वीडियो: चीखती रही मां लेकिन प्रशासन ने सीएम से नहीं मिलने दिया!

वीडियो: चीखती रही मां लेकिन प्रशासन ने सीएम से नहीं मिलने दिया!

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा के साथ गोरखपुर (video gorakhpur) के BRD अस्पताल का निरीक्षण किया। इस दौरान गोरखपुर प्रशासन की संवेदनहीनता देखने को मिली।पूर्वांचल के गांधी क्यों कहे जाते थे बाबा राघवदास!
  • सीएम योगी अस्पताल का निरीक्षण कर रहे थे।
  • तभी आज चार साल के बच्चे की मौत के बाद पीड़ित परिवार सीएम से मिलने के लिए आगे बढ़ा।
  • अपने जिगर के
    टुकड़े
    के लिए मां गला फाड़ के चीख चिल्ला रही थी लेकिन लापरवाह प्रशासन ने पीड़ित परिवार को उनसे मिलने नहीं दिया।
  • पुलिस ने पीड़ित परिवार को सीएम से दूर कर दिया।
स्कूली बच्चों ने मनाई श्री कृष्ण जन्म अष्टमी 2017!

ऑक्सीजन सप्लाई बंद होने से हुई मौतें

  • रविवार को केंद्र और प्रदेश सरकार के दिग्गज गोरखपुर गए।
  • यहां एक सप्‍ताह के भीतर दिमागी बुखार और कथित रूप से ऑक्सीजन की सप्लाई रुकने से 60 से अधिक मरीजों की मौत हो गई थी।
निवेशकों के मसीहा बने पंकज सिंह, सीएम से की बात!
  • केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री योगी के साथ खास तौर से अस्पताल के इन्सेफलाइटिस वार्ड को देखने गए, उनके साथ सीएम योगी भी मौजूद रहे।
  • नड्डा और मुख्यमंत्री ने अस्पताल में मरीजों को देखा और डाक्टरों से बातचीत की।
  • दोनों ने अस्पताल में आक्सीजन की आपूर्ति के इंतजामों के साथ ही वहां अन्य सुविधाओं का भी जायजा लिया।
सोते समय बहनों को जिंदा जालाया, बड़ी बहन की मौत!
  • नड्डा और योगी के साथ राज्य के शिक्षा चिकित्सा मंत्री आशुतोष टंडन और मुख्य सचिव भी मौजूद थे।
  • लेकिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा के बीआरडी मेडिकल कॉलेज के दौरे से चंद मिनट पहले ही एक घटना घटी।
  • जब एक पिरवार के परिजन अपने बेटे का शव लेकर जा रहे थे।
37 और 93 रुपए के कर्जदार किसानों का ऋण माफ!
  • तो पुलिस प्रशासन ने उस पीड़ित परिवार को जल्दी जल्दी हटाने की कोशिस की।
  • लेकिन मीडिया की नजर उस पीड़ित परिवार पे पड़ी तो पुलिस के आला अधिकारी मीडिया से बात नहीं करने नहीं दिया और हटाने लगे।
पूर्वांचल: 39 साल में 25 हजार मौतें!
  • भिखारी यादव का बेटा सुमित यादव (4) पिछले 8 दिनों से भर्ती था।
  • सीएम के मेडिकल दौरे से कुछ मिनट पहले उस बच्चे की मौत हो गई है।
  • पीड़ित परिवार भाटपार रानी (video gorakhpur) का रहने वाला है।
बच्चों को बचाने के लिए डॉ. काफिल खान ने अपनी कार से ढोये सिलेंडर!https://youtu.be/IhtW5KIqhEc

Share it
Share it
Share it
Top