तो क्या गठबंधन की सूरत में मंच पर एक साथ दिखेंगी 'डिम्पल और प्रियंका'?

तो क्या गठबंधन की सूरत में मंच पर एक साथ दिखेंगी

उत्तर प्रदेश में सर्दी के मौसम की वजह से तापमान भले गिरता चला जा रहा है, पर सियासी पारे का आलम कुछ और ही है। एक ओर जहाँ सपा में बिखराव अब सड़कों तक आ पहुंचा है वहीँ कांग्रेस मजबूती के साथ सभी 403 सीटों पर चुनाव लड़ने की बात कर रही है। मगर क्लोज रूम बैठकों में ही सही, गठबंधन को लेकर चर्चाएं जोरों पर हैं। बिखरती सपा और खिसकती सत्ता को देखते हुए अखिलेश यादव कांग्रेस को साथ लेकर प्रदेश को अपनी मजबूती का अहसास दिलाने से नहीं चूंकना चाहेंगे।

'महिला शक्ति' दिलाएगी महिला वोट!

  • उत्तर प्रदेश में महिलाओं के वोट साधने के लिए एक मंच पर दिख सकती हैं 'प्रियंका और डिम्पल'
  • कांग्रेस-सपा के आधिकारिक गठबंधन के बाद लिया जा सकता है फैसला
  • अगर ऐसा हुआ तो 'गर्मी' थोड़ी बढ़ जाएगी

कांग्रेस का राग 'अकेले लड़ेंगे चुनाव'

  • यूपी कांग्रेस के चीफ राज बब्बर पहले ही गठबंधन की संभावनाओं से इनकार कर चुके हैं
  • कांग्रेस का कहना है वो 403 के 403 सीटों पर उतारेगी अपने उम्मीदवार
  • पर सूत्रों की मानें तो कांग्रेस के रणनीतिकार प्रशांत किशोर हैं अखिलेश के संपर्क में
फ़िलहाल चुनाव आयोग 'साइकिल' पर अंतिम फैसला 13 जनवरी को सुना सकता है, एकतरफ जहाँ सुलह की साड़ी कोशिशें नाकामयाब हो चुकी हैं वहीँ बसपा की मजबूत तैयारी को देखते हुए सपा को जल्द ही मैदान में उतारना होगा। आराम से बैठिये, फ़रवरी के पहले हफ्ते में सूबे में 'गर्मी थोड़ी बढ़ जाएगी'

Share it
Share it
Share it
Top