पंजीरी घोटाला: 42 हजार करोड़ डकारने वाले क्यों हैं आजाद?

पंजीरी घोटाला: 42 हजार करोड़ डकारने वाले क्यों हैं आजाद?

बेशर्म और बेरहम हैं उत्तर प्रदेश के अधिकारी, बच्चों के नाम पर भी हजारों करोड़ की रकम डकार गए। पुष्टाहार के नाम पर बच्चों को जो पंजीरी बांट गए, उसमें करोड़ों के कमीशन का खेल हो रहा है। वो पंजीरी पुष्टाहार नहीं बल्कि पशु आहार है। ये हकीकत सामने आई हमारे रियलिटी टेस्ट में। अब निगाहें योगी सरकार पर है कि वो पंजीरी के पापियों के खिलाफ क्या एक्शन लेती है।

ये भी पढ़ें: पूरी खबर, क्या है पंजीरी घोटाला ?

प्रदेश की राजधानी लखनऊ का रिएलटी चेक देखिए, आखिर कैसे चल रहा है पंजीरी के नाम पर बंदरबांट...https://www.youtube.com/watch?v=lrGbFOUyous&feature=youtu.beराजधानी लखनऊ के बाद अब देखिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के शहर गोरखपुर का हाल...https://www.youtube.com/watch?v=TAcNlCJairY&feature=youtu.beगोरखपुर के बाद जरा अब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी का भी हाल देख लिजिए...https://www.youtube.com/watch?v=8E018zEpqqk&feature=youtu.beमेरठ में भी पंजीरी का खेल चल रहा है, देखिए रिपोर्टhttps://www.youtube.com/watch?v=-5xBQ_fsbtw&feature=youtu.beअब हम आपको लखीमपुर जिले का हाल देखिए, कैसे पंजीरी के नाम पर खेल चल रहा है।https://www.youtube.com/watch?v=ULuqSNTrrVE&feature=youtu.be

Share it
Share it
Share it
Top