Home » देश » कर्नाटक चुनाव- शाह की रैली में ट्रांसलेटर ने कहा मोदी देश बर्बाद कर देंगे

कर्नाटक चुनाव- शाह की रैली में ट्रांसलेटर ने कहा मोदी देश बर्बाद कर देंगे

bjp kannad-translator-became-problem-for-amit-shah-and-bjp-in-karnataka

कर्नाटक चुनाव की तारीख आने के बाद से ही राजनीतिक दल चुनाव प्रचार में जुट गये है. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह चुनाव आयोग द्वारा तारीख आने से पहले से ही कर्नाटक में चुनाव दौरे पर है. वही राहुल गाँधी भी कर्नाटक चुनाव के लिए तत्परता से लगे हुए हुए है.

अमित शाह भी बता चुके है येदुरप्पा को भ्रष्ट:

कर्नाटक चुनाव शुरू से ही बीजेपी के लिए मुसीबतों का सबब बन चुका है. उसी कड़ी के आज भाजपा की किरकिरी कर देने वाला एक और मामला सामने आया है. मामला ये है कि बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह आज दवानागिरी की रैली में थे. यहां अमित शाह ने सिद्धारमैया सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि, ” सिद्धार्थमैया सरकार कर्नाटक का विकास नहीं कर सकती. आप मोदी जी पर विश्वास करके येदुरप्पा को वोट दीजिये. हम कर्नाटक को देश का नंबर वन राज्य बनाकर दिखाएंगे.”

लेकिन अमित शाह के इस बयान की किरकिरी तब हुई जब धारवाड़ से बीजेपी सांसद प्रह्लाद जोशी ने इसे कन्नड़ में गलत ट्रांसलेट कर दिया. उन्होंने कहा कि, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गरीब, दलित और पिछड़ों के लिए कुछ भी नहीं करेंगे. वो देश को बर्बाद कर देंगे. आप उन्हें वोट दीजिये.”

बता दे कि इससे पहले भी अमित शाह ने एक प्रेस वार्ता के दौरान कर्नाटक की सिद्धारमैया सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा था, कि “यदि भ्रष्टाचार में कोई प्रतिस्पर्धा कर ली जाए तो येदियुरप्पा सरकार को इस प्रतियोगिता में नंबर वन स्थान मिल जाएगा।’ शाह ने जिस दौरान यह बयान दिया उस वक्त खुद येदियुरप्पा भी उनके बगल में बैठे हुए थे।

गौरतलब है कि यह पहला मौका नहीं है जब उत्तर भारतीय बीजेपी नेताओं को दक्षिण भारत में प्रचार करने में दिक्कत हुई हो. इसके पहले फरवरी में जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बेंगलुरु में सभा करने आए थे, तब रैली में आए अधिकतर लोगों को हिंदी में दिया हुआ भाषण समझ ही नहीं आया.

इस बारे में बीजेपी प्रवक्ता डॉ. वमनाचार्य ने बताया कि, “कर्नाटक की जनता को हिंदी में भाषण देने वाले नेताओं की कई बातें समझ नहीं आती हैं. बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह का कन्नड़ ट्रांसलेशन केंद्रीय मंत्री अनंत हेगड़े करते हैं तो वहीं कुछ जगह यह काम प्रह्लाद जोशी संभालते हैं.”

वहीं, पिछले चुनाव में बीजेपी के लिए ट्रांसलेशन का काम कर चुके एक कन्नड़ ट्रांसलेटर ने बताया कि, ” इस बार बीजेपी अपने नेताओं से ट्रांसलेशन में मदद ले रही है. इस कारण कई जगह सही बातें भी मजाक बन जाती है.

इससे पहले चित्रदुर्ग में भी रैली के दौरान अमित शाह ने अपने आधे भाषण में ट्रांसलेटर की मदद ली. फिर आधा भाषण उन्होंने हिंदी में दिया. उन्होंने जब हिंदी में कन्नड़ के लोगों से पूछा कि क्या आप येदुरप्पा को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं? तो यह बात लोगों को समझ नहीं आई और उन्होंने नहीं कह दिया.

 

EXCLUSIVE: भाजपा नेता सरोजनी अग्रवाल पर धोखाधड़ी का आरोप

 

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : kannad-translator-became-problem-for-amit-shah-and-bjp-in-karnataka

Related posts

अभिभाषण में राष्ट्रपति ने गिनाई मोदी सरकार की उपलब्धियां

Kamal Tiwari

जिनकी चर्चा में रूचि नही उनसे देश नाराज: पीएम मोदी

UPORG DESK 1

पणजी बीजेपी कार्यालय में अंतिम दर्शन के लिए रखा गया मनोहर पर्रिकर का पार्थिव शरीर 

UP ORG DESK

Leave a Comment