भाजपा के लिए राजनीतिक प्रयोगशाला बन गया उत्तर प्रदेश!

 March 20, 2017 10:51 am
 7669
 0
It's only fair to share...Share on FacebookShare on Google+Tweet about this on TwitterShare on LinkedIn
1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (No Ratings Yet)
Loading...

उत्तर प्रदेश भाजपा के लिए राजनीतिक प्रयोगशाला बन गया है यह कहना कतई गलत नहीं होगा।

  • क्योंकि स्पष्ट जनादेश के बावजूद राज्य के मुखिया के चयन में हुई देरी इसका प्रमाण भी है।
  • पार्टी के भीतर इसे लेकर बहस भी चल रही थी।
  • दरअसल राज्य के नेतृत्व का स्वरूप 2019 के लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर तय किया गया है।

योगी के चयन से भाजपा ने दिया खास सन्देश

  • महंत योगी आदित्यनाथ के नए मुख्यमंत्री के रूप में चयन करके भाजपा ने यूपी में राजनीति करने वालों को एक खास संदेश दिया है।
  • उनके साथ केशव प्रसाद मौर्य और दिनेश शर्मा को डिप्टी सीएम बनाए जाने का भी अपना एक मकसद है।
  • लेकिन जनता के लिए ये बातें कोई खास मायने नहीं रखतीं।
  • यह ठीक है कि योगी आदित्यनाथ की छवि पारंपरिक राजनेताओं से नहीं मिलती।
  • उनकी भाषा-शैली लोकतांत्रिक मुहावरे को छोड़कर चलती है।
  • शायद इसीलिए उनका नाम सामने आते ही कुछ तबकों में हैरानी देखी गई।

काफी समय से राजनीति में हैं योगी

  • लेकिन किसी को यह ध्यान नहीं रहा कि योगी आज से राजनीति में नहीं है।
  • वह वर्ष 1998 से लगातार सांसद बने हुए हैं और उत्तर प्रदेश के लिए उनका चेहरा जाना-पहचाना है।
  • बहरहाल, यूपी के लोगों को इससे मतलब नहीं कि बीजेपी योगी के जरिए कौन सा दांव खेलना चाहती है।
  • उन्हें तो इस बात की प्रतीक्षा है कि नए मुख्यमंत्री आएं और कुछ कड़े फैसले करें।
  • यूपी की जनता चाहती है कि राज्य जड़ता से बाहर निकले।
  • आखिर वह भी देख रही है कि किस तरह आसपास के राज्यों ने तरक्की की है।
  • वह भी अपने राज्य को एक आधुनिक विकसित प्रदेश के रूप में देखना चाहती है।

पूर्वांचल है काफी पिछड़ा

  • पिछले कुछ वर्षों में विकास के नाम पर थोड़ा बहुत काम वेस्टर्न यूपी के कुछेक जिलों में हुआ है।
  • पूरब का क्षेत्र, जहां से खुद आदित्यनाथ आते हैं, अब भी बदहाल और पिछड़ा है।
  • वहां वर्षों से न तो कोई नया कारखाना लगा है न कोई नई परियोजना शुरू हुई है।
  • उस इलाके के बच्चे कुपोषण के शिकार हैं।
  • वहां अक्सर महामारी फैल जाती है।
  • वहां से बड़ी संख्या में नौजवानों का पलायन हो रहा है।
  • ऊपर से राज्य में अपराध का बोलबाला है।
  • कानून-व्यवस्था की स्थिति बिगड़ी हुई है।
  • आए दिन दंगे-फसाद होते रहते हैं।
  • जाहिर है, लोग इन सब से बाहर आना चाहते हैं।
  • इसलिए उन्होंने बड़ी उम्मीद के साथ मोदी के विकास के अजेंडे के पक्ष में खुलकर जनादेश दिया है।
  • इस जनादेश का सम्मान इसी तरह होगा कि समाज के हरेक तबके को सुकून के साथ शिक्षा, रोजी-रोजगार के अवसर और सम्मानपूर्ण जीवन की गारंटी मिले।
  • यही नए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की प्राथमिकता भी है।

About Sudhir Kumar

I am currently working as State Crime Reporter @uttarpradesh.org. I am an avid reader and always wants to learn new things and techniques. I associated with the print, electronic media and digital media for many years.
WHAT IS YOUR REACTION?

    LEAVE A COMMENT

    Your email address will not be published. Required fields are marked *