सूबे में न बालू न गिट्टी, फिर कैसे भर गए गड्ढे- शिवपाल यादव!

लोक निर्माण विभाग द्वारा सडकों को गड्ढा मुक्त करने के दिए गए आकंड़े पर शिवपाल यादव (shivpal yadav) ने सवाल उठाया है. गौरतलब है कि सीएम योगी द्वारा 15 जून तक सडकों को गड्ढा मुक्त करने का काम शुरू किया गया है. अब पूर्व सरकार में लोक निर्माण विभाग मंत्री रहे शिवपाल यादव ने योगी सरकार पर हमला बोला है.

सूबे में न बालू न गिट्टी, फिर कैसे भर गए गड्ढे:

  • शिवपाल यादव ने कहा कि सूबे में न बालू न गिट्टी, फिर कैसे गड्ढे भर गए.
  • उन्होंने कहा कि हमनें पूरी ताकत झोंक दी फिर भी 25 हजार किमी एक साल में सड़कें गड्ढामुक्त हुईं.
  • बीजेपी सरकार ने 2 महीने ही कैसे 76 हजार किमी सड़कों को गड्ढामुक्त कर दिया.
  • उन्होंने कहा कि अगर फिर भी सड़कें गड्ढा मुक्त हो गई हैं तो मुख्यमंत्री बधाई के पात्र हैं.
  • इसके पहले डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने विभागवार जानकारी दी थी.
  • उन्होंने कहा था कि लोक निर्माण विभाग को 85160 किमी सड़क बनानी थी.
  • विभाग ने 70030 किमी सड़कों को गड्ढा मुक्त करने का काम किया.
  • PWD ने 82% सड़क निर्माण किया और 18% सड़कें अभी भी बाक़ी है.
  • बता दें कि 15 जून तक समयसीमा पूरी होने के बाद निर्धारित काम पूरा नहीं हो सका था.
  • गोंडा और बहराइच में काम शून्य रहा था जिसपर सीएम ने जिला पंचायत से जवाब तलब किया था.

उप-मुख्यमंत्री ने दिया विभागवार गड्ढामुक्त सड़कों का ब्यौरा!

शिवपाल ने लम्बे समय बाद तोड़ी चुप्पी और कहा..

सपा के दिग्गज नेता शिवपाल यादव का बड़ा बयान सामने आया है. शिवपाल सिंह यादव (shivpal singh yadav) कानपुर में एक कार्यक्रम में शामिल होने पहुंचे थे जहाँ उन्होंने बड़ा बयान दिया:

शिवपाल यादव का बयान:

  • सपा के दिग्गज नेता शिवपाल सिंह यादव का बड़ा बयान आया है.
  • उन्होंने कहा कि बहुत जल्दी ही सेक्युलर मोर्चे का गठन किया जायेगा.
  • शिवपाल सिंह ने कहा कि पार्टी को चुनाव में बड़ा नुकसान हुआ.
  • उन्होंने कहा कि बिखराव के कारण पार्टी को हार झेलनी पड़ी.
  • इसी कारण केवल 47 सीटों पर पार्टी को जीत मिल पायी.
  • संगठित होकर चुनाव लड़ते तो परिणाम बेहतर होते.
  • समाजवादी पार्टी फिर से मजबूत होकर उभरेगी.
  • योगी सरकार के काम-काज पर पर भी उन्होंने प्रतिक्रिया व्यक्त की.
  • उन्होंने कहा कि सूबे में नयी सरकार है.
  • उसे कम से कम 6 महीने का वक्त मिलना चाहिए.
  • उन्होंने कहा कि 6 महीने का वक्त मैंने दिया है फिर कुछ कहूँगा.
  • सूबे में कानून व्यवस्था बिगड़ रही है.
  • इसपर सीएम योगी को ध्यान देना होगा.
  • इसके पहले शिवपाल ने कहा था कि रामगोपाल चुगलखोर और चापलूस व्यक्ति है.
  • हम सभी लोग मिलकर इन चुगलखोरो और चापलूसों को सबक सिखायेंगे.
  • उन्होंने कहा कि हवा में कौन है, ये बार सभी को पता है.
  • इन सभी चुगलखोरो और चापलूसों को सबक सिखाया जाएगा.

