You Already Reviewed
महेन्द्रनाथ पाण्डेय के सांसद आदर्श ग्राम जरखोर का #RealityCheck (Star Rating : 0)

उत्तर प्रदेश के भाजपा के अध्यक्ष और चंदौली के सांसद महेन्द्रनाथ पाण्डेय ने बबुरी के जरखोर गाँव को सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत 2014-15 के लिए गोद लिया था. इस गाँव का चयन सांसद ने 33 गाँवों में से लॉटरी सिस्टम के द्वारा पर्ची निकालकर किया था. गोद लेने के बाद अचानक से यह गाँव सुर्ख़ियों में आ गया था.

महेन्द्रनाथ पाण्डेय के सांसद आदर्श ग्राम जरखोर का #RealityCheck

Sansad Adarsh Gram Yojna Reality Check:Jarkhor Mahendra Nath Pandey
Sansad Adarsh Gram Yojna Reality Check:Jarkhor Mahendra Nath Pandey

अगर आज की बात करे तो पहले इस गाँव की जो तस्वीर थी आज भी वही नज़र आती है. स्थानीय सांसद ने पक्की सड़कें, पक्के मकान, अस्पताल और पानी की टंकी और शौचालय निर्माण से जुड़े कई वादे किये थे जो अब भी ठंडे बस्ते में पड़ी है. लंबित योजनाओं में गाँव के तालाब का सौन्दर्यीकरण भी शामिल है. आदर्श गाँव के रूप में चयनित होने पर लोगों में जो उम्मीद की जो किरण जगी थी वो अब बेरुखी के बादलों के बीच ख़त्म हो चुकी है.

  यह भी पढ़े ::  गोद लिए जाने के बाद भी नही हुआ जरखोर गाँव का विकास

गाँव के दलित बस्ती की तस्वीर तो दूसरी बस्तियों से भी बदतर है. यहाँ मूलभूत सुविधाओं का घोर आभाव दिखता है. यहाँ के लोग अपने साथ सौतेला व्यवहार होने का आरोप लगाते है. यहाँ मुआयने के अलावा और कोई कार्य पूरा हुआ नहीं दिखता आलम यह है की प्रधानमंत्री की महत्वकांक्षी आदर्श ग्राम योजना यहाँ की तस्वीर देख मात्र औपचारिकता भर ही नज़र आती है.

चार साल बीत जाने के बाद अब भी यहाँ के लोगों को विकास कार्यों का इंतज़ार है. इसके अलावा महेन्द्रनाथ पाण्डेय ने शिवपुर गाँव को भी गोद लिया हुआ है मगर वहां की तस्वीर भी यहाँ से भिन्न नहीं है.

REALITY CHECK : SANSAD ADARSH GRAM YOJANA (SAGY) OF UTTAR PRADESH

 

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

0

Leave a Comment

Related posts

Yashvant

UP News Desk

Bihari Lal Arya

UP News Desk

Shobha Singh Chauhan

UP News Desk