रक्तदान महादान नहीं, आपके खून का व्यापार है

Deepak Singh
मुजफ्फरनगर में पचास से अधिक बार रक्तदान करने वाले सुमित को आज जब खून की ज़रूरत है तो उन्हें कहीं भी नहीं मिल रहा| उन्होंने

जिन्ना बनाम गन्ना की सियासत में संघ बनाना चाहती है सुरेश राणा को BJP का ट्रम्प कार्ड

Nazim Naqvi
कैराना में हार के कारण कुछ और हैं, संघ और पार्टी फ़िलहाल यूपी में ऐतिहासिक गन्ने के उत्पादन को कराना चाहती है किसानो में कैश.

आरएसएस के मंच पर प्रणव मुख़र्जी का जाना एतिहासिक तो है…

Nazim Naqvi
आज शाम साढ़े 6 बजे नागपुर के रेशमी बाग़ में भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुख़र्जी आरएसएस के दीक्षांत समारोह को संबोधित करेंगे. जब से

कैराना उपचुनाव नतीजे: यहाँ से लेकर 2019 तक, जो कुछ है बस सियासत है

Nazim Naqvi
तमाशाइयों के पास इसके अलावा और चारा ही क्या है कि वह किनारे खड़े होकर दंगल देखें और अपने अनुभव के आधार पर लड़ने वालों

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी: देश की “HELP”

Shivani Awasthi
H यानि High (ऊँचा) E यानि Earn (प्राप्त करना) L यानि Learned (ज्ञानवान) P यानि Prime Minister  ‘‘प्रधानमंत्री’’ हेल्प (HELP) के चार शब्द हमारे देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेन्द्र भाई मोदी जी में बखूबी समाये हुए है। सबका साथ-सबका

जब प्लस में नहीं जीत पाए तो माइनस में कैसे जीतेंगे..?

Nazim Naqvi
कर्नाटक चुनाव में जो होना था हो चुका है. सरकार किसकी बनेगी इसमें कर्नाटक-वासियों की दिलचस्पी ज़रूर हो सकती है, बीजेपी, कांग्रेस और जद(स) के

1929 में जिन्ना ने किया था भगत सिंह का बचाव

Shivani Awasthi
पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना को अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय में उनके चित्र के खिलाफ विरोध करने वाले लेफ्ट विंग समूहों से आलोचनाओं का सामना

तुम उन्हें रोक तो नहीं सकते: दूसरी किस्त

Nazim Naqvi
यह दास्तान उन बाबाओं के मनो-विज्ञान को समझने की दास्तान नहीं, जो अपने अनुयायियों की मजबूरियों से, उनकी संवेदनाओं से, उनके भोलेपन से खेलते हैं.

तुम उन्हें रोक तो नहीं सकते: एक लम्बी दास्तान की पहली क़िस्त

Nazim Naqvi
हां, ये बिलकुल तय है कि तुम उन्हें रोक नहीं सकते… यह कलम, यही मानते हुए ही लिख रहा है की तुम उन्हें नहीं रोक