चुगलखोरों के कारण पार्टी का बेड़ा गर्क हुआ- शिवपाल सिंह यादव

उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी में यूपी विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के नेतृत्व को लेकर जो घमासान(SP feud) शुरू हुआ था वो यूपी चुनाव के बाद भी बदस्तूर जारी है। अखिलेश यादव के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद न छोड़ने के बाद से सपा में स्थिति और ख़राब हो चुकी है। वहीँ गुरुवार से पार्टी के नेता शिवपाल सिंह यादव और रामगोपाल यादव के बीच जुबानी जंग जारी है। इसी क्रम में शुक्रवार को शिवपाल सिंह यादव ने रामगोपाल यादव पर हमला बोला था, जिसके बाद शनिवार 3 जून को रामगोपाल यादव ने शिवपाल के आरोपों पर पलटवार किया था।

शिवपाल सिंह यादव का रामगोपाल यादव पर पलटवार(SP feud):

  • शनिवार की सुबह शिवपाल सिंह यादव पर रामगोपाल यादव ने पलटवार(SP feud) करते हुए आरोप लगाये थे।
  • जिसके बाद सपा नेता शिवपाल सिंह यादव ने रामगोपाल के आरोपों का जवाब दिया है।
  • इटावा में शिवपाल सिंह यादव ने मीडिया के सवालों पर कहा कि, चुगलखोरों के कारण पार्टी का बेडा गर्क हुआ है।
  • उन्होंने आगे कहा कि, सेक्युलर मोर्चा सपा को कमजोर नहीं होंगे देगा।

रामगोपाल के बयान(SP feud):

  • सपा अखिलेश के नेतृत्व में एकजुट है।
  • बयान देने वाले देते रहते हैं।
  • बयानों को कौन पूछता है।
  • गौरतलब है कि, शिवपाल यादव ने कल इटावा में रामगोपाल को चुगलखोर और चापलूस कहा था।

ये भी पढ़ें: बदायूं मेडिकल कॉलेज पर किसानों का पूर्व सरकार के खिलाफ प्रदर्शन!

सपा का आंतरिक घमासान: शिवपाल-रामगोपाल के बीच जुबानी जंग जारी!

उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी में यूपी विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी के नेतृत्व को लेकर जो घमासान(SP feud) शुरू हुआ था वो यूपी चुनाव के बाद भी बदस्तूर जारी है। अखिलेश यादव के राष्ट्रीय अध्यक्ष का पद न छोड़ने के बाद से सपा में स्थिति और ख़राब हो चुकी है। वहीँ गुरुवार से पार्टी के नेता शिवपाल सिंह यादव और रामगोपाल यादव के बीच जुबानी जंग जारी है। इसी क्रम में शुक्रवार को शिवपाल सिंह यादव ने रामगोपाल यादव पर हमला बोला था, जिसके बाद शनिवार 3 जून को रामगोपाल यादव ने शिवपाल के आरोपों पर पलटवार किया है।

सपा का आंतरिक घमासान(SP feud):

  • सपा में यूपी विधानसभा चुनाव से पहले जो घमासान(SP feud) शुरू हुआ था वो बदस्तूर जारी है।
  • जिसके बाद सपा के दोनों गुटों के नेताओं में जुबानी जंग तेज हो गयी है।
  • इसी क्रम में शिवपाल सिंह यादव और रामगोपाल यादव के बीच जुबानी जंग जारी है।
  • शनिवार को रामगोपाल यादव ने कहा कि, सपा अखिलेश के नेतृत्व में एकजुट है।
  • शिवपाल पर हमला करते हुए उन्होंने कहा कि, बयान देने वाले देते रहते हैं।
  • इसी में उन्होंने आगे जोड़ा कि, बयानों को कौन पूछता है।
  • गौरतलब है कि, शिवपाल यादव ने कल इटावा में रामगोपाल को चुगलखोर और चापलूस कहा था।

ये भी पढ़ें: मानसिक रोगों से बचाता है रक्‍तदान, जानिए इससे जुड़़े कई फायदे!

