Home » 21 जुलाई : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!
Top News

21 जुलाई : जानें इतिहास के पन्नों में आज का दिन क्यों है ख़ास!

21 july historical events

भारत का इतिहास हमेशा से ही अपने-आप में एक मिसाल के तौर पर उभरा है। यहाँ पर होने वाली सभी गतिविधियाँ हमेशा से ही अपने साथ इन दिनों की महत्ता लेकर आते हैं। इस देश का इतिहास अपने-आप में एक मिसाल है और हमेशा ही रहेगा। इस देश का हर एक दिन इतना ख़ास रहा है कि यह इतिहास के पन्नों में दर्ज हो गया है।

आज के दिन हुआ व्योमेश चंद्र बनर्जी का निधन :

  • व्योमेश चन्‍द्र बनर्जी भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के प्रथम अध्यक्ष और कोलकाता उच्च न्यायालय के प्रमुख वक़ील थे।
  • ये भारत में अंग्रेज़ी शासन से प्रभावित थे और उसे देश के लिये अच्छा मानते थे।
  • व्योमेश बनर्जी अंग्रेज़ी चाल-ढाल के इतने कट्टर अनुयायी थे कि इन्होंने स्वयं अपने पारिवारिक नाम ‘बनर्जी’ का अंग्रेज़ीकरण करके उसे ‘बोनर्जी’ कर दिया।
  •  इन्होंने अपने पुत्र का नाम भी ‘शेली’ रखा, जो कि अंग्रेज़ों में अधिक प्रचलित था।
  • लेकिन इतना सब कुछ होने के बाद भी हृदय से वे सच्चे भारतीय थे।
  • ‘भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस’ के 1885 ई. में हुए प्रथम अधिवेशन के वे अध्यक्ष चुने गये थे।
  • उन्हें दोबारा भी इलाहाबाद में 1892 ई. में हुए कांग्रेस अधिवेशन का अध्यक्ष बनाया गया था।
  • 1902 ई. में वे इंग्लैंड जाकर बस गये। 1906 में अपनी मृत्यु पर्यन्त भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के आंदोलन को ये बढ़ावा देते रहे।
  • 29 दिसंबर 1844 को कोलकाता में जन्में बनर्जी की मृत्यु 21 जुलाई 1906 को इंग्लैंड में हुई।

कुछ अन्य झलकियां :

  • 1658 में औरंगजेब ने अपने अनौपचारिक राज्याभिषेक का जश्न मनाया।
  • 1883 में कोलकाता में भारत के पहले सार्वजनिक थियेटर ‘हॉल स्टार थियेटर’ की शुरुआत हुई।
  • 1947 में भारत की संविधान सभा ने राष्ट्रीय ध्वज को मंजूरी दी।
  • 1963 में काशी विद्यापीठ को विश्वविद्यालय का दर्जा मिला।
  • 1977 में नीलम संजीव रेड्डी भारत के 6वें राष्ट्रपति बनें।
  • 2007 में प्रतिभा पाटिल देश की पहली महिला राष्ट्रपति बनीं।

21 जुलाई को जन्मे महान व्यक्ति : 

  • 1930 में भारतीय कवि और फ़िल्मी गीतकार आनंद बख़्शी का जन्म हुआ।
    1911 में ज्ञानपीठ पुरस्कार सम्मानित और प्रसिद्ध गुजराती साहित्यकार उमाशंकर जोशी का जन्म हुआ।

21 जुलाई को हुए निधन :

  • 1972 में भूटान के तीसरे राजा जिग्मे दोरजी वांग्चुक का निधन हुआ।
  • 2001 में प्रसिद्ध तमिल अभिनेता शिवाजी गणेशन का निधन हुआ।
  • 2009 में ‘भारतीय शास्त्रीय संगीत’ की प्रसिद्ध गायिका गंगूबाई हंगल का निधन हुआ।
UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

दिल्ली सरकार ने मज़दूरों की मासिक आय में इजाफे का एलान किया!

Prashasti Pathak

पाक की गोलीबारी का भारतीय सेना दे रही मुंहतोड़ जवाब!

Namita

‘ATM मतलब अॉल टाइम मुनाफा फ़ॉर मोदी एंड पूँजीपति गैंग’- लालू यादव!

Deepti Chaurasia