Home » देश » जयपुर के राजघराने का दावा- भगवान श्री राम के पुत्र कुश का वंशज है उनका परिवार, दिए सबूत

जयपुर के राजघराने का दावा- भगवान श्री राम के पुत्र कुश का वंशज है उनका परिवार, दिए सबूत

Lord Ram's son Kush

अयोध्या में राम जन्मभूमि विवाद का केस सुप्रीम कोर्ट में चल रहा है. इस बीच सुनवाई के दौरान 9 अगस्त को कोर्ट ने रामलला के वकील से पूछा था कि क्या भगवान राम का कोई वंशज अयोध्या या दुनिया में कहीं  हैं? इस पर वकील ने जवाब दिया था कि हमें इसकी जानकारी नहीं है. लेकिन अब इस मामले में जयपुर राजघराने की पूर्व राजकुमारी और राजसमंद से बीजेपी सांसद दीया कुमारी ने एक बयान दिया है.

  • उन्होंने कहा कि भगवान राम के वंशज पूरी दुनिया में फैले हैं.
  • साथ ही उन्होंने दावा किया कि उनका परिवार भगवान राम के बेटे कुश का वंशज है.
  • राजस्थान के राजसमंद से बीजेपी सांसद दीया कुमारी ने इसके सबूत भी दिए हैं.
  • उन्होंने एक पत्रावली दिखाई है,
  • जिस पर अयोध्या के राजा श्री राम के वंश के सभी पूर्वजों का क्रमवार नाम लिखा हुआ है.
  • इसी में 209 में वंशज के रूप में सवाई जयसिंह और 307वें वंशज के रूप में महाराजा भवानी सिंह का नाम लिखा हुआ है.
  • दीया कुमारी ने बताया कि भगवान श्रीराम सबकी आस्था के प्रतीक हैं.
  • राम मंदिर मामले की सुनवाई तेजी से हो और अदालत जल्द अपना फैसला सुनाए,
  • यही हमारी मंशा है.’ दीया कुमारी ने कहा,‘हम भगवान श्रीराम के वंशज हैं उसका आधार हमारे पास है.

हस्तलिपि,वंशावली, दस्तावेज हमारे पोथी खाने में मौजूद हैं.’

  • उन्होंने कहा कि मंदिर जल्द से जल्द बनना चाहिए और इसमें रुकावटें नहीं आनी चाहिए.

 

  • जयपुर राजघराने के सिटी पैलेस के पोथीखाने में रखे हुए 9 दस्तावेज और दो नक्शे ये बताते हैं कि अयोध्या के जय सिंह पुरा और राम जन्म स्थान सवाई जयसिंह द्वितीय के अधीन थे.
  • एक अन्य दस्तावेज के अनुसार, 1776 में नवाब वजीर आसफउद्दौला ने राजा भवानी सिंह को हुक्म दिया था कि अयोध्या और इलाहाबाद स्थित जयसिंह पुरा में कोई दखल नहीं देंगे.

  • औरंगजेब की मृत्यु के बाद सवाई जयसिंह द्वितीय ने हिंदू धार्मिक इलाकों में बड़ी जमीनें खरीदीं.
  • 1717 से 1725 में अयोध्या में राम जन्म स्थान मंदिर भी बनवाया था.
  • जाने-माने इतिहासकार आर. नाथ ने भी एक किताब लिखी है.
  • ‘द जयसिंहपुरा ऑफ सवाई राजा जयसिंह एट अयोध्या’ नाम के इस किताब के एनेक्सचर-2 के मुताबिक, अयोध्या के राम जन्म स्थल मंदिर पर जयपुर के कछवाहा वंश का अधिकार था.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Nidhi Singh

Related posts

उन्नाव-कठुआ रेप केस: स्वाति मालीवाल अनिश्चितकालीन अनशन पर

Shivani Awasthi

पश्चिम बंगाल में अगर हमारी सरकार आती है तो टीएमसी के गुंडों को भी गोली ही मिलेगी- योगी आदित्यनाथ

Nisha Tiwari

विधानसभा चुनाव में प्रचार के लिए आज गुजरात रवाना होंगे CM योगी

Divyang Dixit