You Already Reviewed
कलराज मिश्र के सांसद आदर्श ग्राम प्यासी का #RealityCheck (Star Rating : 0)

देवरिया के सांसद कलराज मिश्र ने सलेमपुर ब्लॉक के पयासी और फ़ाज़िलनगर ब्लॉक के धौरहरा गाँव को सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत गोद लिया है. पयासी कलराज मिश्र का पैतृक गाँव है यही वजह है की कलराज मिश्र ने पहले गाँव के रूप में इसका चयन किया.

Kalraj Mishra SAGy adopted village

दोनों ही गाँवों में सड़क की व्यवस्था बाकि इलाकों से बेहतर है मगर इन्हें आदर्श नहीं कहा जा सकता क्योंकि मिशन मोड़ में बनी सड़कों में कई सड़के अब भी ज़र्जरहाल में है.

5000 की आबादी वाला धौरहरा गाँव में बारह बस्तियां है. वाले इस गाँव की सभी बस्तियां रोशन हो चुकी है मगर बिजली की आपूर्ति जस की तस है. गाँव में बड़ी संख्या में जन धन योजना के लाभार्थी देखे जा सकते है. मगर सांसद महोदय का बैंक खुलवाने का दावा अब भी अधुरा है. इस गाँव में आठवीं तक शिक्षा के लिए विद्यालय मौजूद है मगर गाँव के निवासियों को अब भी इंटर कॉलेज का इंतज़ार है, जिसका स्थानीय सांसद ने वादा किया था. लंबित पड़े वादों में खेल का मैदान बनाने का वादा भी शामिल है.

यहां आरओ प्लांट ज़रूर लगा है मगर बिजली कई सप्लाई नहीं होने से यह अभी तक चालु नहीं हो सका है. लघु और कुटीर उद्योग का मंत्री रहते हुए कलराज मिश्र ने स्वरोजगार के उद्देश्य सेऔर ग्रामीणों को कुटीर उद्योग से जोड़ने के लिए चरखा केंद्र खोला मगर कुछ दिन चलने के बाद यह चरखा केंद्र भी अब बंद हो चुका है.आदर्श ग्राम बनने के बाद यहाँ 44 लाइटें लगी मगर अब ज्यादातर ख़राब हो चुकी है. कुल मिलाकर गाँव में मौजूद टंकी, शुरू होने का इंतज़ार करता आरओ प्लांट और नवनिर्मित विवाह भवन ही कलराज मिश्र की उपलब्धि के रूप में दिखाई पड़ते है.

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

0

Leave a Comment

Related posts

Suresh Kumar Shrivastav

UP News Desk

Manoj Kumar Pandey

UP News Desk

Bandana Singh

UP News Desk