Home » देश » बिहार: उदय नारायण चौधरी ने दिया जदयू से इस्तीफा, लगाये गम्भीर आरोप

बिहार: उदय नारायण चौधरी ने दिया जदयू से इस्तीफा, लगाये गम्भीर आरोप

bihar-ex-speaker-uday-narayan-choudhary-resign-from-jdu

बिहार विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष उदय नारायण चौधरी ने जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) का दामन छोड़ दिया है. उन्होंने पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से इस्तीफा दे दिया है. पार्टी छोड़ने के साथ ही उन्होंने जदयू और मुख्यमंत्री पर कई आरोप भी लगाये.

नीतीश सरकार के पूर्व स्पीकर ने छोड़ी पार्टी:

कभी मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के करीबी रहे पूर्व विधानसभा अध्‍यक्ष (स्‍पीकर) उदय नारायण चौधरी ने जदयू से किनारा कर लिया है। उन्‍होंने पार्टी की दलित विरोधी नीतियों के खिलाफ इस्‍तीफा दे दिया है। उन्‍होंने इशाराें में ही सही, कहा कि अब उनकी राह राजद की ओर जा रही है। उनका दावा है कि जदयू में भगदड़ तय है। उदय नारायण चौधरी के बाद अब युवा जदयू के पूर्व अध्यक्ष संतोष कुशवाहा भी जेडीयू छोड़ेंगे. कुशवाहा गुरुवार को पार्टी छोड़ने का ऐलान करेंगे. उधर, इसपर प्रतिक्रिया देते हुए जदयू ने कहा कि उनके जाने से कोई फर्क नहीं पड़ता।

पार्टी पर लगाये आरोप:

जेडीयू छोड़ने पर उदय नारायण चौधरी ने पार्टी पर आरोप लगाते हुए कहा कि वे 20 सालों से पार्टी को सींचते-संवारते रहे। लेकिन, इसमें कार्यकर्ताओं के बदले धन कुबेरों को तरजीह दी जा रही है। दलितों पर अत्‍याचार पर सरकार मौन है। राज्‍य की कानून-व्‍यवस्‍था भी खराब हो गई है। मुख्‍यमंत्री से बातचीत की, लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला। इससे वे आहत हैं। उदय नारायण चौधरी ने यह भी दावा किया कि जदयू में घट रहे लोगों का बड़ा तबका है। पार्टी में भगदड़ मचनी तय है।

राजद में शामिल हो सकते हैं चौधरी:

अपने आगे की योजना के बारे में पूछे जाने पर चौधरी ने कहा कि यह तो तय हैं भाजपा के गठबंधन वाले मोर्चे में नहीं जाऊंगा. शेष जो भी बचे, उनके साथ हैं। उन्‍होंने खुलकर तो नहीं कहा, लेकिन राजद में शामिल होने की संभावना से इन्‍कार भी नहीं किया। साथ ही उन्होंने कहा कि शरद यादव को मैंने कभी इनकार नहीं किया है.

बता दें कि उदय नारायण चौधरी बीते कुछ समय से पार्टी से नाराज चल रहे हैं. उन्होंने समय-समय पर पार्टी लाइन के खिलाफ बयान दिया है। इतना ही नहीं, वे राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के पक्ष में भी बोलते रहे थे।

जदयू की प्रतिक्रिया:

उदय नारायण चौधरी के पार्टी छोड़ने पर जदयू के प्रवक्‍ता नीरज सिंह ने कहा कि यह उनका निजी फैसला है। इससे जदयू को कोई फर्क नहीं पड़ता। नीरज ने तंज कसते हुए कहा कि अब जबकि उदय नारायण चौधरी राजद में जा ही रहे हैं तो वहां विधानमंडल दल का नेता किसी दलित या महादलित को बनवा दें।

उदय नारायण चौधरी के जेडीयू छोड़ने पर श्याम रजक ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि यह उनकी व्यक्तिगत क्षति है. साथ ही उन्होंने कहा कि वह पार्टी पर जो आरोप लगा रहे हैं वह सही नहीं है. पार्टी अपनी नीतियों पर लगातार आगे बढ़ रही है.

दलितों के साथ भोजन करने से हम पवित्र हो जायेंगे: उमा भारती

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : bihar-ex-speaker-uday-narayan-choudhary-resign-from-jdu

Related posts

जब तक मंदिर पूरा नहीं होगा तब तक हमारा आंदोलन चलता रहेगा: भैयाजी जोशी 

UP ORG DESK

यूपी सहित देश के कई डिप्टी सीएम के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर

Sudhir Kumar

पीएम के अनुरोध पर सऊदी अरब के प्रिंस सऊदी जेलों में बंद 850 भारतीय कैदियों को कराएँगे रिहा

UPORG DESK 1