Home » वरदा चक्रवर्ती तूफ़ान : तमिलनाडु में मरने वालों की संख्या 10 पहुंची!
Top News

वरदा चक्रवर्ती तूफ़ान : तमिलनाडु में मरने वालों की संख्या 10 पहुंची!

Cyclone Vardah

हाल ही में बंगाल की खाड़ी से शुरू हुआ वरदा चक्रवर्ती तूफ़ान अब चेन्नई में अपना असर दिखा रहा है. जिसके बाद यहाँ भीषण बारिश और तेज़ हवाओं का बहाव चल रहा है. बताया जा रहा है की इस तूफ़ान में अब तक मरने वालों की संख्या 10 पहुँच चुकी है.

कई जगह पलती कारेंटैंकर, गिरे पोल :

  • चक्रवाती तूफान वरदा ने तमिलनाडु में भारी तबाही मचाई है.
  • तूफान और तेज हवाओं के कारण तटीय इलाकों में जगह-जगह नुकसान हुआ है.
  • बताया जा रहा है की अब तक 10 लोगों की मौत हो चुकी है.
  • इसके अलावा आंध्र प्रदेश में भी तेज हवाओं से कई जगह कारें और टैंकर पलट गईं, पोल गिर गए हैं.
  • भारी बारिश और 100 किलोमीटर की रफ्तार वाली हवा के साथ चक्रवात वरदा बीत दिन चेन्नई तट से टकराया.
  • वरदा के कारण तेज हवाएं चलीं और भारी बारिश हो रही है.
  • बताया जा रहा है की तेज हवा से सड़कों के आस-पास लगे पेड़ उखड़ गए.
  • इसके अलावा कई गाड़ियां पेड़ों के नीचे दब गई हैं.
  • इस चक्रवात से निपटने के लिए NDRF और नौसेना की टीमें लगातार मुस्तैद हैं.
  • आंध्र प्रदेश और तमिलनाडु के तटीय इलाकों पर हाई अलर्ट जारी किया गया था.
  • हालाँकि तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में तहाबी मचाने के बाद तूफान वरदा कमजोर पड़ गया है.
  • चक्रवात तमिलनाडु से पश्चिम-दक्षिण की ओर बढ़ गया है.
  • चक्रवाती तूफान वरदा से हुई तबाही के कारण 10 लोगों की अबतक मौत हो गई है.
  • जिसके बबाद तमिलनाडु के मुख्यमंत्री पनीरसेल्वम ने मरने वालों के परिजनों को राज्य आपदा राहत कोष से 4 लाख रुपये का मुआवजा देने की घोषणा की है.
  • इसके अलावा आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू ने खाद्य सामग्री का पर्याप्त भंडार बनाए रखने के निर्देश दिए हैं.
  • आपात स्थिति के लिए बिजली के खंभे और सीमेंट भी तैयार रखने को कहा गया है.
  • आंध्र प्रदेश के नेल्लोर से मछिलीपट्नम तटवर्ती प्रान्त पर निगरानी बढ़ा दी गई है.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

बगावत के बीच शशिकला पहुंची पार्टी दफ्तर, विधायकों के साथ करेंगी बैठक!

Vasundhra

उत्कल रेल हादसा : विपक्ष ने मांग ‘प्रभु’ का इस्तीफा!

Namita

केंद्रशासित दमन-दिऊ के बाद झारखंड के दो जिलों में चार पंचायतें बनी कैशलेस!

Vasundhra