो गए थे।

अचानक आग लगने से सभी लोग झोपड़ी से भाग गए। सबने समझा कि सुजीत भी भाग गया होगा। लेकिन डीजे के शोर में उसकी आवाज दब गई। जब पुलिस ने आग बुझाई तो सुजीत मृत पाया गया। ये देखकर पिता की चीख निकल गई। पुलिस के मुताबिक, इस मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है। स्थानीय लोगों ने शादी समारोह में आतिशबाजी की चिंगारी से आग लगने का आरोप लगाया है। फिलहाल इसकी जांच की जा रही है।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

रमेश यादव के छोटे पुत्र अभिजीत की संदिग्ध हालात में मौत

Sudhir Kumar

मुन्ना बजरंगी का एनकाउंटर करने का पुलिस रच रही षड्यंत्र- पत्नी सीमा सिंह का आरोप

Sudhir Kumar

न्याय न मिलने पर विधानसभा के सामने जान देने पहुंचा पीड़ित परिवार

Sudhir Kumar