Home » जीआरपी ने तीन घटनाओं का किया खुलासा
Uttar Pradesh सब

जीआरपी ने तीन घटनाओं का किया खुलासा

charbagh railway station

ट्रेनों  और स्टेशन परिसर से यात्रियों का सामान चोरी करने वाले दो शातिरों को जीआरपी ने गिरफ्तार किया है। शातिरों की गिरफ्तारी चारबाग रेलवे स्टेशन परिसर के प्लेटफार्म नंबर एक से उस समय हुई जब यह अपने नए शिकार की तलाश में स्टेशन परिसर पहुंचे थे। इसी दौरान उनकी मौजूदगी की भनक जीआरपी को लग गई और मौके पर पहुंची जीआरपी ने दोनों को धरदबोचा।

ये भी पढ़ें : मेरठ में निर्दलीय पार्षद की गोली मारकर हत्या!

चोरी के मोबाइल बरामद

  • ट्रेनों में हो रही चोरी पर काबू पाने के लिए जीआरपी ने अपना काम शुरू कर दिया है।
  • इसी कड़ी में कार्यवाही करते हुए स्टेशन पर ताक लगाएं बैठे दो शातिर चोरों को जीआरपी ने पकड़ लिया।
  • गिरफ्तार किए गए शातिरों में पारा निवासी अरूण यादव एवं मानकनगर निवासी उमाशंकर गुप्ता शामिल हैं।
  • जीआरपी ने शातिरों के कब्जे से चोरी के तीन मोबाइल बरामद किए हैं।
  • जो यात्रा के दौरान इन शातिरों ने यात्रियों के पास से चोरी कर लिए थे।
  • जीआरपी ने दोनों शातिरों के खिलाफ कई धाराओं में मामला दर्ज कर उन्हें जेल भेज दिया है।

 रेलकर्मी गिरफ्तार

  • रेलवे के लोको वर्कशाप से इंजन के पुर्जे चोरी कर उन्हें बेचने वाले शातिर रेलकर्मी को आरपीएफ ने गिरफ्तार किया है।
  • शातिर के ऊपर रेलवे संपत्ति की चोरी के दो मामले दर्ज हैं।
  • और न्यायालय द्वारा उसके खिलाफ पूर्व में गैर जमानतीय वारंट भी जारी किया जा चुका है।
  • शातिर ज्यादातर इंजन की उन्हें कलपुर्जों की चोरी किया करता था।
  • जिसमें विशेषकर तांबा धातु का प्रयोग किया जाता था।
  • आरपीएफ के प्रभारी निरीक्षक यशवंत सिंह ने बताया कि गिरफ्तार रेल कर्मचारी का नाम प्रदीप है।
  • वह वर्कशाप में फिटर के पद पर कार्यरत है।
  • उन्होंने बताया कि प्रदीप कई बार रेलवे के इंजनों के पार्ट्स को चोरी कर अपने साथ ले जा चुका है।

ये भी पढ़ें : मनकामेश्वर घाट पर हुआ भव्य व्यास पूर्णिमा समारोह!

UTTAR PRADESH NEWS की अन्य न्यूज पढऩे के लिए Facebook और Twitter पर फॉलो करें

Related posts

देखें तस्वीरें: SLBC की बैठक में पहुंचे CM योगी!

Divyang Dixit

विश्व तंबाकू निषेध दिवस 2017: तंबाकू पर रोक लगाये सरकार!

Sudhir Kumar

VIDEO- भाजपा सांसद ने कहा यहां से सिर्फ निर्दलीय ही जीतेगा!

Sudhir Kumar