You Already Reviewed
अंशुल वर्मा के सांसद आदर्श ग्राम मुंडेर का #RealityCheck (Star Rating : 0)

हरदोई से लोकसभा सांसद अंशुल वर्मा ने सांसद आदर्श ग्राम योजना के तहत अबतक तीन गाँव मुंडेर,खुजुरहरा और रेंगाई गाँव को गोद लिया है. मुंडेर गाँव को सांसद अंशुल सक्सेना ने इस योजना के पहले फेज में गोद लिया था उस वक़्त यह योजना नई थी और मुंडेर की ख़ूब चर्चा हुई.जिला मुख्यालय से 45 किलोमीटर दूर बसे मुंडेर गांव की आज की स्थिति की बात करे तो यहाँ कोई बदलाव नहीं दिखता, स्थिति जस की तस है.

ज़्यादातर सड़के अब भी खस्ताहाल है. न तो बिजली की व्यवस्था है और न पानी की. आलम यह है की अब स्थानीय लोग ख़ुद को ठगा हुआ महसूस कर रहे है उनका कहना है की सांसद कभी उनका हाल जाने भी नहीं आते.

गाँव में लगे ज्यादातर नल ख़राब पड़े हुए है. पीने की पानी की समस्या दिनोंदिन विकराल रूप ले रही है. सांसद का पानी की टंकी बनवाने का दावा अब भी अधूरा है. शौचालय निर्माण के नाम पर यहाँ केवल रस्म अदायगी नज़र आती है. लिहाज़ा गाँव में आधे से ज्यादा लोग अब भी खुले में शौच जाने को मजबूर है. यह तस्वीर है जब राज्य में भी उसी पार्टी की सरकार है जिस पार्टी से सांसद अंशुल वर्मा का ताल्लुक है.

जहाँ एक ओर मुंडेर अब भी मूलभूत चीज़ों के लिए तरस रह है वहीँ इसका पड़ोसी गांव माजरा रूपपुर विकास के मामले में बहुत आगे है। गांव में सड़क, बिजली, पानी, स्कूल, अस्पताल, डाकघर, दो-दो बैंक ब्रांच, शुगरफैक्ट्री के साथ दो मुख्य शाहाबाद-पाली और मीरनपुरकटरा-बिल्हौर मार्गों के बीच बसा है।

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

0

Leave a Comment

Related posts

Lakhan Singh

UP News Desk

Durga Prasad Yadav

UP News Desk

Moolchandra Singh

UP News Desk