पीएम मोदी ने कभी काट दी थी अपने कुर्ते की बाजू, अब बन गया फैशन

pm narendra-modi-has-cut-kurta sleeves become fashion

‘मित्रों’ और ‘मेरे प्यारे भाई बहनों’ के अलावा अगर देश और विदेश में पीएम मोदी के बारें में कुछ सबसे ज्यादा प्रसिद्ध हुआ तो वो है उनका स्टाइलिश पर सादगी भरा कुर्ता. यानी मोदी कुर्ता जो अब ट्रेंड बन गया है.

पीएम मोदी का आधी बाजू का कुर्ता बना फैशन:

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश के वो नेता है जो जब केन्द्र की सत्ता में काबिज हुए तो पूरे भारत में सिर्फ उनके नाम की ही लहर रही. 2014 का चुनाव मोदी लहर बन गया, तो भाजपा समर्थक देखते ही देखते मोदी भक्त कहलाये जाने लगे. अटल और आडवाणी की भाजपा नरेंद्र मोदी की भाजपा में बदल गयी.

यानी की पीएम मोदी की लोकप्रियता का नशा इस कदर लोगों पर चढ़ा कि हर चीज पर मोदी मोदी ही नजर आने लगा. फिर देश के इतने लोकप्रिय नेता की बात हो और उनके स्टाइल को कॉपी न किया जाये ऐसा तो ही नहीं सकता.

नेहरु फैशन के बाद छाया मोदी फैशन का खुमार:

मित्रों’ और ‘मेरे प्यारे भाई बहनों‘ के अलावा अगर देश और विदेश में पीएम मोदी के बारें में कुछ सबसे ज्यादा प्रसिद्ध हुआ तो वो था उनका कुर्ता. यानी मोदी कुर्ता जो अब तो ट्रेंड बन गया है.

वहीं ट्रेंड जो देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरु के बंद गले वाले कोट से बना था. उसकी लोकप्रियता इतनी ज्यादा थी कि बंद गले के कोट को नेहरु लगा ही कहा जाने लगा. और आज भी लोग इसे नेहरु गला ही कह कर पुकारते हैं.

अब उसी क्षेणी में आया है मोदी कुर्ता. पीएम मोदी के कुर्ते का स्टाइल अपने आप में अलग और ख़ास था. आधी बाजु वाला कुर्ता देश में फैशन लाने वाले प्रधानमंत्री मोदी ही थे।

क्या है मोदी कुर्ते की कहानी:

  • लेकिन यह जानना काफी रोचक है कि मोदी कुर्ता वजूद में आया कैसे?
  • आखिर क्या है पीएम मोदी के आधी बाजू वाले कुर्ते की कहानी?

पीएम मोदी ने बताया क्यों काटा था कुर्ते का बाजू:

पीएम मोदी ने एक बार उनके कुर्ते के बारे में पूछे गये सवाल पर खुद इसके पीछे की कहानी बता थी. स्वयम सेवक संघ से जुड़े नरेंद्र मोदी ने बताया था कि आरएसएस और भाजपा में काम करने का मतलब सिर्फ लगातार यात्राएं ही नहीं होती.

उन्होंने कहा कि स्वयं सेवकों को अनिश्चित और कठिन काम भी करने होने हैं. मैंने भी वो सब किया.

पीएम मोदी ने कहा कि उन्हें अपने कपड़े खुद धोने पड़ते थे, पूरी बाह का कुर्ता धोना ज्यादा मुश्किल लगता था, साथ ही समय भी ज्यादा लगता था ये सोच कर उन्होंने अपने कुर्ते को काटकर आधी बाजू का करने का फैसला किया.

बस फिर क्या था सादगी और आसानी के लिए कुर्ते की बाजू काटना बन गया स्टाइल स्टेटमेंट.

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Shivani Awasthi

Related posts

अरविन्द केजरीवाल ने मांगी अरुण जेटली से माफ़ी

Shivani Awasthi

Live: PM मोदी ने की जानकी मन्दिर में पूजा, पंडित ने पहनाया ‘पाग’

Shivani Awasthi

राहुल गाँधी के मोदी सरकार को F ग्रेड देने पर बीजेपी ने किया पलटवार

Shivani Awasthi