यूपी से बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालने का पुलिस ने शुरू किया अभियान

यूपी से बांग्लादेशी घुसपैठियों को निकालने का पुलिस ने शुरू किया अभियान

मुख्यमंत्री आदित्यनाथ योगी की क्राइम मीटिंग के बाद उत्तर प्रदेश पुलिस ने अवैध रूप से राज्य में रह रहे बांग्लादेशियों को बाहर निकलाने का अभियान शुरू कर दिया है। विदेशी नागरिकों को प्रदेश से बाहर निकालने के लिए एडीजी कानून एवं व्यवस्था ने पूरा रोडमैप तैयार कर अभियान की शुरुआत कर दी है। बता दें कि बुधवार को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानून-व्यवस्था को लेकर हुई उच्चस्तरीय बैठक बुलाई थी और इस बैठक में अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशियों की पहचान करके उन्हें बाहर निकालने का आदेश दिया गया था। (Bangladeshi infiltrators)
वीडियो: हाथरस में छापेमारी के दौरान जिला प्रशासन की टीम पर हमला

विदेशी नागरिकों के दस्तावेजों की भी जांच कर रही पुलिस

  • एडीजी कानून एवं व्यवस्था आनंद कुमार के अनुसार, प्रदेश में अवैध रूप से रह रहे विदेशी नागरिकों (बांग्लादेशियों) को हटाने के लिए अभियान चलाया जा रहा है।
  • इन बांग्लादेशी नागरिकों के
    खिलाफ
    रोड मैप तैयार करके अभियान चलाने का काम किया जा रहा है।
  • एडीजी ने कहा कि सीएम के निर्देश पर इन बांग्लादेशियों को प्रदेश से बाहर का रास्ता दिखाया जायेगा।
  • अवैध रूप से रह रहे बांग्लादेशी नागरिकों के साथ सभी अवैध विदेशी नागरिको के दस्तावेजों की भी जांच की जायेगी।
  • बता दें कि राज्य में कानून-व्यवस्था बिगाड़ने में कई जिलों के पुलिस अधिक्षकों (SP) ने इन अवैध घुसपैठियों को भी जिम्मेदार ठहराया था।
  • जिसके बाद योगी सरकार ने इनकी पहचान करके बाहर निकालने का आदेश दिया है।
RTI: यूपी की जेलों के भीतर 5 साल में 2002 की मौत

15 हजार से अधिक बांग्लादेशी घुसपैठिये हो चुके गिरफ्तार

  • गौरतलब है कि इससे पहले केंद्र सरकार अवैध घुसपैठियों को लेकर चिंता जाहिर कर चुकी है।
  • लोकसभा में गृह मंत्रालय ने लिखित जवाब में कहा था कि भारत में बांग्लादेशी नागरिकों की अवैध घुसपैठ चिंता का विषय है।
  • गृह मंत्रालय से उपलब्ध सूचना के अनुसार, पिछले तीन वर्षों और चालू वित्त वर्ष के दौरान 15 हजार से अधिक अवैध बांग्लादेशी घुसपैठिए गिरफ्तार किए जा चुके हैं।
  • वहीं इन तीन वर्षों में 1750 से अधिक बांग्लादेशी नागरिकों को देश से निर्वासित किया गया।
वीडियो: गैस रिसाव से बच्चे बीमार, हंगामा-तोड़फोड़ जारी
  • साथ ही इसी अवधि के दौरान सौ से अधिक पाकिस्तानी घुसपैठिए पकड़े गए, जिनमें से लगभग 50 घुसपैठिए पाकिस्तानी रेंजर्स को सौंपे जा चुके हैं।
  • बता दें कि राजधानी लखनऊ में भारी मात्रा में विदेशी नागरिक रह रहे हैं।
  • शहर के विभिन्न इलाकों में सैकड़ों झुग्गी-झोपड़ियों में हजारों बांग्लादेशी नागरिक अवैध रूप से रह रहे हैं। (Bangladeshi infiltrators)
  • अब देखने वाली बात ये होगी कि पुलिस इन्हें कितनी जल्दी प्रदेश से बाहर निकाल पाती है या नहीं?
वीडियो: कासगंज रेल लाइन पर ट्रेनों का संचालन पूरी तरह ठप

Share it
Share it
Share it
Top