बसपा नेता हत्याकांड: एसपी ने थाना प्रभारी सहित 39 सिपाहियों को हटाया

SP Removes 39 Cop And Inspector in BSP Leader Murder Case

उत्तर प्रदेश के आंबेडकर नगर जिला में पिछली 15 अक्टूबर को हुई बसपा नेता जुगराम मेंहदी और ड्राइवर सुनीत यादव की गोली मारकर हत्या के मामले में एसपी ने बड़ी कार्रवाई की है। एसपी विपिन कुमार ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हंसवर थाना प्रभारी देवी चरण गुप्त को हटा दिया है। थाने में हेड कांस्टेबल से लेकर कंप्यूटरकर्मी तक सभी 39 पुलिसकर्मियों का तबादला कर दिया गया है। थाने में तीन-तीन अन्य दरोगा को भी हटाने की तैयारी है।

पुलिसवाले कर रहे थे सूचनाएं लीक

जुरगाम के पुत्र की तहरीर पर पुलिस ने माफिया हरसम्हार निवासी खान मुबारक के अलावा 9 अज्ञात पर केस दर्ज किया था। जांच के दौरान अफसरों को शिकायत मिली थी की हंसवर पुलिस लापरवाही बरत रही है। कुछ पुलिसवाले सूचनाएं लीक कर रहे हैं। आरोप सही पाने पर एसपी ने सभी को हटा दिया। राजे सुल्तानपुर थाने के नायब दरोगा संतोष शुक्ला को हंसवर थाने का प्रभारी बनाया गया है। एसपी ने कहा कि कहा कि गैरजिम्मेदार पुलिसकर्मियों को कड़ा संदेश देने के लिए पूरे थाने पर कार्रवाई की गई है।

गोली लगने से दो राहगीर भी हुए थे घायल

गौरतलब है कि हंसवार थाना क्षेत्र में पिछली 15 अक्टूबर को नसीराबाद निवासी बसपा नेता जुगराम यादव सोमवार सुबह करीब 9:30 बजे के अपनी जीप में सवार होकर गांव से टांडा शहर जा रहे थे। गाड़ी उनका चालक सुनीत यादव चला रहा था। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि गाड़ी जब रामपुर स्थलवा के पास पहुंची तभी अज्ञात बाइक सवार तीन बदमाशों ने उन पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर शुरू दी। जुगराम और चालक सुनीत को सीने समेत शरीर में कई जगह गोलियां लगीं। इस दौरान उधर से गुजर रहे दो राहगीरों को भी गोलियां लगीं। सरेआम हुई इस घटना से भगदड़ मच गई। सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने सभी को अस्पताल पहुंचाया। यहां इलाज के दौरान डॉक्टरों ने बसपा नेता और उनके चालक को मृत घोषित कर दिया। सूत्रों के मुताबिक माफिया खान मुबारक से जुगराम की पुरानी रंजिश चली आ रही थी। एक साल पहले भी उसने हमला करवाया था। आशंका जताई जा रही है कि खान मुबारक ने ही हत्या करवाई है। इस घटना में गोली लगने से दो राहगीर भी घायल हुए हैं, जिनका इलाज चल रहा था।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Sudhir Kumar

Related posts

मुजफ्फरनगर: शिव मंदिर तोड़ने का प्रयास, पुलिस की सजगता से बची बड़ी घटना

Sudhir Kumar

लखनऊ के गैंगस्टर रुस्तम ने YouTube पर जारी किया वीडियो

Sudhir Kumar

भाजपा विधायक पर केस, प्रमुख सचिव और डीजीपी ने की संयुक्त प्रेसवार्ता

Sudhir Kumar