Home » 4 अप्रैल : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों हैं ख़ास!
Top News

4 अप्रैल : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों हैं ख़ास!

4th april history

भारत का इतिहास हमेशा से ही अपने-आप में एक मिसाल के तौर पर उभरा है. यहाँ पर होने वाली सभी गतिविधियाँ हमेशा से ही अपने साथ इन दिनों की महत्ता लेकर आते हैं. इस देश का इतिहास अपने-आप में एक मिसाल है और हमेशा ही रहेगा. इस देश का हर एक दिन इतना ख़ास रहा है कि यह इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है.

आज ही के दिन भारत के उत्तरपूर्वी क्षेत्र में आया था भयानक भूकंप :

  • 1905 में आज ही के दिन देश के उत्तरपूर्वी क्षेत्र में भयानक भूकंप आया था.
  • इस भूकंप के कारण करीब 10,000 के ज्यादा लोग मलबे के नीचे दब गए थे.
  • बता दें कि यह भूकंप इतना भयानक था कि धरमशाला का एक क्षेत्र पूरी तरह से तहस-नहस हो गया था.
  • इस भूकंप के कारण यहाँ पर इसका शिकार बने लोग सर्दी में बाहर ज़मीन पर सोने को मजबूर हो गए थे.
  •  यही नही इस भूकंप के कारण करीब 500 गोरखा जवान अपने बंकरों के टूट जाने से इसमें बाद कर शहीद हो गए थे.
  • बताया जाता है कि इस भूकंप की तीव्रता करीब आठ रिक्टर स्केल थी जिसने ऐसा तांडव मचाया था.

अन्य कुछ झलकियाँ :

  • 1786 में आज ही के दिन ब्रिटिश सरकार द्वारा भारत के गवर्नर जनरल वार्रिंग हंग्स्तिंग पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया था.
  • 1889 में आज ही के दिन प्रसिद्ध कवि माखनलाल चतुर्वेदी का जन्म मध्यप्रदेश में हुआ था.
  • 1990 में आज ही के दिन भारत की कोकिला लता मंगेश्वर को दादा साहेब पुरस्कार ने नवाज़ा गया था.
  • 2000 में आज ही के दिन पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपाई द्वारा संविधान.कॉम वेबसाइट का उद्घाटन किया था.
  • बता दें कि यह वेबसाइट भारत के संविधान की पूरी जानकारी देती है.
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

क्या नवाज़ शरीफ की चुप्पी करेगी पाकिस्तान का तख्ता पलट ???

Prashasti Pathak

पीएम मोदी की मन की बात का असर, अब हर रविवार पेट्रोल पंप रहेंगे बंद!

Namita

21 अप्रैल : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!

Vasundhra