CWG 2018: साइना ने गोल्ड, सिंधु-श्रीकांत ने जीता सिल्वर

cwg-2018-saina-nehwal-wins-gold-pv-sindhu-kidambi-silver-in-badminton

कॉमनवेल्थ गेम्स में 11वें और आखिरी दिन भारत ने बैडमिंटन में तीन मेडल जीते। साइना नेहवाल ने गोल्ड, पीवी सिंधु और किदांबी श्रीकांत ने सिल्वर मेडल अपने नाम किए। बैडमिंटन के वुमेन्स सिंगल्स का फाइनल मुकाबला साइना और सिंधु के बीच हुआ। जिसमें साइना ने सिन्धु को हरा कर जीत गोल्ड पर जीत दर्ज करवाई।

कॉमनवेल्थ खेलों में 26 स्वर्ण भारत के पास:  

ऑस्ट्रेलिया के गोल्ड कोस्ट में चल रहे राष्ट्र मंडल खेलो के आज आखिरी दिन बैडमिंटन खिलाड़ियों का जलवा रहा. जहाँ महिला एकल में साइना ने नेहवाल ने भारत की ही पीवी सिन्धु को हरा कर गोल्ड जीता वही पीवी सिंधु को सिल्वर से संतोष करना पड़ा.

मेंन्स सिंगल्स के फाइनल में किदांबी श्रीकांत मलेशिया के ली चोंग वेई से 19-21, 21-14, 21-14 से हारते हुए सिल्वर जीत सके. इसके अलावा भारत को स्क्वैश में एक सिल्वर और टेबल टेनिस में दो ब्रॉन्ज मेडल मिले। इस तरह भारत ने कॉमनवेल्थ गेम्स में अपने 84 साल के इतिहास में 500 मेडल्स का आंकड़ा पार कर लिया है।

cwg 2018
cwg 2018

भारत ने जीते 6 मेडल

– भारत ने 11वें दिन 1 गोल्ड, 3 सिल्वर और 2 ब्रॉन्ज समेत 6 मेडल जीते। वह गोल्ड कोस्ट में अब तक 65 मेडल जीत चुका है। इसमें 26 गोल्ड हैं। मेडल टैली में वह तीसरे स्थान पर बना हुआ है। भारत के अब तक हुए कॉमनवेल्थ गेम्स में 503 मेडल हो गए हैं।

जाने फाइनल्स एक नजर में:

बैडमिंटन (वुमेन्स सिंगल्स): साइना ने 56 मिनट में सिंधु को हराया

बैडमिंटन (मेन्स सिंगल्स): श्रीकांत गोल्ड से चूके, सिल्वर से करना पड़ा संतोष

बैडमिंटन (पुरुष डबल्स): सात्विक/रानिकीरेड्डी/चिराग शेट्टी पुरुष डबल्स के फाइनल में गोल्ड मेडल के लिए इंग्लैंड के मारकस एलिस/क्रिस लैंगग्रिज से मुकाबला किया। जीता सिल्वर मेडल। ये दोनों बैडमिंटन पुरुष डबल्स में मेडल जीतने वाले पहली भारतीय जोड़ी बने।

स्क्वैश (महिला डबल्स): दीपिका पल्लीकल/जोशना चिनप्पा ने जीता सिल्वर मेडल, फाइनल में न्यूजीलैंड की किंग/लेंडर्स-मर्फी से हारीं।

टेबल टेनिस (पुरुष सिंगल्स): ब्रॉन्ज मेडल मुकाबले में सैमुअल वॉकर के खिलाफ भारत के अचंता शरत कमल ने पहले गेम 11-7 से जीता।

टेबल टेनिस (महिला डबल्स): मनिका बत्रा/गणेसेकरन साथियान ने फाइनल में हमवतन अचंता शतर कमल/मौमा दास को हराकर जीता ब्रॉन्ज मेडल, ये इन खेलों में मनिका का चौथा ब्रॉन्ज है। इससे पहले वह टीम इवेंट और सिंगल्स में गोल्ड और महिला डबल्स में मौमा दास के साथ मिलकर सिल्वर जीत चुकी हैं।

Related posts

यूपी के कुलदीप यादव क्यों हैं भारतीय क्रिकेट टीम के लिए खास!

Namita

धर्मशाला के बाद सोशल मीडिया पर छाए चाइनामैन कुलदीप यादव!

Namita

आईपीएल देखने के शौक़ीन है आप, तो जाने आगामी सीजन की कुछ दिलचस्प बातें!

Namita

Leave a Comment