Home » तृप्ति देसाई के खिलाफ दर्ज हुआ मारपीट और रंगदारी का मामला!
Top News

तृप्ति देसाई के खिलाफ दर्ज हुआ मारपीट और रंगदारी का मामला!

tripti desai extortion case
महाराष्ट्र में सामजिक कार्यकर्ता तृप्ति देसाई और उनके पति के खिलाफ मारपीट और लूट का केस दर्ज कराया है। एक व्यक्ति ने हिंजवाड़ी पुलिस स्टेशन में सामाजिक कार्यकर्ता तृप्ति के खिलाफ रंगदारी का मामला दर्ज किया है। बता दें तृप्ति ने महिलाओं को सुप्रसिद्ध शनि मंदिर शनि शिंगणापुर और हाजी अली दरगाह में प्रवेश दिलाने के लिए आंदोलन किया था।

 यह भी पढ़ें… मुस्लिम नेता की धमकी के बावजूद तृप्ति देसाई हाजी अली दरगाह पहुंची

तृप्ति पर लगाया रंगदारी, लूट और मारपीट का आरोप :

  • पुणे की हिंजवड़ी पुलिस के मुताबिक 27 जून को सुबह 11 बजे विकास मकासरे नामक व्यक्ति अपनी कार से जा रहा था।
  • इसी दौरान बालेवाड़ी में तृप्ति देसाई, प्रशांत देसाई, सतीश देसाई, कांतीलाल गवारे और अन्य दो लोगों ने विकास को रोका और सभी ने डंडे और लोहे के राड से उसकी पिटाई की।
  • पुलिस को दी शिकायत में विकास ने तृप्ति देसाई और उनके पति पर गंभीर आरोप लगायै है।
  • कहा कि प्रशांत देसाई ने उनके गले से सवा तोले की सोने की चेन खींची और जेब में रखे 27 हजार रुपये भी लूट लिए।
  • उसके बाद तृप्ति देसाई ने धमकी दी कि अगर हमारे विरोध में कोई शिकायत दर्ज कराई तो तुम्हें झूठे मुकदमे में फंसाउंगी।
  • वहीं, तृप्ति देसाई ने सफाई दी है कि इस तरह की कोई घटना नहीं हुई है।
  • उन्होंने कहा कि उनके खिलाफ झूठा आरोप लगाया गया है।

 यह भी पढ़ें… हाईकोर्ट ने हटाया हाजी अली दरगाह में महिलाओं के प्रवेश पर लगा बैन

तृप्ति देसाई से जुड़ी जानकारी :

  • पुणे की तृप्ति देसाई भूमाता ब्रिगेड की संस्थापक अध्यक्ष हैं।
  • वह प्रसिद्ध समाजसेवी अन्ना हजारे के साथ कई सामाजिक कार्यों में हिस्सा ले चुकी हैं।
  • महाराष्ट्र के अहमदनगर शिंगणापुर स्थित शनि मंदिर में महिलाओं को प्रवेश करने और पूजा के अधिकार के लिए आंदोलन किया था।
  • इसके अलावा तृप्ति ने मुंबई के हाजी अली दरगाह, नासिक के त्रयंबकेश्वर, कपालेश्वर मंदिर और कोल्हापुर के महालक्ष्मी मंदिर में महिलाओं के प्रवेश देने की मांग को लेकर भी आंदोलन किया था।

 यह भी पढ़ें… हाजी अराफत शेख ने कहा- हाजी अली दरगाह में प्रवेश करने पर तृप्ति देसाई को मिलेगा चप्पलों का प्रसाद

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

ये शादी एक मिसाल है उन लोगों के लिए जो लड़कियों को समझते है बोझ!

Prashasti Pathak

पहले दिन रक्षामंत्री सीतारमन ने उठाए ये बड़े कदम

Namita

नोटबंदी: 50 दिन मांगे थे, 30 दिन तक कोई असर नहीं दिखा!

Kamal Tiwari

Leave a Comment