Home » क्राइम » बलात्कार पीड़िता महिला ने सीएम आवास के सामने किया आत्मदाह का प्रयास

बलात्कार पीड़िता महिला ने सीएम आवास के सामने किया आत्मदाह का प्रयास

barabanki sexual harassment victim women attempt to self immolation at CM House

राजधानी लखनऊ के गौतमपल्ली थाना क्षेत्र के पांच कालिदास मार्ग स्थित मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का सरकारी आवास और विधानसभा आत्मदाह का अड्डा बन चुका है। शायद इसीलिए आये दिन पीड़ित दोनों जगहों पर आत्मदाह करने को मजबूर हैं। आत्मदाह के मामले लगातार बढ़ रहे हैं जो प्रदेश की कानून व्यवस्था की पोल खोल रहे हैं। अभी हाल ही में उन्नाव की बलात्कार पीड़िता ने पुलिस की प्रताड़ना से तंग होकर सीएम आवास के बाहर आत्मदाह का का प्रयास किया था। ये मामला हाइलाइट हुआ तो भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर बहुत किरकिरी के बाद सीबीआई द्वारा गिरफ्तार किये गए। मंगलवार को ही एक शिक्षिका ने विधानसभा के सामने आत्मदाह का प्रयास किया वह छेड़छाड़ से पीड़ित थी।

 

 

वहीं सीएम आवास के बाहर बाराबंकी की रहने वाली यौनशोषण का शिकार और बलात्कार पीड़िता ने आत्मदाह का प्रयास करके हड़कंप मचा दिया। आनन-फानन में मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने सभी पीड़िता को हिरासत में लिया। जिसे पुलिस गौतमपल्ली थाने ले गई। पुलिस पीड़िता से पूछताछ कर आगे की कार्रवाई कर रही है। पीड़िता का आरोप है कि शादी का झांसा देकर एक युवक ने उसके साथ शादी की। इसके बाद वह शारीरिक शोषण करने लगा। आरोप है कि अब आरोपी उसे छोड़कर कहीं फरार हो गया। अब वह कहीं की नहीं रही, पीड़िता जब पुलिस के पास गई तो देवा कोतवाली पुलिस ने न्याय देने की बजाय उसे भगा दिया। इससे क्षुब्ध होकर वह राजधानी पहुंची और अपनी जान देने की कोशिश करने लगी।

पुलिस ने आरोपी को जेल भेजने के बजाय थाने में करवाई शादी

उन्नाव कांड में हुई फजीहत के बाद भी यूपी पुलिस रेप पीड़िताओं के मामले में संवेदनशील नज़र नहीं आ रही है। ताज़ा मामला बाराबंकी का है। यहां सुनवाई न होने से आहत रेप पीड़िता ने 24 अप्रैल को सीएम आवास के सामने आत्मदाह की चेतावनी जारी करने के बाद आत्मदाह का प्रयास किया। पीड़िता की माने तो करीब साल भर पहले उसके ही ममेरे भाई राजकमल ने उसे अपनी हवस का शिकार बना डाला और डरा धमका कर उसके जिस्म से खिलवाड़ करता रहा। अपने साथ होने वाली हैवानियत से त्रस्त आकर जब पीड़िता ने अपना मुह खोला और फतेहपुर कोतवाली पहुच कर इंसाफ की गुहार लगाई तो पुलिस ने आरोपी राजकमल और उसके घरवालों से सांठगांठ के चलते राजकमल को गिरफ्तार कर जेल भेजने की जगह कोतवाली में ही राजकमल के साथ पीड़िता की शादी करवा दी और पीड़िता को आरोपी के घर भेज दिया।

थाने के दारोगा पर अश्लील बातें करने का आरोप

लेकिन देवा इलाके के कुतलुपुर गांव स्थित राजकमल के घर आते ही सोची समझी साजिश के तहत पति राजकमल और उसके घरवालों ने पीड़िता को यातनाएं देनी शुरू कर दी और उसे मारपीट कर घर से निकाल दिया। ताला लगाकर सभी फरार हो गए। पीड़िता की माने तो कई दिनों तक घर के बाहर पड़े रहने के बाद भी जब पति और उसके घरवाले वापस नहीं लौटे तो पीड़िता ने देवा थाने से लेकर बाराबंकी के एसपी तक इंसाफ की गुहार लगायी। लेकिन उसकी कहीं सुनवाई नहीं हुई। अलबत्ता देवा थाने में तैनात दारोगा राशिद खान ने उसके साथ अश्लील बातें शुरू कर दी। जिससे आहत पीड़िता ने सीएम योगी को भी पत्र लिखा था। लेकिन उसके बाद भी उसकी सुनवाई नहीं हुई जिससे आहत पीड़िता ने मंगलवार को सीएम आवास के सामने आत्मदाह की कोशिश की।

ये भी पढ़ें- निगोहा: प्रिंसिपल ने मासूम बच्ची को पीटा, आंख में आई गंभीर चोट

ये भी पढ़ें- खौफ के साये में दारोगा: बदमाशों के डर से परिवार सहित किया पलायन

ये भी पढ़ें- मेरठ के एएसपी सिटी की तानाशाही: सड़क पर लोगों को पीटा दीं गंदी गालियां

ये भी पढ़ें- बंथरा: हरौनी रेलवे स्टेशन पर भगदड़ से दो यात्रियों की मौत, हंगामा

ये भी पढ़ें- एएसपी ने WhatsApp ग्रुप पर की गंदी पोस्ट, मीडिया को बताया वैश्या

ये भी पढ़ें- इटावा: थाने के भीतर पुलिसकर्मियों पर महिला ने लगाया छेड़छाड़ का आरोप

ये भी पढ़ें-  यूपी में 26 एडीशनल एसपी के तबादले, सूची देखें

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : barabanki sexual harassment victim women attempt to self immolation at CM House

Related posts

सरकार अपराधियों के साथ, हवालात में आम आदमी- रिहाई मंच

Sudhir Kumar

हरदोई पुलिस के असलहे हुए ‘अर्जुन का गांडीव’, अंधेरे में लक्ष्य भेद कर सटीक निशाने से बदमाशों को कर रहे घायल

Sudhir Kumar

इटावा में डबल मर्डर : दो सगी बहनों की गोली मारकर हत्या

Sudhir Kumar

Leave a Comment