रामगोपाल यादव चुगलखोर और चापलूस हैं- शिवपाल सिंह यादव

उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी में यूपी विधानसभा चुनाव से पहले जो घमासान शुरू हुआ था, वो चुनाव बाद भी बदस्तूर जारी है। समाजवादी पार्टी में बयानों का दौर अभी भी जारी है। समाजवादी पार्टी में मौजूदा समय में शिवपाल सिंह यादव और प्रो० रामगोपाल यादव के बीच जुबानी जंग जारी है। इसी क्रम में सपा नेता शिवपाल सिंह यादव(shivpal singh yadav) ने शुक्रवार को रामगोपाल यादव पर एक बार फिर से हमला किया है।

चुगलखोर और चापलूस हैं रामगोपाल (shivpal singh yadav):

  • समाजवादी पार्टी में यूपी चुनाव से पहले शुरू हुआ विवाद एक बार फिर से उभरना शुरू हो चुका है।
  • जिसके बाद सपा में एक बार फिर से आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है।
  • इसी क्रम में शुक्रवार को शिवपाल सिंह यादव(shivpal singh yadav) ने प्रो० रामगोपाल यादव पर हमला बोला।
  • गौरतलब है कि, इससे पहले गुरुवार को रामगोपाल यादव ने शिवपाल सिंह पर हमला बोला था।
  • सपा नेता शिवपाल सिंह ने कहा कि, रामगोपाल यादव चुगलखोर और चापलूस हैं।
  • उन्होंने आगे कहा कि, हवा में कौन है ये सभी जानते हैं।

300 सीटों की घोषणा रामगोपाल ने की थी:

  • सपा नेता ने आगे कहा कि, रामगोपाल यादव ने 300 सीटों की घोषणा की थी।
  • उन्होंने आगे कहा कि, पार्टी चुगलखोरों और चापलूसों की वजह से पार्टी कमजोर हुई है।
  • शिवपाल सिंह यादव(shivpal singh yadav) ने ये भी कहा कि, चुगलखोरों-चापलूसों को सबक सिखायेंगे।

ये भी पढ़ें: एलएमआरसी को प्राप्त हुआ लखनऊ मेट्रो ट्रेन का चौथा सेट!

शिवपाल सिंह यादव की Press Conference, मोर्चे पर हो सकती है घोषणा!

उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और जसवंतनगर विधानसभा से मौजूदा विधायक शिवपाल सिंह यादव ने गुरुवार 1 जून को प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन किया है(shivpal press conference)। गौरतलब है कि, शिवपाल सिंह यादव प्रेस कांफ्रेंस में अपनी नई पार्टी को लेकर कुछ घोषणाएं कर सकते हैं।

4 वीडी पर होगी प्रेस कांफ्रेंस (shivpal press conference):

  • सपा नेता शिवपाल सिंह यादव ने गुरुवार को राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस (shivpal press conference)का आयोजन किया है।
  • प्रेस कांफ्रेंस में सपा नेता शिवपाल सिंह यादव अपनी नई पार्टी से सम्बंधित कुछ घोषणाएं कर सकते हैं।
  • प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन शिवपाल सिंह यादव के आवास 4 वीडी में आयोजित किया गया है।
  • इससे पहले शिवपाल सिंह यादव ने बुधवार को एक निजी चैनल को अपना साक्षात्कार दिया था।

नई पार्टी की घोषणा कर सकते हैं शिवपाल सिंह यादव:

  • सपा नेता शिवपाल सिंह यादव ने गुरुवार को अपने आवास 4 वीडी में प्रेस कांफ्रेंस(shivpal press conference) का आयोजन किया है।
  • जिसमें सपा नेता शिवपाल सिंह यादव अपनी नई पार्टी समाजवादी सेक्युलर मोर्चा को लेकर घोषणा कर सकते हैं।
  • ज्ञात हो कि, एक निजी चैनल को दिए साक्षात्कार में सपा नेता ने नई पार्टी के गठन की बात जुलाई में की थी।
  • साथ ही शिवपाल सिंह यादव ने यह भी कहा था कि, ये मोर्चा होगा कोई पार्टी नहीं।
  • इसके अलावा मुलायम सिंह यादव के मोर्चे के अध्यक्ष होने की बात भी शिवपाल सिंह यादव ने कही थी।

ये भी पढ़ें: CM योगी ने बुलाई ‘International Yoga Day’ की समीक्षा बैठक!

गुरुवार को 4 वीडी में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे शिवपाल सिंह यादव!

उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष और जसवंतनगर विधानसभा से मौजूदा विधायक शिवपाल सिंह यादव गुरुवार 1 जून को प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित(shivpal press conference) करेंगे। गौरतलब है कि, शिवपाल सिंह यादव प्रेस कांफ्रेंस में अपनी नई पार्टी को लेकर कुछ घोषणाएं कर सकते हैं।

आवास पर होगी प्रेस कांफ्रेंस (shivpal press conference):

  • सपा नेता शिवपाल सिंह यादव ने गुरुवार को राजधानी लखनऊ में प्रेस कांफ्रेंस (shivpal press conference)का आयोजन किया है।
  • प्रेस कांफ्रेंस में सपा नेता शिवपाल सिंह यादव अपनी नई पार्टी से सम्बंधित कुछ घोषणाएं कर सकते हैं।
  • प्रेस कांफ्रेंस का आयोजन शिवपाल सिंह यादव के आवास 4 वीडी में आयोजित किया गया है।
  • इससे पहले शिवपाल सिंह यादव ने बुधवार को एक निजी चैनल को अपना साक्षात्कार दिया था।

साक्षात्कार में सपा नेता शिवपाल सिंह यादव के संबोधन के मुख्य अंश:

  • जुलाई में समाजवादी सेक्युलर मोर्चे का गठन करूँगा।
  • पार्टी नहीं बल्कि मोर्चे का गठन होगा।
  • सपा को सही रास्ते पर लाने के लिए बनेगा मोर्चा,
  • मुलायम सिंह यादव मोर्चे के अध्यक्ष होंगे।
  • नेता जी के बिना कोई समाजवाद नहीं चल सकता है।
  • भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था बुरी तरह ख़राब है।
  • रिवरफ्रंट पर बोले शिवपाल सिंह, जब तक मैं मंत्री रहा कोई गड़बड़ी नहीं हुई।
  • बाद में क्या हुआ मुझे नहीं पता।
  • नेताजी को सम्मान मिले यही चाहता हूँ।

ये भी पढ़ें: प्रदर्शनकारियों को छुड़ाने थाने पहुंचे SP MLC, पुलिस से हुई झड़प!

सपा नेता शिवपाल सिंह यादव थाने में धरने पर बैठे!

सपा के संरक्षक मुलायम सिंह यादव के छोटे भाई और सपा नेता शिवपाल सिंह यादव लोगों को न्याय दिलाने के लिए वेदपुरा थाने में धरने पर बैठ गए तो पुलिस महकमें में हड़कंप मच गया। शिपवाल के धरने पर बैठे होने की सूचना जैसे ही पुलिस अधिकारियों को मिली तो महकमें में हड़कंप मच गया।

अगले पेज पर पढ़िये पूरी खबर:

लोगों की समस्याएं लेकर पहुंचे थाने

  • जानकारी के मुताबिक, समाजवादी पार्टी के जसवंत नगर से सपा विधायक शिवपाल सिंह यादव के पास क्षेत्रवासी अपनी काफी समस्याएं लेकर पहुंचे थे।
  • लोगों का आरोप यह है कि पुलिस उनकी कोई भी समस्याएं नहीं सुन रही है।
  • लोगों ने पुलिस के इस रवैये के बारे में सपा नेता से बताया।
  • इसके बाद शिवपाल सिंह यादव अपने समर्थकों के साथ रात 8 बजे वेदपुरा थाने पहुंचे और धरने पर बैठ गए।
  • शिवपाल वैदपुरा क्षेत्र के लोगों के साथ हुई मारपीट के मामले में पुलिस के कार्रवाई न करने से नाराज हैं।
  • इस दौरान उनके समर्थक नारेबाजी भी कर रहे थे।

