You Already Reviewed
विनोद कुमार सोनकर के सांसद आदर्श ग्राम शमसाबाद का #RealityCheck (Star Rating : 0)

प्रधानमंत्री मोदी की महत्वकांक्षी सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत कौशाम्बी के सांसद विनोद कुमार सोनकर ने सिराथू ब्लॉक के शमसाबाद को 2014 में गोद लिया था. मिनी मुरादाबाद और पीतल उद्योग के लिए  मशहूर इस गाँव के लोगों को लगा की अब उनके अच्छे दिन ज़रूर आयेंगे. लोगों में उम्मीद जगी की अब उन्हें बिजली, सड़क, पानी, शौचालय और अस्पताल जैसी मूलभूत सुविधायें मिलेंगी और अपनी आख़िरी सांसे गिन रहे यहाँ के पीतल उद्योग को फिर से नई ज़िन्दगी मिलेगी. आज लगभग चार साल बाद गाँव की तस्वीर तो नहीं बदली मगर लोगों का उत्साह मायूसी में बदल चुका है.

Vinod Kumar Sonkar SAGY adopted village shamshabad

गाँव में बिजली की स्थिति पहले से बेहतर हुई है. यहाँ की स्वास्थ्य व्यवस्था भी संतोषजनक नज़र आती है.

65 सौ परिवार वाला यह गाँव आज भी खुले में सोच से मुक्त नहीं हो पाया है. सरकारी आंकड़ों की माने तो यहाँ कुल 383 शौचालय बनाये गए और अब यह इलाका खुले में शौच से मुक्त यानी ओडीएफ हो चुका है. गाँव के तीस फ़ीसदी लोग अब भी खुले में शौच जाने को मजबूर है ये हालत इसलिए है क्योंकि यहाँ जो शौचालय बनाये गए थे उनमे से ज़्यादातर अब प्रयोग करने लायक नहीं बचे है. ज़्यादातर घरों में यहाँ पहले से शौचालय मौजूद थे. 50 से ज्यादा लोगों को शौचालय निर्माण का पैसा भी दिया गया मगर शौचालय निर्माण का काम अभी शुरू नहीं हो सका.

शमसाबाद में विकास की रफ़्तार बहुत धीमी है. इस गाँव को 2016 तक आदर्श गाँव बन जाना था मगर यह अब भी किसी सामान्य गाँव जैसा ही दिखता है.

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

0

Leave a Comment

Related posts

Gyan Tiwari

UP News Desk

Rajkumar Agarwal

UP News Desk

Chhote lal

UP News Desk