You Already Reviewed
रामशंकर कठेरिया के सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत पिल्खात्र गाँव का #RealityCheck (Star Rating : 0)

जब प्रधानमंत्री ने 2014 में सांसद आदर्श ग्राम योजना शुरू की थी तब सांसदों ने बढ़ चढ़ कर हिस्सा लिया और ज्यादातर सांसदों, खासकर भाजपा सांसदों, ने एक एक गाँव को गोद ले लिया, इस उद्देश्य से की उस गाँव में विकास की आंधी लायेंगे और उसे के आदर्श गाँव बनायेंगे. पर ऐसा हुआ कुछ नहीं. खासकर के उत्तर प्रदेश में जहाँ हालत ज्यादा नहीं बदले हैं. सांसदों ने गाँव को गोद ले तो लिया पर जल्दी ही इसके बारे में भूल भी गये. और दूसरे और तीसरे चरण में तो सांसदों के गाँव गोद लेने में भरी गिरावट आई.

ऐसे ही आगरा के सांसद राम शंकर कठेरिया ने पहले चरण में अवगढ़ जिले के पिल्खात्र गाँव को गोद लिया था और दूसरे चरण में शिवालय टेहु को. आगरा अटल बिहारी बाजपेयी की जन्म स्थली है पर फिर भी यहाँ के सांसद ने इस पर कोई ख़ास ध्यान नहीं दिया है. बात करें पहले गाँव की तो यहाँ काम बहुत ज्यादा नहीं हो सका है. इसका कारण सांसद फण्ड की कमी बताते हैं. सड़कें बनी हैं पर अब उनकी हालत भी खराब हो चुकी है.

पर दूसरे गाँव टेहु की हालत तो इससे भी ज्यादा खराब है. यहाँ लगभग हर घर में एक मलेरिया या वायरल बुखार का रोगी है. सिर्फ बच्चे ही नहीं बल्कि युवा और बुजुर्ग भी पीड़ित हैं. विकास से कोसों दूर इस गाँव में उपचार केंद्र भी महीनों से बंद पड़े हैं. गोद लेने के बावजूद यहाँ के ग्रामीणों के लिए सांसद के दिल में कोई सहानुभूति नहीं है शायद. इतने सारे व्यक्तियों के एक साथ बीमार होने के बावजूद सांसद ने इस क्षेत्र की कोई सुध नहीं ली है.

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

0

Leave a Comment

Related posts

Sadhana Singh

UP News Desk

तेज प्रताप यादव के सांसद आदर्श ग्राम सगामई का #RealityCheck

UP News Desk

अमर सिंह के सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत वाराणसी के रमना गाँव का #RealityCheck

UP News Desk