पाकिस्तान के चुनाव में पहली बार 3 हिंदू नेताओं ने लहराया जीत का परचम

pakistan general elections

पाकिस्तान में 25 जुलाई को आम चुनाव हुए थे जिसके नतीजों ने दुनिया भर को चौका दिया है। सत्ता में वापसी का दावा कर रही पीएमएल-एन को जनता ने पूरी तरह नकार दिया और उसके अध्यक्ष सहित कई बड़े नेता अपना चुनाव हार गए। पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की पार्टी ने इस चुनाव में भारी जीत हासिल की फिर भी वह बहुमत से काफी पीछे रह गयी है। मुस्लिम देश पाकिस्तान में कई ऐसे हिन्दू नेता भी थे जिन्होंने अपनी जीत से सभी को हैरान कर दिया है। इनकी जीत ऐसी है जिसकी चर्चाएँ पाकिस्तान से लेकर भारत तक हो रही हैं।

बेहद ख़ास रहे चुनाव के नतीजे :

पाकिस्तान के आम चुनाव के नतीजे बेहद खास रहे थे। इस चुनाव में जहां सत्तात्धारी नवाज शऱीफ की पार्टी को करारी शिकस्त मिली वहीं आंतकी हाफिज सईद की पार्टी के उम्मीदवार तो अपना खाता भी नहीं खोल पाये थे। इस चुनाव में पूर्व क्रिकेटर इमरान खान की राजनैतिक पार्टी को जहां भारी जीत हासिल हुई वहीं पाकिस्तान जैसे मुस्लिम देश में पहली बार तीन हिंदू नेता सामान्य सीट से चुने गए हैं। इनमें एक उम्मीदवार पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी (पीपीपी) के टिकट पर  नेशनल असेंबली और अन्य दो सिंध असेंबली के लिए चुनाव जीते हैं।

pakistan general elections

बिलावल भुट्टो की पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के महेश कुमार मलानी दक्षिणी सिंध प्रांत में थारपारकर सीट (एनए-222) से नेशनल असेंबली के लिए चुने गए हैं। थारपारकर में डॉ. मलानी की काफी लोकप्रियता है। वे पहले भी कई बार यहां से प्रांतीय असेंबली में चुने जाते रहे हैं।

उनकी पहुँच थारपारकर में न केवल हिंदू बल्कि मुसलमानों के बीच भी है। वे दिवंगत पूर्व पीएम बेनजीर भुट्टो के समय से पीपीपी से जुड़े रहे हैं। 55 डॉ वर्षीय मलानी पाकिस्तान के राजस्थानी पुष्करणा ब्राह्माण समुदाय से ताल्लुक रखते हैं।

pakistan general elections

2 अन्य प्रत्याशियों ने दर्ज की जीत :

पीपीपी के 2 अन्य हिंदू प्रत्याशी भी सिंध की प्रांतीय असेंबली के लिए चुने गए हैं। सिंध की मीरपुर खास-1 (पीएस-47) से हरिराम किशोरी लाल ने निकटतम प्रत्याशी एमक्यूएम पी के मुजीबुल हक को 9695 मतों से पराजित किया है। इसके अलावा पीपीपी के ही ज्ञानचंद इसरानी ने जामशोरो-2 (पीएस-81) सीट से जीत दर्ज की है। इसरानी सिंध की पिछली सरकार में आबकारी और कर मंत्री थे। सामान्य सीट से जीतने वाले तीनों हिंदू नेता पाक के पहले गैर-मुस्लिम राजनेता हैं। डॉ. महेश मलानी की यह बड़ी उपलब्धि है क्योंकि वह पहले गैर-मुस्लिम राजनीतिज्ञ हैं जो पाकिस्तान नेशनल असेंबली के चुनाव में जनरल सीट से चुने गए हैं।

pakistan general elections

Related posts

पाक सरकार के खिलाफ लाखों पश्तूनों का विरोध, FATA में अंतरराष्ट्रीय हस्तक्षेप की मांग

Shivani Awasthi

OMG: इस काम ने भिखारी को बनाया लखपति, सामने आई ऐसी तस्वीरें कि…

Praveen Singh

My Health, My Right – Theme For 2017

rashmi99rawat

Leave a Comment