Have you ever thought why the day of narakchaudas is celebrated
June, 19 2018 12:24
फोटो गैलरी वीडियो

आपने क्या कभी सोचा हैं नरकचौदस क्यों मनाई जाती हैं!

By: Manisha Verma

Published on: Sat 29 Oct 2016 07:01 PM

Uttar Pradesh News Portal : आपने क्या कभी सोचा हैं नरकचौदस क्यों मनाई जाती हैं!

हम आपको बता दें बड़ी दिवाली के बारे में तो  लोग जानते ही होंगे कि क्यों मनाई जाती हैं लेकिन कभी छोटी दिवाली के बारे में नहीं जाना होगा छोटी दीवाली भी उतनी ही ख़ास है जितनी की बड़ी दिवाली राम जी के अयोध्या वापस आने की ख़ुशी में मनाई जाती है और छोटी दिवाली श्री कृष्ण के जीत के जश्न में मनाई जाती हैं.

छोटी दिवाली पर भी करें यें पांच कार्य :

  • आपको बता दें छोटी दिवाली पर उबटन और तेल से मसाज करना पुरानी परम्परा है.
  • आज के दिन लोग सुबह जल्दी उठकर तेल से पूरे शरीर की मालिश करते हैं.
  • ऐसा कहा जाता हैं कि  श्री कृष्ण के शरीर पर लगा नरकासुर खून साफ़ करने के लिए इन्हें उबटन लगाया गया था.
  • तभी से आज के दिन उबटन लगाने की परम्परा चली आ रहीं हैं.
  • आप नमकीन आज ही बना ले जिससे कल का काम आपके लिए थोड़ा हल्का हो जाएगा.
  • आपको बता दें घर की सजावट भी आज ही कर डाले जैसे नए पर्दें लगायें बेडशीट बदल दें.
  • घर को झालर, लाइट्स और खूबसूरत मोम्बतियों से सजाएं.
  • आप अपने रिश्तेदारों और दोस्तों को उनके घर जाकर दिवाली की बधाई व गिफ्ट्स दें सकते हैं.
  • आपका मन करें तो कुछ पटाखों का शुभारम्भ आज से ही कर दें.
  • परिवार के साथ मिलकर खुशियां मनाएं.

यह भी पढ़ें :दिवाली पर मिठाइयाँ खरीदने से पहले आप हो जाइए सावधान!

यह भी पढ़ें :मनाइए कुछ ऐसे त्योहार, बेजुबान जानवर न हो परेशान!