थाने का दरोगा विपक्षियों से मिला हुआ

  • गांववालों की मानें तो ग्राम नगला रेंउजा थाना वैदपुरा निवासी सुधीर कुमार पुत्र बलवीर सिंह इटावा में सुदिति ग्लोबल स्कूल की बस चलाता है।
  • उसका एक भाई विश्राम सिंह सपा सरकार में लेखपाल के पद पर भर्ती हुआ था।
  • इसी बात को लेकर गांव को एक दूसरा पक्ष रामविलास, संजू और राजू उससे रंजिश मानने लगे।
  • यह लोग आए दिन उसके साथ झगड़ा फसाद करते थे।
  • वह पुलिस से शिकायत करता तो पुलिस उनकी सुनवाई नहीं करती थी।
  • उनका आरोप है कि थाने का दरोगा वीरेंद्र सिंह विपक्षियों से मिला हुआ है।
  • इसलिए पुलिस कोई कार्रवाई नहीं करती।
  • 30 अप्रैल को सुधीर अपने स्कूल की बस लेकर शाम को घर आ रहा था।
  • वैदपुरा चौराहे पर इन्हीं लोगों ने उसके साथ मारपीट कर दी। इसके बाद वह आगे चला तो नगला वरी चौराहे पर फिर पिटाई कर दी।
  • मंगलवार को वह तिरुपति मैरिज होम में शादी समारोह में शामिल होने जा रहा था। विपक्षियों ने उसके साथ फिर मारपीट की।
  • वह जब वैदपुरा थाने पहुंचा तो पुलिस ने उसकी रिपोर्ट दर्ज करने के बाद उसे ही थाने में बैठा लिया।
  • शिवपाल सिंह यादव शाम को क्षेत्र में ही घूम रहे थे।
  • उन्हें मामले की जानकारी दी गई वे तुरंत वैदपुरा थाने पहुंचे।
  • इसके बाद दोषियों पर कार्रवाई एवं पीड़ित के साथ न्याय की मांग को लेकर धरने पर बैठ गए।
  • शिवपाल सिंह की मांग है कि दोषी थाना अध्यक्ष एवं दरोगा को निलंबित कर पीड़ित के साथ न्याय किया जाए।
  • मामले की जानकारी मिलते ही एएसपी रामकिशुन यादव मौके पर पहुंचे।
  • थाना प्रभारी वेदपुरा ने बताया कि पुलिस के अधिकारी सपा नेता से बातचीत कर रहे हैं।

सपा की समीक्षा बैठक में एक बार फिर नहीं बुलाये गए शिवपाल-मुलायम!

उत्तर प्रदेश की समाजवादी पार्टी की विधानसभा चुनाव में करारी हार के बाद से पार्टी में लगातार हार पर मंथन जारी है, जिसके तहत सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार 6 अप्रैल को पार्टी में समीक्षा बैठक बुलाई थी। अखिलेश यादव की अध्यक्षता में बैठक शुरू हो चुकी है।

नहीं पहुंचे शिवपाल-मुलायम:

  • उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने गुरुवार को पार्टी कार्यालय में समीक्षा बैठक बुलाई है।
  • जिसके तहत सपा के पार्टी कार्यालय में समीक्षा बैठक शुरू हो चुकी है।
  • सपा की यह समीक्षा बैठक यूपी चुनाव में हार के कारणों पर आयोजित की गयी है।
  • गौरतलब है कि, बैठक में शिवपाल सिंह यादव और सपा संरक्षक मुलायम सिंह यादव नहीं पहुंचे हैं।
  • ज्ञात हो कि, शिवपाल-मुलायम को इस बैठक में भी नहीं बुलाया गया है।

इससे पहली हुई मीटिंग में भी नहीं बुलाये गए थे वरिष्ठ नेता:

  • यूपी की समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने गुरुवार को समीक्षा बैठक बुलाई थी।
  • बैठक में अखिलेश यादव ने एक बार फिर से शिवपाल सिंह यादव और मुलायम सिंह यादव को नहीं बुलाया।
  • ज्ञात हो कि, इससे पहले भी इटावा प्रकोष्ठ के नेताओं के साथ हुई बैठक में शिवपाल सिंह यादव को नहीं बुलाया गया था।

खिंच चुकी है लकीर:

  • अखिलेश यादव और शिवपाल सिंह यादव के बीच खाई की दूरी लगातार बढ़ रही है।
  • पार्टी में हो रही बैठकों में शिवपाल सिंह यादव को नहीं बुलाया जा रहा है।
  • इतना ही नहीं मुलायम सिंह यादव से भी दूरियां बनी हुई हैं।
  • तमाम घटनाओं पर नजर डालें तो पाएंगे कि, अखिलेश यादव अब संगठन के मामले में शिवपाल या मुलायम का हस्तक्षेप नहीं चाहते हैं।
  • जिसकी पुष्टि उन्होंने यूपी विधानसभा चुनाव से पहले ही कर दी थी।