Home » देश » महागठबंधन पर अखिलेश ने दिया बड़ा बयान, फिर से कांग्रेस को दी जिम्मेदारी

महागठबंधन पर अखिलेश ने दिया बड़ा बयान, फिर से कांग्रेस को दी जिम्मेदारी

akhilesh yadav new statement

आगामी लोकसभा चुनावों को लेकर उत्तर प्रदेश में महागठबंधन को लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। कांग्रेस की तरफ से जहाँ इस मामले में कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई जा रही तो वहीँ बसपा सुप्रीमों मायावती ने भी साफ़ कर दिया है कि लोकसभा चुनावों में वे सम्मानजनक सीटों के बंटवारे को लेकर किसी प्रकार का कोई समझौता नहीं करेंगी। इसी क्रम में अब समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने महागठबंधन को लेकर बड़ा बयान दिया है।

कांग्रेस को दी महागठबंधन की जिम्मेदारी :

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गठबंधन पर कहा है कि कांग्रेस एक बड़ा दल है और इसलिये उसकी जिम्मेदारी है कि वह छोटे दलों को अपने साथ लेकर चले। अखिलेश यादव ने कहा कि एक समय था, जब सपा के आठ विधायक मध्यप्रदेश में थे, हमारा मत प्रतिशत भी ठीक था।

उन्होंने कहा कि हम तो चाहते थे कि कांग्रेस के साथ गठबंधन हो पर कांग्रेस को लगता है कि हममें बल नहीं है। अब गठबंधन की बात तो सिर्फ हमसे नहीं बल्कि बसपा के साथ भी करनी होगी। उन्होंने कहा कि हमारा गठबंधन छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में गोंडवाना गणतंत्र पार्टी से हो चुका है और बसपा से बात चल रही है।

भाजपा पर बोला हमला :

गुजरात में उत्तर भारतीयों के खिलाफ हो रही घटनाओं पर अखिलेश यादव ने कहा कि दोषियों पर सख्त कार्रवाई होनी चाहिए। उत्तर भारत के लोगों को वहां से निकाला जाना उचित नहीं है। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भाजपा हटाइये सुख चैन से रहिये का नारा देते हुए कहा कि भाजपा को हटा दो, समाज में प्यार मोहब्बत होगी। उन्होंने कहा कि भाजपा सोचती है कि लोग दुखी कैसे हों, रात में नोट बंदी कर दी, देश लाइन में खड़ा हो गया, जीएसटी लागू कर दी, तो व्यापारी परेशान हो गया।

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Reporter : Uttar Pradesh Desk

Related posts

PHOTOS: इस अंदाज में विराट-अनुष्का ने लिए सात फेरे, ये रही तस्वीरें

Praveen Singh

कर्नाटक चुनाव: अमित शाह का विजयपुरा में रोड शो, उमड़ा जनसैलाब

Shivani Awasthi

राज्यसभा उपसभापति चुनावः UPA उम्मीदवार पर नाखुश है समाजवादी पार्टी

Shashank

Leave a Comment